You are currently viewing Google Adsense Se Approval Kaise ले

Google Adsense Se Approval Kaise ले

Google Adsense Se Approval Kaise le ,  Google AdSense से अपने Blog को Monetize करवा के पैसे कामना हर किसी की पहली जरूरत है। आज इस ब्लॉग के माध्यम से आपलोग जानेंगे की 2022 में google adsense approve kaise kare?

Google AdSense Approval Trick in hindi?
Google Adsense Approval checklist
Google adsense approval hindime

इसीलिए आप अपने वेबसाइट में Google adsense का approval पहली बार में ही ले सकते है क्युकी अद्सेंसे के माध्यम से ही कोई भी पैसे कमा सकता है कुकी बिना पैसे के काम करते रहने से नहीं चलता , जब तक आप सिख रहे है तब तक तो चल जाता है नहीं तो नहीं , तो इसीलिए तो Blog बना कर पैसे कमाने के बहुत से तरीके है लेकिन उन सब में से सब से अच्छा है Google Adsense बिकॉज़ इससे बोहोत अच्छे से के अन्य ब्लॉगर भी पहले से ही पैसा कमा रहे है।

देखिये मुझे भी काफी दिक्कते आयी है , अप्रूवल के लिए

Google Adsense Approve kaise kare in Hindi?

देखिये आपको बतादे की गूगल हर किसी वेबसाइट को इतनी जल्दी अप्प्रोवे नहीं करते जब तक की उसमे कोई जेन्युइन काम नहीं किया हो , मेरा जेन्युइन काम से मतलब है की आपको प्रॉपर सिख कर यानी डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स हमसे सीखकर ही आगे ब्लॉग्गिंग शरू करनी है जिससे आप बोहोत जल्दी अपनी वेबसाइट का अप्रूवल ले पाएंगे , तो आगे की जानकारी आप हमसे व्हाट्सप्प के जरिये ले सकते हैतो अब बात करलेते है की अगर आपके पास पहले से ही वेबसाइट है और अप्रूवल लेना चाहते है तो इसके लिए आपको निचे दिए गए कुछ बिंदु को फॉलो करना है : –

Unique कंटेंट

यूनिक कंटेंट यानी बिलकुल नया कुछ लेख जिसमे काफी सारी जानकारी होती है , जैसे बात करे की आप एक कॉलेज में प्रोफेसर है किसी साहित्य के विषय में आप पढ़ाते है

उदाहरण : नए घर में अम्मा’ के बहाने हिंदी साहित्य में विधवा स्त्रियों के जीवन पर चर्चा

हिंदी साहित्य में विधवा स्त्रियों के जीवन पर बहुत लिखा गया है. प्रेमचंद-‘बेटों वाली विधवा’, ‘सुभागी’, ‘बूढ़ी काकी’; फणीश्वर नाथ रेणु की ‘संवदिया’; शैवाल-‘दामुल’; शिव प्रसाद की ‘कर्मनाशा की हार’; रांगेय राघव की ‘गदल’; ए. असफ़ल की ‘मनुजी तैने बरन बनाये’ और शिवमूर्ति की ‘कुच्ची का कानून’ मेरे संज्ञान में हिंदी की विधवा स्त्री पर महत्वपूर्ण कहानियां हैं. इन कहानियों में भारतीय समाज में पति की मृत्यु के बाद समाज में अरक्षित-अकेली पिता-पुत्रों और परिजनों के संरक्षण में संत्रास झेलती स्त्री की मनोदशा का अच्छा-खासा चित्रण है.
इन कहानियों में यूं तो विधवा जीवन से जुड़ी कई समस्याएं हैं पर उनमें प्रमुख समस्या है, विधवा स्त्री के निःसन्तान रहने पर पति या स्वयं की सम्पत्ति के बंटवारे को लेकर पारिवारिक कलह. यह कलह तब कितनी गहरी होती थी कि बंगाल में हिन्दू कानून ‘दायभाग’ के चलते, पति की सम्पत्ति में पत्नी को मिले अधिकार के कारण उन्हें जिंदा ना छोड़ मृत पति के साथ चिता में जिंदा ही झोंक दिया जाता था.

जो बची रहतीं उनके होते उस सम्पत्ति का क्या होता? इसका एक भयावह दृश्य हम फणीश्वर नाथ रेणु की प्रसिद्ध कहानी ‘संवदिया’ के इस वाक्य से समझ सकते हैं- “भगवान भले आदमी को ही कष्ट देते हैं. नहीं तो एक घंटे की बीमारी में बड़े भैया क्यों मरते? …बड़ी बहुरिया की देह से जवेर खींच-खींच कर बंटवारे की लीला हुई, हरगोबिन ने देखी है अपनी आंखों से द्रौपदी-चीरहरण लीला! बनारसी साड़ी को तीन टुकड़े करके बंटवारा किया था, निर्दयी भाइयों ने। बेचारी बड़ी बहुरिया!”

