You are currently viewing Internet kya hai  jugadme.in 

Internet kya hai  jugadme.in 

 Internet kya hai  हेल्लो नमश्कार दोस्तों स्वागत है आपका  हमारी वेबसाइट में हम आपको हमारी वेबसाइट के जरिये बताने वाले है की इंटरनेट क्या है , उसके क्या लाभ व उपयोग क्या हो सकते है आपका बतायेगे तो आप यह जानना चाहते है तो आप सही वेबसाइट पर आये है।  

Internet kya hai  jugadme.in 

वर्तमान समय में इंटरनेट एक ऐसा शब्द हैं। जिससे सभी लोग परिचित हैं।  इंटरनेट के बिना आज जीवन की कल्पना ही नहीं की जा सकती। तो इंटरनेट को किस प्रकार परिभाषित किया जा सकता हैं तो दोस्तों बिना वक़्त गुजारे शुरू करते है आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

 Internet kya hai  

इंटरनेट, पुरे विश्व में फैला हुआ एक ऐसा नेटवर्क हैं।  जो जिसके माध्यम से एक कंप्यूटर, विश्व के किसी भी अन्य कंप्यूटर से कनेक्ट हो सकता हैं. यह इंटर कनेक्टेड कंप्यूटर्स का नेटवर्क हैं.

इंटरनेट के अंतर्गत विभिन्न प्रकार की प्रोटोकॉल तकनीकियों का उपयोग किया जाता हैं। जिससे विभिन्न कार्य किये जाते हैं। आज इंटरनेट के उपयोग को देखते हुए यह लगभग सभी शहरों और यहाँ तक की गाँवों में भी इसकी सुविधा उपलब्ध है। Internet kya hai  

इंटरनेट की खोज किसने की

इंटरनेट की खोज करना किसी एक व्यक्ति की बात नहीं थी बल्कि इसकी खोज कई वैज्ञानिकों और इंजीनियरों द्वारा की गई। 1957 में शीतकालीन युद्ध के दौरान, अमेरिका ने एक तरकीब सुझाई और एक ऐसी तकनीक बनाने का निर्णय लिया जिसके बाद आप एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर को आसानी से जोड़ने में सक्षम हो सके।  Internet kya hai  जिसका सुझाव हर किसी को अच्छा लगा और उन्होंने उसे पास कर दिया अब वो सुझाव आज के समय में काम आ रहा है। 1980 उसका नाम इंटरनेट रखा गया। इसको आजकल के समय में लोगों की लाइफलाइन कहा जाता है।

इंटरनेट कैसे काम करता हैं

इंटरनेट में कम्प्यूटर आपस में जुडे होते है, और यह वैसा ही जैसे हमारे टेलिफोन आपस में जुडे होते है। हमें अपने कम्प्यूटर को इंटरनेट से जोडने के लिए इंटरनेट सेवा प्रदाता से इंटरनेट कनेक्शन लेना पडता है।  क्योंकि ISPs इंटरनेट से जुडे होते है। यह हमे इंटरनेट से जुडने का एक रास्ता प्रदान करते है। जब हमे यह कनेक्शन मिल जाता है तो हम अपने कम्प्यूटर को इंटरनेट से जोड सकते है।

इस कनेक्शन को अपने कम्प्यूटर में केबल या वायरलेस के माध्यम से एक्सेस किया जाता है।  जब हम इंटरनेट से जुडे होते है तो यह प्रक्रिया ‘ऑनलाइन‘ होना कहलाता है।

इंटरनेट के उपयोग

अपने शुरूआत के दिनों में इंटरनेट का उपयोग सिर्फ वैज्ञानिकों द्वारा एक दूसरे को रिसर्च पेपर तथा अन्य सूचनाए साझा करने तक सीमित था। लेकिन धीरे- धीरे इंटरनेट का विकास होता गया और इसमें नई-नई तकनीक को जोडा गया। जिसका वर्तमान स्वरूप हम आज देखते है।  आधुनिक इंटरनेट हमारी जीवनशैली का हिस्सा हो गया है Internet kya hai   हमारे रोजमर्रा के लगभग सारे कार्य इंटरनेट के माध्यम से घर बैठकर किये जाने लगे है। अपने शुरूआत में इंटरनेट सिर्फ सूचनाओं के साझा करने तक सीमित था. लेकिन, वर्तमान इंटरनेट अपने पैर लगभग हर क्षेत्र में फैला चुका है. चिकित्सा से लेकर दैनिक उपयोग के सामान की खरीदी तक।

