You are currently viewing Engineer Kaise Bane इंजीनियरिंग क्या है?

Engineer Kaise Bane इंजीनियरिंग क्या है?

आइए दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं इंजीनियर कैसे बने इंजीनियर बनना चाहते हैं परंतु उन्हें इंजीनियर बनने के लिए क्या एलिजिबिलिटी है Engineer Kaise Bane यह नहीं मालूम होता आज मैं आपको पूरा प्रोसीजर बताने वाली हूं इंजीनियर कैसे बने इंजीनियर बनने के लिए आपको क्या जरूरत पड़ती है कितनी फीस लगती है और कौन सा एग्जाम देना होता है पूरी जानकारी आज देने वाली है

इंजीनियर बनने की सोच रहे हैं तो स्कूल स्टूडेंट है आप अपनी 12वीं की कक्षा में साइंस स्ट्रीम लेकर इंजीनियर बन सकते हैं और ऐसा नहीं है कि सभी लोग इंजीनियर बनना चाहते हैं Engineer Kaise Bane सभी का अलग-अलग सपना होता है कोई आईएएस बनने की तैयारी करता है तो कोई एडवोकेट या फिर कोई सरकारी जॉब को हासिल करना जैसे कि आईएएस बनने के लिए यूपीएससी क्रैक करना होता है उसके बाद mains फिर इंटरव्यू ऐसे ही इंजीनियर बनने के लिए इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन के लिए छात्रों को jee mains, jee advance, gate, bitsat , cmat, wbjee, comedk uget जैसी एग्जाम की तैयारी तो नहीं होती है फिर उन्हीं के अनुसार कॉलेज में एडमिशन मिलता है





इंजीनियर बनने के लिए कुछ जरूरी चीजें

  • इंजीनियर बनने के लिए 11वीं में साइंस लीजिए
  • 12वीं मैं भी आपको साइंस किसी को पढ़ना होता है
  • इंजीनियरिंग कैसे बने इंजीनियरिंग क्या है कहां से करें इंजीनियरिंग की पढ़ाई . यह सभी जानकारी आप इस पोस्ट की मदद से जानकारी ले सकते हैं Jugadme.in

इंजीनियर कैसे बने

जैसे कि मैंने आपको बताया है कि इंजीनियर बनने के लिए आपको आपको 12वीं की कक्षा में साइंस स्ट्रीम इंजीनियर बन सकते हैं आपको बता दूं कि इसके बाद आपको इंजीनियर कॉलेज में एडमिशन लेना है और यह केवल साइंस स्ट्रीम वाले स्टूडेंट को एडमिशन देते हैं

जैसे कि भारत में इंजीनियरिंग के लिए आईआईटी और बीआईटी , एनआईटी जैसे कई बड़े कॉलेजेस मैं एडमिशन दिया जाता है इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला लेने के लिए कुछ एग्जाम को क्लियर करना होता है पहला आता है jee mains, jee advance, gate, bitsat , cmat, wbjee, comedk uget इन एग्जाम को क्लियर करना होता है इसके बाद रैंकिंग चेक करके कॉलेज में एडमिशन दिया जाता है Engineer Kaise Bane  3 साल का होता है और आप इन्हें Successfull क्लियर करते है तो आप इंजीनियर बन जाएंगे

कैरियर से संबंधित अन्य पोस्ट

MSW Course Details In Hindi Ignou

Upsc Kya Hai Kaise Crack Kare

12th Ke Baad Konsa Computer Me Konsa Course Kare

Digital Marketing Kaise Sikhe

MS Word Kya Hai

Microsoft Office Kya Hai

इंजीनियर कितने प्रकार के होते हैं

  • केमिकल इंजीनियर
  • सिविल इंजीनियर
  • बायोमेडिकल इंजीनियर और बायोकेमिकल इंजीनियरिंग
  • एनवायरर्नमेंट इंजीनियरिंग
  • न्यूक्लिअर इंजीनियरिंग
  • ओशनिक इंजीनियरिंग
  • एयरोस्पेस इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर साइंस
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक और कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग
  • अच्छे इंजीनियर मे यह खासियत होती है
  • टीम के साथ मिलकर काम करना
  • काम करने के तरीकों में सुधार लाना और आनंद लेकर काम करना
  • गणित और विज्ञान में मजबूत होते हैं

कहाँ से करें इंजीनियरिंग की पढाई?

 10 इंजीनियरिंग कॉलेजों की सूचि नीचे की तालिका में प्राप्त करें।

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने? 

12 वीं कक्षा पूरी करने के बाद आप यूजी (बी.टेक) कार्यक्रम को चुनने के लिए पूरी तरह से पात्र हैं।Engineer Kaise Bane मैकेनिकल इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए, या तो यूजी डिप्लोमा , गणित और भौतिकी योग्यता परीक्षा में अनिवार्य रूप से होना चाहिए।

कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बने?