‘हंस’ मार्च-2021 में प्रकाशित योगिता यादव की ‘नए घर में अम्मा’ कहानी भी लगभग इससे बहुत हटकर नहीं है. अपने पति की मृत्यु के बाद निःसन्तान अम्मा की भी वही हालत है-“बाबा के जाने के बाद उनकी जमीन-जायदाद पर सब कुत्‍तों की तरह टूट पड़े. पर कलह ऐसी मची कि किसी ने न किसी को खेत-खलिहान लेने दिए, न बोने दिए. अम्‍मा ने कुनबे से बाहर वालों को जमीन जोतने-बोने को देनी चाही, तो लठ बज गए. बस तब से ये ऐसी ही खाली पड़ी है. सब की आंखों में चुभती, पर कोख में एक बीज रोपे जाने को तरसती.”

‘नए घर में अम्मा’ की त्रासदी केवल घरेलू सम्पत्ति का बंटवारा ही नहीं है. समाज में अकेली और असहाय पड़ गई स्त्री को किसी के भी भोग लेने की पितृसत्तात्मक पुरुषवादी कुंठा भी यहां हावी है. योगिता यादव ने इस सच को भी बड़े साहस के साथ कहानी में उकेरा है- “रोटी से लेकर बोटी तक सब नोंच डालते ये हैं लड़के, जो कभी अम्‍मा ने गोद खिलाए थे. अब क्‍या इस पर अम्‍मा रो भी नहीं सकतीं. ये लड़के जब जवान हो जाते हैं, तो किसी की परवाह नहीं करते. जिसका जहां दांव लगे, उसी पर हाथ साफ करते चलता बनते हैं.”

विधवा स्त्रियों के यौन शोषण की यह बात साहित्य और समाज में नई नहीं है. ‘दामुल’ की ‘महात्माइन’ जहां अपने जेठ माधो पांडेय के यौन शोषण का शिकार होती हैं. प्रेग्नेंट रहने पर रिलीजियस प्लेसेस बहाने गर्भ गिराकर घर लौट आती है. अंततः घर और सर ख़ुद अपने सिर उठाने के चक्कर में मारी जाती हैं. तो ए. असफल की ‘मनुजी तैने बरन बनाये’ कहानी की दलित विधवा लीला भी सहानुभूति के नाम पर अहीर युवक अजान के यौन शोषण का शिकार होती है.

Pages बनाये
देखिये पेजेज बनाने से लोगो को सबसे पहले तो आपकी खुदकी वेबसाइट पर एक यकीन आजाएगा , Blog आप चाहे Blogger से बनाये या WordPress से अगर आप Google AdSense से अपने ब्लॉग को monetize करवाना चाहते है तो आपके लिए ये जरुरी है की पेजेज का निर्माण करे।

  • About Us Page
  • Contact Us
  • Privacy Policy
  • Terms and Condition Page
  • डिस्क्लेमर

Google Adsense Se Approval Kaise le किसी भी वेबसाइट या Blog में भी Self signed SSL on किया है तो आपको Recheck कर सकते है जिससे आपको कन्फर्मेशन होजायेगी ,
कुछ लोग अपनी वेबसाइट के लिए Free SSL use करने के लिए Clouldflare से services लेते और वहां से self-signed SSL अपने Blog में ADD करवाते है

Domain Age
Google AdSense Approve Kaise Kare ? में domain age का भी इम्पोर्टेंस है , Domain Age का मीन्स है की अपने domain कब खरीदा था और उस domain पर अपना blog कब शुरू किया था वैसे अगर Google AdSense की बात करे तो India में Domain age कम से कम 6 Month old या उससे पहले का लिया हुआ होना चाहिए

Custom Domain
कई लोग सोचते है की फ्री में अपनी वेबसाइट बनाते है और वे Domain का use कर रहे है तो आपको Google अद्सेंसे का अप्रूवल लेने में समय लगेगा कम से कम 6 month. एक Custom Domain लेने में मुश्किल से आपको 500-700 Rs से कम का खर्चा आएगा इतना तो आपको इस लिए कमसेकम इतना छोटा सा तो इन्वेस्टमेंट कर सकते है

Mobile Friendly or Responsive Theme Use Kaise Kare
ऐसे में Google भी अपने publisher से यही चाहता है की उनके Blog और website Mobile Responsive हो जो किसी भी devices पे बड़े आराम से open हो जाये और अपने Users को great Experience दे ।

तो गूगल से अद्सेंसे अप्रूवल जल्दी पाने के लिए आपको अपने ब्लॉग में ऐसे Theme और template use करनी चाहिए जो Mobile Responsive हो fast loaded हो user friendly और Google SEO friendly हो ।

Copyright Content & Images
Google AdSense Approve Kaise Kare? देखिये कोई भी नयी वेबसाइट में जितना जरूरी हो उतना ही कॉपी कंटेंट उसे करे जयादा से ज्यादा कोशिश करे की यूनिक कंटेंट इस्तेमाल करे , जानने के लिए आपको Copyright Content & Images पर बहुत ध्यान देने की जरूरत है आपको अपने Blog में न तो कोई Copyright content लिखना है और न कोई Copyright images लगाना है।

Copyright Content का मतलब होता है जैसे की :-
आप किसी और की Website का article को copy कर के अपने blog में paste कर रहे है.
किसी English Website को copy कर के उन्हें हिंदी language में change कर के लिख रहे है

Number of Blog Post
अपने Blog को AdSense Approval के लिए भेजने से पहले कम से कम आप उस में 20-22 Article Publish कर ले अगर आप 1000-1200 words के article लिखते है तो और अगर आप 2000-2500 words के article लिखते है तो आप कम से कम 17-18 Quality article Publish करिये।  Article लिखते समय On Page SEO का ध्यान दीजिये ये आपको बाद में बहुत help करेगा और आपके user Experience को भी बढ़ाएगा।

Language
Google AdSense आज बहुत सी language को Support करता है लेकिन कुछ ऐसे languages अभी भी है जिस पर आपको अद्सेंसे अप्रूवल नहीं मिलता ।
तो कौन- कौन सी ऐसे लैंग्वेज है जिस पर गूगल अद्सेंसे अप्रूवल देता है जानने के लिए यहाँ Click करिये

User Navigation or Interface
Google एक User Friendly Search engine है जो अपने user को अच्छा experience देना चाहता है इसलिए आपको अपने Blog की design, Navigation का खास ख्याल रखना होगा ।
अगर ऐसे में आप ने सही तरीके से navigation और Interface नहीं बनाया तो भी आपको गूगल अद्सेंसे से रिजेक्शन मिल सकता है।

जैसे की:-
अगर आप ने बहुत सारे widget लगा दिए हो आपके website में जोएक दूसरे से बहुत close है
आपके दी हुए links misleading हो किसी को क्लिक करने के जगह कोई दूसरे क्लिक हो रहे हो
अगर आप ने अपने होम Page हैडर ,साइडबार ,या फुटर में category show की है तो कम से कम हर एक केटेगरी में 4 आर्टिकल तो जरूर हो
कोई भी केटेगरी मेनू widget या लिंक आप खली मत छोड़िएगा जिसको क्लिक करने से blank हो
ब्लॉग के डिज़ाइन अच्छे तरीके से डिज़ाइन करिये

Blog Traffic
Google AdSense Approve Kaise Kare? terms में वैसे तो ऐसा कोई Thumb Rule नहीं है की Google AdSense Approval पाने के लिए आपको कितना traffic चाहिए लेकिन मेरा suggestion आपको यही रहेगा की अपने Blog में कुछ organic traffic को लाये कुछ post और keywords को Google SERP में Rank करवाए उसके बाद आप AdSense के लिए Approval में अपने Blog को भेजे।

Robots.TXT
Robots.txt की सही setting करना अगर आप ने robots.txt की गलत सेटिंग की है तो Search Engine के Bots आपके website को crawl और index नहीं कर पाएंगे और शायद आपको your site unavailable और कोई google AdSense का error आ सकता है।

Publish Post Regularly
जब आप अपना Blog Google AdSense के लिए भेजे उसके बाद भी आप Post Publish करना बंद न करे । जब तक आपका AdSense application Review में है आप उसी तरीके से Article पब्लिश करिये जैसे करते आये है।

AdSense Account me Sahi Jankari de

कई बार हम अपने Blog में सब कुछ कर लेते है सब सही होने के बाद भी हमें AdSense Account का Approval क्यों नहीं मिलता?
to इसका कारण है Google AdSense Account सही तरीके से न बनाना और सही तरीके से जानकारी नहीं Fill नहीं करना।

Blogging Complete Step Checklist
Blogging Complete step Checklist में Basic Blog बनाने से ले कर Advance level तक के सभी steps को लिखा हुआ है एक बार आप इन्हे check कर लीजिये अगर आप ने ये सारे steps अच्छे से किये है तो आप बिलकुल आज ही अपने Blog और website को AdSense के लिए भेज सकते है।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
NS Article
NS Article
3 months ago

Wow your article is very nice and your Google Adsense Approve Kaise Kare information is very helpful i hope the information given in this post will give a lot of information to the users like me will get help. Thank You So Much
Contact our platform ns article to know about blogging and how to earn money.
NS Article