 इंटरनेट के कुछ प्रमुख क्षेत्र जहाँ इंटरनेट का उपयोग किया जाता है।

1 संप्रेषण के लिए

इंटरनेट का सबसे अधिक उपयोग हम एक दूसरे से सम्पर्क साधने के लिए करते है। इंटरनेट के द्वारा हम कभी भी और कहीं भी शीघ्रता से अपने चाहने वालो को संदेशा भेज एवं प्राप्त कर सकते है। इंटरनेट पर संदेश भेजने का एक तरीका e-Mail है। ई-मेल के अलावा सोशल मीडिया साइट्स जैसे फेसबुक, ट्वीटर, वाट्सएप, टेलिग्राम, इंस्टाग्राम आदि के जरिए हम रियल टाइम में अपने करिबियों से जुड़े रह सकते है और उनकी हर एक गतिविधि को अपनी आँखों से देखते रह सकते है।

2 खोजने के लिए

इंटरनेट को विकसित ही इसलिए किया गया था. आज से पहले कभी भी इस प्रकार सूचनाए प्राप्त करना आसान नही था।  लेकिन आज हम इंटरनेट के माध्यम से दुनिया के किसी भी कोने से जानकारीयाँ प्राप्त कर सकते है और वो भी कुछ सैकण्डों में। हम दुनिया के हर कोने की खबर घर बैठे अपने कम्प्यूटर पर ले सकते है.  Internet kya hai  इंटरनेट पर जानकारी/सूचनाएं खोजने के लिए Search Engines का उपयोग किया जाता है।

मनोरंजन के लिए

इंटरनेट का उपयोग मनोरंजन के साधन के रूप में किया जाता है. मनोरंजन के क्षेत्र मे विकल्प असीमित है. इसके माध्यम से हम फिल्में, गाने, विडियों आदि को देख तथा सुन सकते है।

पढने के शौकिन अपने मनपसंद लेखक को पढ‌ सकते है. इसके अलावा हर वक्त का मनोरंजन विडियो गेम कि दुनिया तो हमारे लिए हर वक्त खुली होती है। यूट्यूब पर लाखों मनोरंजन चैनल मौजूद है. जिनके ऊपर रोजाना कॉमेडी, शायरीयाँ, रोमेंटिक वीडियों, फिल्म डायलॉग्स, देशी कलाकारों द्वारा निर्मित विडियों, गाने आदि अपलोड किये जा रहे है. Internet kya hai   आप बिना शुल्क के फुल मनोरंजन प्राप्त कर सकते है। आपको खुद वीडियों बनाने का शौक है तो आप इसके लिए खुद का यूट्यूब चैनल शुरु करें और विडियों बनाकर अपलोड करें।  इसी तरह reel,जैसी माइक्रो वीडियों प्लैटफॉर्म्स पर भी वीडियों देखें वे बनाए जा सकते है.

खरीदी के लिए

इसे ई-व्यापार (e-Commerce) कहते है. इंटरनेट के माध्यम से बाजार को घर से ही देखा जा सकता है और अपना सामान खरीदा जा सकता है इसके द्वारा घर बैठे ही किस दुकान पर कौनसा सामान है और कौनसा नही तथा उस सामान के ढेरो विकल्प एक साथ देखकर पसंद से अपना सामान खरीद सकते है. इसके अलावा प्रचलित फैशन की जानकारी भी जुटाई जा सकती है।  Internet kya hai  अमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, पेटीएम मॉल, मिंत्रा, वालमॉर्ट, अलिबाबा, ईबे कुछ प्रचलित ऑनलाइन शॉपिंग मार्केटप्लैस है।

शिक्षा के क्षेत्र में

इसे e-Learning (ई-शिक्षा) कहते है. यह क्षेत्र तेजी से बढ रहा है. आज इंटरनेट के माध्यम से हम घर में बैठकर ही अपने लिए मनपसंद कॉलेज, स्कूल चुन सकते है। इसके अलावा हमारे पसंद के कोर्स किस कॉलेज में उपलब्ध है और उस कोर्स के बारे में सारी जानकारी यथा कोर्स की फीस, कोर्स का समयावधि आदि, यह जानकारी हम अपने कम्प्यूटर पर प्राप्त कर कर सकते है। आज ई-लर्निंग का क्षेत्र काफि विकसित हो चुका है. हम घर बैठे-बैठे ही दुनिया के बेहतरीन अध्यापकों से पढ़ सकते है। और दुनिया की टॉप युनिवर्सीटीज में एडमिशन लेकर पढ़ाई करने की सुविधा का लाभ भी ले सकते हैं।

ई-गवर्नेस के लिए

डिजिटल इंडिया कार्यक्रम इस दिशा में किया गया एक प्रयास है. जिसके तहत डिजिटल रूप में सरकारी सुविधाओं को आम जनता के लिए सुलभ करवाने का प्रयास है।

इसके परिणाम स्वरूप आज हम देखते है कि अधिकतर सरकारी सेवाएँ ऑनलाइन उपलब्ध होने लगेगी. आप राशन कार्ड, आधार कार्ड से लेकर पेंशन तथा सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ लें सकते है।