यदि अपने अपनी 12TH साइंस के बिना की है तो आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर के क्षेत्र में प्रवेश करने के लिए एआईईईई अखिल भारतीय इंजीनियरिंग एड्मिसन के लिए एक्साम देना होता है उसे क्लियर करके Engineer Kaise Bane  आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकते है Engineer Kaise Bane और साथ ही आपको प्रोग्रामिंग भाषाएं जैसे C, C++, Java आदि सीखनी होंगी। बी.टेक करने के लिए आपको 12वीं कक्षा भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित विषयों के साथ उत्तीर्ण करनी चाहिए।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने? 

12वीं पास करने के बाद आप किसी अच्छे कंप्यूटर कॉलेज जैसे कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, बीसीए और बैचलर ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से बैचलर ऑफ कंप्यूटर की डिग्री लें, जो 4 साल का होता है।

दसवीं के बाद इंजीनियर कैसे बने? 

10वीं या 12वीं पास करने की३ बाद आप डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग में अड्मिशन ले सकते है। Engineer Kaise Bane जिन छात्रों ने इंजीनियरिंग कोर्स में डिप्लोमा पूरा कर लिया है, वे बी.टेक के लिए जा सकते हैं, जिसमें उन्हें अपनी इंजीनियरिंग पूरी करने में तीन साल लगते हैं।

12वीं के बाद इंजीनियरिंग कोर्स? 

  • B.E/B.Tech in Computer Science Engineering
  • B.E/B.Tech in Mechanical Engineering
  • B.E/B.Tech in Electronics and Communication Engineering
  • B.E/B.Tech in Electrical Engineering
  • B.E/B.Tech in Electrical and Electronics Engineering
  • B.E/B.Tech in Civil Engineering
  • B.E/B.Tech in Chemical Engineering
  • B.E/B.Tech in Information Technology
  • B.E/B.Tech in Instrumentation and Control Engineering
  • B.E/B.Tech in Electronics Engineering
  • B.E/B.Tech in Electronics and Telecommunication Engineering
  • B.E/B.Tech in Petroleum Engineering
  • B.E/B.Tech in Aeronautical Engineering
  • B.E/B.Tech in Aerospace Engineering
  • B.E/B.Tech in Automobile Engineering
  • B.E/B.Tech in Mining Engineering
  • B.E/B.Tech in Power Engineering
  • B.E/B.Tech in Production Engineering
  • B.E/B.Tech in Biotechnology Engineering
  • B.E/B.Tech in Genetic Engineering
  • B.E/B.Tech in Plastics Engineering
  • B.E/B.Tech in Food Processing and Technology
  • B.E/B.Tech in Agricultural Engineering
  • B.E/B.Tech in Environmental Engineering
  • B.E/B.Tech in Dairy Technology and Engineering
  • B.E/B.Tech in Agricultural Information Technology
  • B.E/B.Tech in Infrastructure Engineering
  • B.E/B.Tech in Motorsport Engineering
  • B.E/B.Tech in Metallurgy Engineering
  • B.E/B.Tech in Textile Engineering
  • B.E/B.Tech in Marine Engineering
  • B.E/B.Tech in Naval Architecture
  • B.E/B.Tech in Geoinformatics
  • B.E/B.Tech in Petrochemical Engineering
  • B.E/B.Tech in Polymer Engineering
  • B.E/B.Tech in Geotechnical Engineering
  • B.E /B.Tech in Nuclear Engineering
सरकारी इंजीनियर कैसे बने?

सरकारी इंजीनियर बनने के लिए आपको कॉलेज से इंजीनियरिंग की डिग्री पास करें। कई इंजीनियरिंग कॉलेज है जिससे आप अपनी रुचि के अनुसार किसी भी विभाग से डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। Engineer Kaise Bane और सरकारी नौकरियां सिविल, इलेक्ट्रिकल, कंप्यूटर इंजीनियरों के लिए उपलब्ध हैं।

क्या मास्टर या डॉक्टरेट इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करनी चाहिए?
इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री को पूरा करने के लिए दो साल की आवश्यकता होती है।

डॉक्टरेट कार्यक्रमों के लिए पांच से सात साल तक की आवश्यकता होती है, जबकि पीएचडी कार्यक्रम आमतौर पर इंजीनियरिंग क्षेत्र में अनुसंधान और शिक्षा में रुचि रखने वाले लोगों के लिए डिज़ाइन किए जाते हैं।







 

निष्कर्ष

मुझे आशा है की मैंने आप लोगों को Engineer Kaise Bane इसके फायदे के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करती हूँ की आप लोगों को Engineer Kaise Bane के बारे में एक अच्छे से समझ आ गया होगा. ऐसे ही यहाँ तक मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा होगा और आपको ऐसे ही आर्टिकल्स पढ़ने है। तो आपको Notifications allow करे और सपोर्ट करते रहे मेरा आप सभी निवेदन है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ. में मुस्कान आपसे नेक्स्ट पोस्ट में मिलती हूँ

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments