You are currently viewing Bitcoin Mining Kya Hai  , Bitcoin Mining कैसे करते हैं

Bitcoin Mining Kya Hai  , Bitcoin Mining कैसे करते हैं

Bitcoin Mining Kya Hai  , Bitcoin Mining कैसे करते हैं Crypto Mining  क्या होता है  Bitcoin की Mining करने के लिए किन-किन जी जरूरत होती है ,  Bitcoin Mining in Hindi दोस्तों Bitcoin  की Mining करना इतना आसान नहीं है जैसे हम Traditionally देखते हैं Coal की mining की जाती है यानी उसे खदानों से निकाला जाता है तो यह मशीनों द्वारा और बहुत सारे लेबर को लगाकर किया जाता है लेकिन Bitcoin Mining को करना एक अलग प्रक्रिया है जो हम आसान भाषा में समझने वाले हैं दोस्तों Bitcoin Mining करने के लिए आपको समझना होगा कि बिटकॉइन एक डिजिटल करंसी है जो हम कंप्यूटर एंड मोबाइल के थ्रू लेनदेन कर बेच खरीद कर सकते हैं
तो इसका जो भी सिस्टम होगा वह सारा कंप्यूटर के ही ऊपर होगा , और यह सिस्टम इतना आसान नहीं है समझना , Bitcoin Mining एक ऐसा प्रोसेस है जिसको समझने के लिए आपको कंप्यूटर का ज्ञान होना जरूरी है क्योंकि इसके लिए आपको अच्छे खासे इन्वेस्टमेंट की जरूरत होती है और इस काम को शुरू करने के लिए आपके पास कोडिंग की नॉलेज होनी चाहिए, आपको बता दें अगर आपने हमारा पहले वाला blog – जिसमें ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को आसान भाषा मैं समझाया गया है क्योंकि बिटकॉइन की माइनिंग को समझने के लिए आपको उसके पीछे की क्या टेक्नोलॉजी है उसको समझना जरूरी है तो आप उसे पढ़ सकते हैं तो अब हम आगे बात कर लेते हैं Bitcoin की Mining क्या है , या यूं कहें Bitcoin Mining क्या है Bitcoin Mining कैसे करते हैं





 


बिटकॉइन माइनिंग एक highly complex computing process है जो एक secure cryptographic system बनाने के लिए complicated computer code का उपयोग करती है। सरकारों और जासूसों द्वारा use किए जाने वाले secret codes के समान, खनन के लिए उपयोग की जाने वाली mining generates Bitcoin करती है, Bitcoin transactions की सुविधा प्रदान करती है, और cryptocurrency के संपत्ति ownership को Track करती है। Bitcoin Mining Bitcoin Database को support करता है, जिसे blockchain कहा जाता है।


Bitcoin Mining Kya hai  एक Bitcoin Data Center के तरह है पर ये Decentralized system है जिसे की दुनिया भर में  Miners control करते हैं, यहाँ कोई अकेला आदमी इसे control नहीं कर सकता. इसे Decentralized system इसलिए कहा जाता है क्योंकि ये किसी एक individual से control नहीं हो सकता. यहाँ खुदाई (Gold mining) की जगह Transaction को process करने का इनाम भी मिलता है. Crypto Mining  क्या होता है या इसे कैसे करते हैं तो दोस्तों आपको बताना चाहेंगे कि दोनों एक ही है चाहे आप उसे Bitcoin Mining कहो या Cryptocurrency Mining कहो , दरअसल क्रिप्टोकरंसी में सबसे बड़ा आज की डेट में जो कॉइन है वह Bitcoin है तो इसी तरह से अगर आपको समझना है कि बिटकॉइन माइनिंग क्या है बिटकॉइन माइनिंग कैसे करते हैं बिटकॉइन माइनिंग करने के लिए किन-किन जरूरत होती है या Cryptocurrency Mining  Kya hai , Cryptocurrency Mining कैसे करें इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको आज के इस पोस्ट में मिल जाएगा

Bitcoin Mining Kya hai ? 

Bitcoin Mining Kya hai वैसे ही बड़े बड़े कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के जरिए बिटकॉइन को जेनरेट करने का कार्य करते है यानी उसको बनाया जाता है यह वह तरीका भी है जिससे नेटवर्क द्वारा नए लेनदेन की पुष्टि की जाती है और ब्लॉकचेन लेज़र के रखरखाव और विकास का एक महत्वपूर्ण घटक है। Problem का समाधान खोजने वाले पहले कंप्यूटर को बिटकॉइन के अगले block से सम्मानित किया जाता है और processफिर से शुरू होती है और एक बार प्रक्रिया शुरू होती है तो उसमें अलग-अलग blocks आपस में add जाते हैं जिनसे आप नए-नए coins generate कर सकते हैं यह प्रक्रिया इतनी आसान नहीं होती है जैसे आप कोयले की माइनिंग करते हैं उसी प्रकार bitcoin mining है

Bitcoin Mining के क्या फायदे हैं

यदि आप अकेले bitcoin Mining में interest रखते हैं, जिसे solo mining के रूप में जाना जाता है, और लाभ अर्जित करना चाहते हैं, तो आपको specialized mining hardware की आवश्यकता हो सकती है। जैसे कि आपको ऊपर बता दिया गया है कि आप को किन-किन चीजों की यानी किस तरह का कंप्यूटर आपको चाहिए, बिटकॉइन माइनिंग हालांकि आपके लैपटॉप या desktop जैसे कंप्यूटर (जो अपने बुनियादी कार्यों को संभालने के लिए केंद्रीय प्रसंस्करण इकाई चिप पर भरोसा करते हैं) का भी उपयोग किया जा सकता है। लेकिन फिर भी अगर आपको बताएं तो इसके बहुत सारे फायदे हैं क्योंकि आने वाले टाइम में लोग ज्यादातर cryptocurrency को ही खरीदेंगे और ज्यादातर एक्सचेंज यानी लेनदेन इन्हीं करंसी के रूप में करेंगे तो ऐसे में जब इनकी डिमांड ज्यादा बढ़ेगी तो आपको ज्यादा से ज्यादा Bitcoin Mining की जरूरत होगी इसके अलावा न सिर्फ बिटकॉइन बल्कि जितने भी कॉइंस हैं आप उन सभी की माइनिंग कर सकते हैं

Expensive Hardware के अलावा, आपको इंटरनेट बैंडविड्थ उपलब्धता और अपनी स्थानीय बिजली लागत पर भी विचार करना होगा। Bitcoin mining में बड़ी मात्रा में बिजली की खपत होती है। Bitcoin mining मैंBenefit के लिए, आपको अपनी छत पर कम लागत वाली बिजली या शायद solar panals तक पहुंच की आवश्यकता है। आपको एक internet service प्रदाता की भी आवश्यकता है जो एक विशिष्ट डेटा सीमा से अधिक शुल्क लिए बिना unlimited इंटरनेट uses की permission देता है।


Read More : Keyword Kya hai full explaination


Bitcoin Mining की Process क्या है?

Bitcoin Mining  एक बहुत ही बड़ा प्रोसेस है,जिसकी वजह से यह एक व्यक्ति के द्वारा कंट्रोल नहीं किया जा सकता है। इसलिए इस काम को करने के लिए बहुत सारे लोगों की जरूरत पड़ती है। बहुत सारे लोगों द्वारा किए जाने के कारण इसे Decentralized system भी कहते हैं।
अगर आपने बिटकॉइन के माध्यम से कभी किसी भी प्रकार का पेमेंट किया है। How Bitcoin mining works अपने bitcoin वॉलेट के माध्यम से अपने किसी अन्य व्यक्ति के वॉलेट में बैलेंस को ट्रांसफर किया है तो बता दें इस कार्य में बिटकॉइन Miners अहम भूमिका निभाते है।
उन्हीं के कारण आप सफलतापूर्वक ट्रांसफर कंप्लीट कर पाते हैं,यही नहीं Miners सारी डिटेल Block chain में सेव करने का जिम्मा भी उठाते हैं।
बता दें लेनदेन के अलावा Bitcoin Miners बिटकॉइन जेनरेट करने का भी कार्य करते है।

Bitcoin Mining काम कैसे करता है

वैसे ही बड़े बड़े कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के जरिए बिटकॉइन को जेनरेट करने का कार्य करते है यानी उसको बनाया जाता है यह वह तरीका भी है जिससे नेटवर्क द्वारा नए लेनदेन की पुष्टि की जाती है और ब्लॉकचेन लेज़र के रखरखाव और विकास का एक महत्वपूर्ण घटक है। Problem का समाधान खोजने वाले पहले कंप्यूटर को बिटकॉइन के अगले ब्लॉक से सम्मानित किया जाता है और प्रक्रिया फिर से शुरू होती है और एक बार प्रक्रिया शुरू होती है तो उसमें अलग-अलग blocks आपस में जुड़ जाते हैं जिनसे आप नए-नए coins generate कर सकते हैं यह प्रक्रिया इतनी आसान नहीं होती है जैसे आप कोयले की माइनिंग करते हैं उसी प्रकार bitcoin mining है

क्या Bitcoin Mining Energy का Waste है?

Bitcoin mining को इसप्रकार से design किया गया है जहाँ की समय के साथ आजकल Specialized Hardware आ चुके हैं जो की कम शक्ति का इस्तमाल करते हैं, लेकिन Bitcoin mining की cost हमेशा proportional होती है डिमांड के अनुसार. अभी नयी research चल रही है की कैसे इस mining शक्ति को कम से कम किया जाये जिससे एक Energy Efficient Bitcoin Mining System बनाया जा सके.


Read More : Metaverse Kya hai


नए Bitcoin बनाने के लिए Mining कैसे करें 

यह New Cryptocurrency को प्रचलन में जारी करने का एकमात्र तरीका है। दूसरे शब्दों में, खनिक मूल रूप से “ढलाई” मुद्रा हैं। उदाहरण के लिए, सितंबर 2021 तक, प्रचलन में लगभग 18.82 मिलियन बिटकॉइन थे, कुल 21 मिलियन में से।

नए Bitcoin earn करने के लिए, आपको किसी numeric problem के सही answer या closest answer पर पहुंचने वाले पहले miners होने की आवश्यकता है। इस process को proof of work (पीओडब्ल्यू) के रूप में भी जाना जाता है। Bitcoin Mining शुरू करने के लिए पहेली का जवाब खोजने के लिए इस प्रूफ-ऑफ-वर्क गतिविधि में शामिल होना शुरू करना है।

Bitcoin Mining Kya Hai  Miners की absense में, एक network के रूप में bitcoin mining अभी भी मौजूद होगा और प्रयोग करने able होगा, लेकिन कोई अतिरिक्त बिटकॉइन कभी नहीं होगा। हालांकि, चूंकि बिटकॉइन “Mining” की दर समय के साथ कम हो जाती है, अंतिम Bitcoin Mining वर्ष 2140 तक circulated नहीं किया जाएगा। इसका मतलब यह नहीं है कि लेनदेन सत्यापित होना बंद हो जाएगा। बिटकॉइन के नेटवर्क की अखंडता को बनाए रखने के लिए खनिक लेनदेन को सत्यापित करना जारी रखेंगे और ऐसा करने के लिए शुल्क का भुगतान किया जाएगा।


कोई Advance Maths या Calculatioin वास्तव में शामिल नहीं है। आपने सुना होगा कि Mining hard Mathmatical समस्याओं को solve कर रहे हैं – यह सच है लेकिन इसलिए नहीं कि maths स्वयं tough है। वे वास्तव में जो कर रहे हैं वह 64- digit hexadecimal number (एक “हैश”) के साथ आने वाला पहला खनिक बनने की कोशिश कर रहा है जो लक्ष्य हैश से कम या उसके बराबर है। यह मूल रूप से guess work है।

यह guesswork or randomness की बात है, लेकिन इन समस्याओं में से प्रत्येक के लिए संभावित अनुमानों की कुल संख्या order of trillions में होने के कारण, यह अविश्वसनीय रूप से कठिन काम है। और Guess solving की number केवल Mining Network  में शामिल होने वाले अधिक miners को बढ़ाती है (जिसे खनन कठिनाई के रूप में जाना जाता है)। पहले किसी समस्या को हल करने के लिए, miners को बहुत अधिक कंप्यूटिंग शक्ति की आवश्यकता होती है। सफलतापूर्वक खनन करने के लिए, आपके पास एक उच्च “”hash rate” होनी चाहिए, जिसे प्रति gigahashes per second (जीएच / एस) और terahashes per second (टीएच / एस) के संदर्भ में मापा जाता है।


Bitcoin Miners कितने पैसे कमाते हैं

Bitcoin Mining Kya Hai  दोस्तों आपको बताना चाहेंगे कि Bitcoin की Mining के लिए कोई भी पैसा नहीं मिलता है परंतु उसके Reward मिलता है Bitcoin Mining के लिए Rewards लगभग हर 4 साल में आधे से कम हो जाते हैं। 1 जब बिटकॉइन का पहली बार 2009 में Mining किया गया था, तो एक ब्लॉक को Mine करने से आपको 50 BTC प्राप्त होगा। 2012 में, इसे 25 बीटीसी तक आधा कर दिया गया था। 2016 तक, इसे फिर से आधा करके 12.5 BTC कर दिया गया। 11 मई, 2020 को इनाम फिर से आधा होकर 6.25 BTC हो गया।

जनवरी 2022 में, बिटकॉइन की कीमत लगभग $ 42,500 प्रति Bitcoin थी, जिसका मतलब है कि आपने एक  Block को पूरा करने के लिए $ 265,625 (6.25 x 42,500) Bitcoin Mining से Earn किया होगा।


Bitcoin Mining करने के लिए किन-किन चीजों जरूरत पड़ती है

हालांकि bitcoin mining के शुरुआत में Person नियमित रूप से घर पर Personal Computer के साथ compete for blocks करने में able हो सकते हैं, अब ऐसा नहीं है। इसका कारण यह है कि Bitcoin Mining की difficulty समय के साथ बदलती रहती है।

Blockchain के smooth functioning और verify transactions करने और सत्यापित करने की क्षमता सुनिश्चित करने के लिए, Bitcoin Network का target हर 10 मिनट में एक Block का produced करना है। हालांकि, अगर hash समस्या को हल करने के लिए compete करने वाले one million mining rigs हैं, तो वे उस scenario की तुलना में तेजी से solution तक पहुंचेंगे जिसमें 10 mining rigs एक ही समस्या पर काम कर रहे हैं। इस कारण से, बिटकॉइन को प्रत्येक 2,016 blocks, या मोटे तौर पर हर 2 weeks में mining की कठिनाई का evaluate और adjust करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

जब बिटकॉइन के लिए collectively रूप से काम करने के लिए अधिक Computer energy होती है, तो block produce को stable rate पर रखने के लिए खनन का difficulty level of mining बढ़ जाता है। Less computing power का मतलब है कि कठिनाई का स्तर कम हो जाता है। आज के network size में, बिटकॉइन के लिए एक personal computer mining लगभग निश्चित रूप से कुछ भी नहीं मिलेगा।

यह सब कहना है कि, mine competitively , Miners को अब एक GPU (ग्राफिक्स प्रोसेसिंग यूनिट) या अधिक realistically रूप से, एक application-specific integrated circuit (ASIC) जैसे शक्तिशाली कंप्यूटर उपकरणों में निवेश करना चाहिए। ये $500 to the tens of thousands तक चल सकते हैं। Some miners—particularly -Bitcoin Mining Kya Hai –  Ethereum miners – Mining कार्यों को एक साथ जोड़ने के लिए कम लागत वाले तरीके के रूप में individual graphics cards (जीपीयू) खरीदते हैं।


Read More : Blockchain Technology in hindi


इसे Bitcoin Mining क्यों कहा जाता है?

सिस्टम में नए Bitcoin को पेश करने के लिए खनन का उपयोग एक रूपक के रूप में किया जाता है, क्योंकि इसके लिए (कम्प्यूटेशनल) काम की आवश्यकता होती है जैसे सोने या चांदी के खनन के लिए (भौतिक) प्रयास की NEED होती है। बेशक, Miners को जो Token मिलते हैं वे Guess होते हैं और केवल Bitcoin ब्लॉकचेन के डिजिटल ledger के भीतर मौजूद होते हैं।


Bitcoin को Mining करने की आवश्यकता क्यों है?

Bitcoin Mining Kya Hai  चूंकि वे पूरी तरह से Digital Record हैं, इसलिए एक ही Coin को एक से अधिक बार Copy करने, जालसाजी करने या दो बार खर्च करने का जोखिम होता है। Mining इन समस्याओं को Solve करने के लिए इन चीजों में से किसी एक को करने या अन्यथा Network को “hack” करने का प्रयास करने के लिए इसे बेहद महंगा और संसाधन-गहन बनाकर हल करता है। वास्तव में, नेटवर्क को कमजोर करने की कोशिश करने की तुलना में खनिक के रूप में शामिल होना कहीं अधिक लागत प्रभावी है।


क्या Mining Confirms Transactions?

नए BTC को introducing में लाने के अलावा, Mined Bitcoin Blockchain पर नए transaction की verify और correction में important भूमिका निभाता है। जरूरी है क्योंकि कोई central authority नहीं है जैसे कि bank, court, government, या कुछ और जो यह decide करता है कि कौन से transaction valid हैं और कौन से नहीं हैं। इसके बजाय, mining process proof-of-work (पीओडब्ल्यू) के माध्यम से एक decentralized सहमति प्राप्त करती है।


Bitcoin Mining में इतनी बिजली का उपयोग क्यों होता है?

Bitcoin के शुरुआती दिनों में, कोई भी अपने PC या लैपटॉप से ​​Mining प्रोग्राम चला सकता था। लेकिन, जैसे-जैसे Network बड़ा होता गया और ज्यादा से ज्यादा लोग mining में interest लेते गए, mining एल्गोरिथम की कठिनाई और अधिक कठिन होती गई। ऐसा इसलिए है क्योंकि bitcoin के लिए code औसतन every 10 मिनट में एक बार एक new block खोजने का target रखता है। 1 यदि so many miners शामिल हैं, तो संभावना है कि कोई सही hash को solve करेगा, तेजी से बढ़ता है, और इसलिए उस 10- को restore करने में कठिनाई बढ़ जाती है- मिनट लक्ष्य। अब कल्पना करें कि हजारों, या लाखों गुना अधिक mining power network में शामिल हो जाती है। new machines consuming energy हैं।


क्या Bitcoin Mining Legal है?

Bitcoin Mining की legality पूरी तरह से आपकी geographic location पर निर्भर करती है। बिटकॉइन की अवधारणा fiat currencies के dominance और financial markets पर सरकार के Control को खतरा पैदा कर सकती है। इस कारण से, कुछ जगहों पर बिटकॉइन पूरी तरह से illegal है।

Bitcoin ownership और Mining अधिक से अधिक देशों में Legal है। अल्जीरिया, मिस्र, मोरक्को, बोलीविया, इक्वाडोर, नेपाल और पाकिस्तान में 2018 की रिपोर्ट के अनुसार जिन स्थानों पर यह Invalid था, उसके कुछ उदाहरण थे।

कुल मिलाकर, Bitcoin use and mining दुनिया भर में Legal है।


Bitcoin Mining Kya hai , माइनिंग कैसे करते हैं? , सबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी कौन सी है? क्रिप्टो माइनिंग क्या होता है? तो आपको हमारे इस Post  में आज बहुत ज्यादा जानकारी मिली है और इन्हीं सब जानकारी को इकट्ठा करने के लिए हमें बहुत सारी मेहनत लगी है तो आप अपने कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको यह जानकारी कैसी लगी और नेक्स्ट आप किस पर चाहते हैं जानकारी वह भी आप बता सकते हैं

Bitcoin Mining Kya Hai  , Bitcoin Mining कैसे करते हैं Crypto Mining  क्या होता है  Bitcoin की Mining करने के लिए किन-किन जी जरूरत होती है , दोस्तों Bitcoin  की Mining करना इतना आसान नहीं है

 

दरअसल क्रिप्टोकरंसी में सबसे बड़ा आज की डेट में जो कॉइन है वह Bitcoin है तो इसी तरह से अगर आपको समझना है कि बिटकॉइन माइनिंग क्या है बिटकॉइन माइनिंग कैसे करते हैं बिटकॉइन माइनिंग करने के लिए किन-किन जरूरत होती है या Cryptocurrency Mining  Kya hai , Cryptocurrency Mining कैसे करें इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको  आज की तारीख में बहुत ही ज्यादा पॉपुलर हो रहा है और इसको सीखना पहले तो कोई भी चीज बिना सीखे नहीं आती है और आज का वक्त offline से ज्यादा online हो रहा है , इसके अलावा लोग आने वाले टाइम में currency exchanges कि रूप में कई सारे ऐसे कॉइंस का इस्तेमाल कर लेंगे और जब इनकी डिमांड ज्यादा बढ़ेगी तो इसकी माइनिंग करना बहुत ज्यादा जरूरी हो जाएगा और आपको बताएं Bitcoin Mining इतनी आसान नहीं है भले ही आपको Coding आ जाए या आपके पास अच्छा खासा Computer System हो फिर भी आपको सीखने की जरूरत है कि Bitcoin Mining कैसे करते हैं, बिटकॉइन माइनिंग सीखने के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते हैं GET ARTICLES WhatsApp – 9289262048

 







 

 

 

 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Sushmit
Sushmit
8 months ago

Best content for the crypto currency inhindi hindime jo jaankari hai best hai maam