इंटरनेट के लाभ –

  • इंटरनेट का उपयोग पढ़कर इसका महत्व आपको समझ आ रहा होगा। क्योंकि इंटरनेट आज की जरुरत बन चुका है। और इसके लाभ भी है।
  • इंटरनेट के जरिए हम विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन सेवाएँ एक्सेस करने में सक्षम हो पाते हैं।
  • आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज ऑनलाइन प्राप्त कर सकते है.
  • सोशल मीडिया साइट्स के जरिए अपने परिवारजन, रिश्तेदार, दोस्त, कलिग्स के साथ जुड़े रह सकते है और उनसे बातचीत कर सकते है. साथ ही शादी-विवाह, बर्थ डे पार्टी एवं किसी अन्य इवेंट्स के फोटू, विडियों भी शेयर कर सकते है। पानी का बिल, बिजली का बिल, ट्रैन टिकट, होटल बुकिंग, टैक्सी बुकिंग आदि छोटे-मोटे कार्य अपने फोन के जरिए ही निपटा सकते है।
  • कॉलेज में एडमिशन लेना, प्रतियोगी परिक्षाओं के फॉर्म भरना, स्कॉलरशिप के फॉर्म जमा कराना जैसे कार्य बिना सरकारी दफ्तर जाए निपटाए जा सकते है।
  • किसी नए टॉपिक के बारे में जानकारी लेनी हो तो इंटरनेट इस मामले में लाइब्रेरी को मात दे रहा है. आप चलते-फिरते ही किसी भी टॉपिक के बारे में विस्तृत जानकारी मिनटों में ढूँढ़ सकते है।
  • नई जॉब ढूँढ़ने का सरल तरीका है आप पलक झपकने की देरी में लाखों जॉब अपने लिए खोज सकते है और जवाब दें सकते है।  इंटरनेट तो सूचना का महासागर है। आप जितनी दूर और गहरे जाएंगे. ज्ञान के असीमित भंडार आपको मिलते जाएंगे।
इंटरनेट के नुकसान
  • हर चीज के दो पहलू होते है. इसी तरह इंटरनेट का विकास होने से इंसान को फायदा हुआ है तो इसके कुछ हानि  भी है।
  • समय की बर्बादी – इंटरनेट पर अगर आप भटक गए तो घंटों का पता ही चलेगा।  और आपका कीमती समय इंटरनेट सर्फ करते-करते ही निकल जाएगा। और आज दोस्तों के साथ समय बिताने के बजाए इंटरनेट पर मौजूद कुड़े को देखने में बीत रहा है।
  • मुफ्त नहीं – इंटरनेट मूलभूत जरूरत बन गई है. मगर इस जरूरत को पूरा करने के लिए आपको अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी।  तभी आपको इंटरनेट कनेक्शन मिलेगा।  Internet kya hai   मेरे ख्याल से इंटरनेट को फ्री कर देना चाहिए. आप इस बारे में क्या सोचते है? कमेंट करके मुझे जरूर बताएं।
  • साइबर खतरा – इंटरनेट आजादी का पर्याय है।  इसलिए, इसके ऊपर मौजूद संसाधनों तक पहुँच आसान है । इसी सुलभता के चक्कर में साईबर खतरों का खतरा हमेशा इंटरनेट युजर पर मंडराता रहता है।
  • प्राइवेसी को नुकसान – आज प्राइवेसी सबसे बड़ी समस्या बनकर उभर रही है।  लोगों का निजी डेटा चुराकर बेचा जा रहा है. जिससे बचना बहुत जरूरी है। क्योंकि ऑनलाइन रहने पर आपका निजी डेटा ही आपकी सम्पती है।
  • वायरस हमला – आपके कम्प्यूटर, मोबाइल फोन तथा अन्य इंटरनेट युक्त डिवाइस को अपने कब्जे में करने के लिए वायरस का सहारा लिया जाता है। जिससे बचना एक आम युजर के लिए सम्भव नहीं है।
  • क्रेडिट/डेबिट कार्ड में सेंधमारी – यदि आप ऑनलाइन शॉपिंग करते है तो पेमेंट करने के लिए क्रेडिट कार्ड या फिर डेबिट कार्ड का उपयोग ही करते होंगे। मगर, हैकर इनकी जानकारी को चुराकर सैकण्डों में हमारे बैंक अकाउण्ट को खाली कर सकते है।
  • विश्वसनीयता का अभाव – इंटरनेट पर कोई भी अपनी जानकारी शेयर कर सकता है।  और विडियों बनाकर यूट्यूब पर अपलोड करके रातों-रात स्टार बनना काफी आसान है. मगर, यहीं आजादी और सुलभता इंटरनेट को कचरे का ढेर बना रही है. इसलिए विश्वसनीयता की कमी इंटरनेट पर खलती है और हर इंटरनेट स्रोत पर विश्वास नहीं किया जा सकता है.
  • विविधता लेकिन, एक्सेस नहीं – इंटरनेट दुनियाभर के लोगों को साझा मंच उपलब्ध करा रहा है. इसलिए हर क्षेत्र और भाषा में जानकारी का भंडार उपलब्ध हो गया है। मगर, इस जानकारी तक पहुँच कराने वाले टूल (सर्च इंजन) लोगों की सोच को नियंत्रित कर रहे है और उन्हे उनकी रुची तथा पसंद की जानकारी (पर्सनलाइज्ड कंटेट) खुद उपलब्ध कराने की कोशिश कर रहे है।  यह एक हद तक सही है, लेकिन हम इंसानों की सृजनात्मकता के लिए एक शांत खतरा है।

इंटरनेट क्रांति

जिस प्रकार देश में फसलों का उत्पादन बढ़ाने के लिए ‘हरित क्रांति’ आई थी, दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र को बढ़ाने के लिए ‘श्वेत क्रांति’ चलाई गयी। उसी प्रकार इस सदी में जिस प्रकार से इंटरनेट का इस्तेमाल किया जाता हैं तो ऐसा लगता हैं, मानो वर्तमान समय ‘इंटरनेट क्रांति’ का है क्योंकि इसके क्षेत्र में नित नये आविष्कार और सुविधाएँ जिस गति से आ रही हैं, तो इसका विकास सुदूर क्षेत्रों तक भी हो जाएगा. इसके अलावा भी 3G और 4G जैसी सुविधाएँ भी इस क्षेत्र में क्रांति का आभास कराती हैं.

इंटरनेट महत्व

इंटरनेट के जरिए आप कही भी बैठे हो वहां से पूरी दुनिया की चीजें सर्च कर सकते हो। इससे आप किसी बीमारी, किसी जगह तरह-तरह के खाने और भी कई चीजों के बारे में पता कर सकते हो। क्योंकि ये आपको हर तरह की सुविधा उपलब्ध कराता है।

इंटरनेट सुविधा की उपलब्धता

इंटरनेट का उपयोग इसके लिए बनाये गये विभिन्न ब्राउज़र्स द्वारा किया जा सकता हैं, जैसे -: विंडोज एक्सप्लोलर, गूगल क्रोम, मोज़िला फायरफॉक्स, आदि. जो संस्था उपभोक्ताओं को इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराती हैं, उसे इंटरनेट सर्विसेज प्रोवाइडर्स [ISP] कहते हैं. भारत में यह सुविधा देने वाली कुछ बड़ी कंपनियां हैं -:

  • बी.एस.एन.एल.,
  • वोडाफोन,
  • एयरटेल,
  • आईडिया,
  • एयरसेल.

इंटरनेट पत्रकारिता क्या है

इंटरनेट पत्रकारिता का आजकल काफी प्रचलन है। हर कोई इसपर ही काम करना पसंद करता है। इसके जरिए आप कहीं भी हो हर तरह की खबर आपके पास आसानी से पहुंच जाती है। आपको कुछ नहीं करना बस अपने फोन पर एप खोलकर किसी भी तरह की जानकारी जान सकते हैं। पत्रकारिता का सबसे अच्छा माध्यम बन गया है इंटरनेट इससे सबके काम भी आसान हो गए हैं। अब इसके जरिए आप घर पर बैठे भी अपने काम आसानी से कर सकते हैं।

इंटरनेट के उपयोग और आवश्यकता –

शिक्षा के क्षेत्र में आवश्यकता –

  • इंटरनेट का शिक्षा के विकास में  काफी  योगदान हैं. इसके लिए इसे हम निम्न प्रकार से समझ सकते हैं -:
  • परीक्षा देना :- GMAT, GRE, SAT, बैंकिंग एग्जाम और विभिन्न एंट्रेंस एग्जाम आजकल ऑनलाइन ही लिए जाते हैं.
  • ट्रेनिंग प्राप्त करना :- सॉफ्टवेयर, नेटवर्किंग, वेब टेक्नोलॉजी, कंपनी सेक्रेटरी, आदि कोर्सेज के लिए ऑनलाइन ट्रेनिंग की सुविधाएँ इंटरनेट के द्वारा ही उठाई जा सकती हैं.
  • दूरस्थ शिक्षा विभिन्न विश्वविद्यालयों [यूनिवर्सिटी] द्वारा घर बैठे शिक्षा प्राप्त करने का अवसर आपको इंटरनेट द्वारा ही प्राप्त होता हैं.

चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में –

  • इंटरनेट के माध्यम से चिकित्सा क्षेत्र में भी बहुत आसानी हो गयी हैं, जैसे -:
  • किसी मरीज का रिकॉर्ड आसानी से मिल जाता हैं और उसके उपचार में सुविधा होती हैं.
  • हॉस्पिटल का मैनेजमेंट आसान हो जाता हैं.
  • विदेशों के चिकित्सकों द्वारा घर बैठे कम खर्च में परामर्श प्राप्त करना संभव हो पाया हैं.
  • नये आविष्कारों में भी मदद मिली हैं, आदि

दोस्तों उम्मीद है आपको यह आर्टिकल काफी पसंद आया होगा , तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताये। और आपको ऐसे ही नयी जानकारी लाते रहेंगे।  और आप यह आर्टिकल को अपने दोस्तों तक जरूर पहुचाये। 

धन्यवाद।


 

Q. इन्‍टरनेट पर किये जाने वाले कार्य को कहते हैं।
a) सर्फिग (Surfing)
b) गेम्‍बलिंग (Gambling)
c) A और B दोनों
d) उपर्युक्‍त में से कोई नहीं (None of Above)

Ans : a) सर्फिग (Surfing)

Q. ई-मेल एड्रेस में से पहले वाले नाम को क्‍या कहते हैं।
a) डोमेन (Domain)
b) यूजर आई डी (User ID)
c) रेंज (Range)
d) उपर्युक्‍त में से कोई नहीं (None of Above)

Ans: b) यूजर आई डी (User ID)

Q. सही वेबसाइट हैं।
a) www.rediff.com
b) www./rediff.com
c)www./rediff!com
d) www./rediff.com

Ans ; a) www.rediff.com


Related Link:

 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments