Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी

Electronic Voting Machine Kya Hai  , ईवीएम में अधिकतम कितने वोट दर्ज किए जा सकते हैं , ईवीएम का आविष्कार किस देश में हुआ ,  ईवीएम का पूर्ण नाम क्या है? ,इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी 

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन जिसे EVM भी कहते है Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन वोट डालने में सहायता करेगा।

Electronic Voting Machine Kya Hai 

 

जिससे मतदाता अपना वोट डाल सकता है। मशीन में सभी जानकारिया लिखी होगी जैसे नाम यह अन्य जानकारी होगी और यदि आप चाहते है की वोट देना तो आपके नाम के साइड वाले बटन पर क्लिक करे। और इस मशीन को 2 यूनिट का यूज़ करके बनाया गया है।

Electronic Voting Machine को किन 2 यूनिट से बनाया है।

कंट्रोल यूनिट और बैलट यूनिट से बनाया है। Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी  इन यूनिटों को केबल से एक दूसरे से जोड़ा जाता है। EVM की कंट्रोल यूनिट को मतदान अधिकारी के पास रखी जाती है। बैलेटिंग यूनिट को मतदाताओं द्वारा मत डालने के लिए वोटिंग कंपार्टमेंट के पास रखा जाता है।और यह केवल इसलिए किया गया है जिससे समुदाय अपना उम्मीदवार चुन सके। और ऐसे में कई लोगी के मन में यह सवाल आया है की आखिरकार EVM को किसके द्वारा बनाया गया है। तो चलिए इसके बारे में भी जान लेते है।





 

< Quantum Computer Kya Hai

< Hyperloop Kya Hai और कैसे काम करता है।

<  Computer Speakers Kya Hai और इसके प्रकार जानिए विस्तार से।

EVM का उपयोग करने के फायदे

यादि अपने देखा होगा की आप मतदान के लिए जाते है तो आपको कितना समय बेकार होता है घंटो आपको इंतज़ार करना होता है। और आपको लाइन में भी लग पड़ता है। और ऐसा माना गया है कई लोगो को यह मशीन काफी हद तक पसंद आया है। और ऐसा कहा गया है की इस मशीन से जल्द ही काम हो जाता है। इसके परिणामस्‍वरूप कागज, छपाई, परिवहन, भंडारण और वितरण की लागत के हिसाब से भारी बचत होती है। Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी अनपढ़ लोग इसे ज्यादा बेहतर रूप से इस्तमाल कर सकते हैं इसमें voting के हेर फेर होने के संभावनाएं बहुत ही कम होती है और चोरी जैसी समस्याएं भी कम ही होती है।

इलेक्ट्रॉनिक मतदान मशीन का इस्तमाल कैसे करे

तो जानलेते है कैसे यूज़ कर सकते है कई लोगो के मन में यहां सवाल आ जाता है की यदि हमने कभी किसी भी Electronic Voting Machine से काम नहीं किया तो ऐसे में हम कैसे कर पाएंगे। Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी तो दोस्तों आज में आपको आसान तरीके से बताने वाली हूँ। तो जान लेते है।

इसमें EVM की control unit booth की presiding officer या polling officer के पास होती है, वहीँ balloting Unit को voting compartment के पास place किया जाता है. उस balloting unit में blue buttons होते हैं और उनके सामने horizontally labelled किया जाता है corresponding party symbol को और उनके नाम.लिखा होगा।

वहीँ Control Unit उस booth के officer in-charge को एक सुविधा प्रदान करता है जिससे वो एक “Ballot” marked button को control करते हैं Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी

जिससे दूसरा व्यक्ति आ सके वोट डालने के लिए। वे ballot unit को next vote देने के लिए allow करता है जो की queue में खड़े हुए होते हैं. इसमें voter को अपना vote cast करने के लिए सामने blue button को एक बार press करना होता है उस balloting unit में और इसके लिए वो सामने स्थित candidate और उनके symbol का मदद ले सकते हैं।

जैसे ही कोई voter vote कर देता है, Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी  तब Polling Officer in-charge उस Control Unit की ‘Close’ Button को press कर देता है. ऐसे होने से EVM lock हो जाता है Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी अगली vote लेने से पहले आगे poll के close हो जाने के बाद, Balloting Unit को disconnect कर दिया जाता है Control Unit से और उन्हें separately रखा जाता है. Votes को record किया जाता है Balloting Unit के द्वारा जब polling समाप्त हो जाती है

EVM (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) का निर्वाचनों में पहली बार कब इस्तेमाल किया गया था?

 EVM का पहली बार 1982 में केरल के 70-पारुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में इस्तेमाल किया गया था

जिन क्षेत्रों में बिजली नहीं है, वहां EVM का उपयोग कैसे किया जा सकता है?

EVM के लिए बिजली की आवश्यकता नहीं होती है। EVM भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड/इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा जोड़ी गई एक साधारण बैटरी पर चलती है।

EVM में अधिकतम कितने वोट दर्ज किए जा सकते हैं?

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा उपयोग की जा रही EVM (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) अधिकतम 2,000 मत दर्ज कर सकती है।







निष्कर्ष

मुझे आशा है की मैंने आप लोगों को  Electronic Voting Machine Kya Hai इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जानकारी  और कैसे काम करता है। और इसके बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करती हूँ की आप लोगों को Electronic Voting Machine के बारे में अच्छे से समझ आ गया होगा ऐसे ही यहाँ तक मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा होगा और आपको ऐसे ही आर्टिकल्स पढ़ने है। तो आपको Notifications allow करे और सपोर्ट करते रहे मेरा आप सभी निवेदन है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments