You are currently viewing Javascript kya hai – क्या काम आती है कैसे सीखें

Javascript kya hai – क्या काम आती है कैसे सीखें

Javascript kya hai नमस्कार दोस्तों आज में आप लोगो के लिए लेकर आये है की जावास्क्रिप्ट क्या है javascript kya hai और इसी के साथ इससे जुडी जानकारी आप लोगो को देंगे और साथ ही आप हमारी इस पोस्ट को पढ़े और हमें उम्मीद है आपको जरूर पसंद आएगी और चलो अब हम शुरू करते है की जावास्क्रिप्ट क्या है JavaScript एक टेक्स्ट आधारित scripting और वेब की दुनिया में सबसे लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषा है। यह किसी भी वेब पेज में जटिल विशेषताएं लागू करने के लिए उपयोग किया जाता है।

Javascript kya hai

javascript kya hai जावास्क्रिप्ट एक हल्की प्रोग्रामिंग सरल  भाषा है और इसका इस्तेमाल वेब पेजों को इंटरैक्टिव बनाने के लिए किया जाता है. यह HTML में डायनामिक टेक्स्ट सम्मिलित कर सकता है Javascript kya hai. जावास्क्रिप्ट को ब्राउज़र की भाषा के रूप में किया जाता है. जावास्क्रिप्ट एक गतिशील कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा है. यह हल्के और सबसे अधिक वेब पृष्ठों के एक भाग के रूप में इस्तेमाल  किया जाता है जिसके कार्यान्वयन से क्लाइंट-साइड स्क्रिप्ट को उपयोगकर्ता के साथ बातचीत करने और गतिशील पृष्ठ बनाने की अनुमति मिलती है javascript kya hai. यह ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड क्षमताओं के साथ एक व्याख्या की गई प्रोग्रामिंग भाषा है. जावास्क्रिप्ट को पहले लाइवस्क्रिप्ट के रूप में जाना जाता था. क्लाइंट-साइड जावास्क्रिप्ट भाषा का सबसे सामान्य रूप है. ब्राउज़र के जरिये व्याख्या की जाने वाली कोड के लिए स्क्रिप्ट को HTML डॉक्यूमेंट द्वारा शामिल या संदर्भित किया जाना चाहिए. इसका यह मतलब है कि एक वेब पेज को स्थिर HTML की जरुरत नहीं होती है लेकिन इसमें ऐसे प्रोग्राम शामिल हो सकते हैं जो उपयोगकर्ता के साथ बातचीत करते हैं ब्राउज़र को नियंत्रित करते हैं और HTML सामग्री को गतिशील रूप से नियंत्रित करते हैं. जावास्क्रिप्ट क्लाइंट-साइड सिस्टम ट्रेडिशनल सीजीआई सर्वर-साइड स्क्रिप्ट पर कई फायदे प्रदान करता है. उदाहरण के लिए यदि उपयोगकर्ता किसी प्रपत्र फ़ील्ड में मान्य ई-मेल पता दर्ज किया है, तो आप जावास्क्रिप्ट का उपयोग कर सकते हैं.javascript kya hai

इसका अधिकतर उपयोग Game और Mobile Application Development के लिये किया जाता है. JavaScript का फायदा यह है कि ये सभी Web Browsers को समर्थन करती है.javascript kya hai


उदाहरण

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>Javascript First Example</title>

</head>

<body>

<h2>Javascript First Example</h2>

<p id=”demo”>You are now learning Tutorialsroot</p>

<button type=”button” onclick=’document.getElementById(“demo”).innerHTML

= “Hello Tutorialsroot!”‘>Click Me!</button>

</body>

</html>


Data Types

JavaScript Variables मे काफी  से Data Types को Catch कर सकते है जैसे Numbers, Strings, Objects आदि. कई ऐसी Programming Language है जिसमे जिस Type का Value आप Variable मे Store कराना चाहते है उसी Data Type का Variable भी Declare होना चाहिए.

उदाहरण के लिए C Programming Language मे यदि आप Variable मे कोई Number Store कराना चाहते है तो आपको Variable का Data Type Int Declare करना होगा आप एक Number को Store कराने के लिए Char Data Type का Variable उपयोग नहीं कर सकते.

लेकिन JavaScript मे ऐसा नहीं है JavaScript मे आप Same Variable मे हर तरह के Data Type की Value को Store करा सकते है.javascript kya hai

जावास्क्रिप्ट कब आया

Javascript kya hai  का अविष्कार ‘Brendan Eich‘ ने 1995 में किया | ये langauge ‘Java’ Programming Language से प्रेरित है | Javascript का पहला नाम ‘Marc Andreessen’ ने ‘Mocha’ रखा था | ‘Marc Andreessen’ ये Netscape के Founder है और उसी साल में उसका नाम ‘Livescript’ रखा गया और बाद में December 1995 ने Sun Microsystem द्वारा उसका नाम ‘Javascript’ रखा गया |javascript kya ha

जावास्क्रिप्ट के इस्तेमाल

  1. जावास्क्रिप्ट एक मशहूर भाषा है जिसका उपयोग आज काफी लोग कामों में किया जाता है, जावास्क्रिप्ट का उपयोग कहा होता है
  2. Web Development में जावास्क्रिप्ट का काफी अधिक उपयोग किया जाता है. इसकी सहायता से Nevigation, Image Slider, Pop Up Window आदि प्रकार के बहुत सारे Element बनाकर वेबसाइट को User Friendly बना सकते हैं.
  3. जावास्क्रिप्ट की सहायता से Web Application भी बनाये जाते हैं.
  4. Mobile Application भी जावास्क्रिप्ट की सहायता से बनते हैं.
  5. Web Server को बनाने में भी जावास्क्रिप्ट का उपयोग करते है Game बनाने में भी जावास्क्रिप्ट का उपयोग होता है.यूजर कौन सा Browser इस्तेमाल कर रहा है इसका पता लगाने के लिए भी आप जावास्क्रिप्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं.जावास्क्रिप्ट का उपयोग होता है जैसे Server Application बनाने में. पर ये महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं जहाँ जावास्क्रिप्ट का सबसे ज्यादा उपयोग होता है

जावास्क्रिप्ट के फायदे

  1. –स्पीड – ClientSide होने के कारण जावास्क्रिप्ट की स्पीड तेज है.
  2. इसकी मदद से किसी वेबसाइट को Intractive और Attractive बनाया जा सकता है.
  3. जावास्क्रिप्ट की मदद से Event Based Program बना सकते हैं. मतलब कि ऐसे Program जो किसी विशेष Event पर Execute हो.
  4. जावास्क्रिप्ट लगभग सभी प्रकार के Operating System और Browser को Support करता है.
  5. सर्वर लोड – JavaScript की स्क्रिप्ट ClientSide के लिए Write की जाती है जो ब्राउज़र के द्वारा यूजर के डिवाइस पर Execute होती है जिससे Server Request कम हो जाती है.
  6. जावास्क्रिप्ट को अन्य किसी भी Programming Language या Script के साथ Mix किया जा सकता है और इसे किसी भी File में Insert किया जा सकता है.
  7. सीखने में आसान – जावास्क्रिप्ट भाषा सीखने में आसान होती है. क्योकि इसमें Code Syntax बहुत ही Simple होता है.

जावास्क्रिप्ट कैसे चालू करें

अभी तक दोस्तों आप लोगो को मालूम चल चूका होगा की जावास्क्रिप्ट क्या है  अब हम  बतायेगे की Web Browser में JavaScript को कैसे Enable किया जा सकता है –

  • Google Chrome Browser में JavaScript कैसे Enable करें
  • सबसे पहले Chrome Browser के Menu में Setting वाले Option पर Click करें.
  • इसके बाद Privacy And Security वाले Option पर क्लिक करें.
  • इसके बाद आपको एक Site Setting का Option दिखाई देगा उस पर क्लिक करें.
  • फिर थोडा Scroll Down करने पर आपको Content वाले Option में JavaScript का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करें.
  • अंत में Allowed (Recommended) वाले बटन को On कर लीजिये.
  • इस प्रकार से आपके Chrome Browser में JavaScript Enable हो जाएगी.

JavaScript मे दो प्रकार के Data Types होते है.

  • Non-primitive (reference) Data टाइप
  • Primitive Data type

Non-primitive Data Type

Non-primitive Data Type Object, Array और RegExp भी हो सकते है. Object एक Instance को Represents करता है है जिसके जरिये से हम Numbers का इस्तेमाल कर सकते है। Array समान प्रकार की Values को Represents करने के लिए उपयोग किया जाता है. जबकि RegExp एक Regular Expression को Represents करता है.

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>Non-primitive Data Type Example</title>

</head>

<body>

<h2>Non-primitive Data Type Example</h2>

<p id=”demo”></p>

<script type=”text/javascript”>

var myVar = 100;

myVar = true;

myVar = null;

myVar = undefined;

myVar = “Steve”;

alert(myVar);

</script>

</body>

</html>


Primitive Data Type

Javascript मे पांच के प्रकार Primitive Data Type होते है और जैसे String, Number, Boolean or Null or Undefined. एक String “New”, “hello” आदि जैसे Character Sequence को Represent करने के लिए उपयोग किया जाता है संख्या उदाहरण के लिए कोई भी Value हो सकती है – 10,20,30,40 आदि.

Boolean Data Type का उपयोग किसी भी वास्तविक या गलत Representation के लिए किया जा सकता है. Undefined Data Type मे कोई भी अनिर्धारित Value हो सकती है. और Null एक Value को Represents करता है.javascript kya hai

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>Primitive Data Type Example</title>

</head>

<body>

<h2>Primitive Data Type Example</h2>

<p id=”demo”></p>

<script type=”text/javascript”>

document.getElementById(“demo”).innerHTML =

typeof “john” + “<br>” +

typeof 3.14 + “<br>” +

typeof true + “<br>” +

typeof false;

</script>

</body>

</html>


JavaScript Global Variable

JavaScript Global Variable फ़ंक्शन के बाहर Declared किया जाता है javascript kya hai और  विंडो ऑब्जेक्ट के साथ Declared किया जाता है. इसे किसी भी फंक्शन से एक्सेस किया जा सकता है.

Mozilla Firefox में JavaScript कैसे Enable करें

  • सबसे पहले Mozilla Firefox Browser को Open करें और इसके Search Bar में About:config टाइप करें और Enter Press करें.
  • इसके बाद आपके सामने एक Warning Massage आएगा उसमें I’ll Be Careful, I Promise पर क्लिक करें.
  • इसके बाद जो Search Bar Open होगा उसमें Javascript:enabled टाइप करके सर्च करें.
  • फिर इसके ऊपर Right Click करके Toggle Button दबाकर Mozilla Firefox में JavaScript Enable करें.
  • Internet Explorer में JavaScript कैसे Enable करें
  • सबसे पहले अपने Internet Explorer Browser को Open कर लें और Web Browser Menu में Tool वाले Option पर क्लिक करें.
  • इसके बाद सबसे नीचे Internet Option पर क्लिक करें.
  • फिर ऊपर Security वाले Option में जाएँ और Custom Level वाले बटन पर क्लिक करें.
  • यहाँ पर आप Scripting वाले Option को खोजें और उसे Enable कर लें.
  • इसके बाद आपके सामने एक Warning Pop Up Window खुल जाएगी जिसमें पूछा जायेगा कि क्या आप इस Zone के लिए इस Setting को Change करना चाहते हैं, तो आपको Yes वाले Option पर क्लिक करना है.
  • फिर आप Internet Option को Select करके Ok पर क्लिक करें और Window को Close कर दें.
  • अंत में आपको Refresh Button पर क्लिक करना है. इस प्रकार से आप Internet Explorer में JavaScript Enable कर सकते हैं.

जावास्क्रिप्ट ऑपरेटर्स 

एक ऑपरेटर एक निश्चित मूल्य या ऑपरेंड में हेरफेर करने में सक्षम होता है. ऑपरेटर्स का इस्तेमाल ऑपरेंड पर विशिष्ट गणितीय और तार्किक गणना करने के लिए किया जाता है. अगर सरल शब्दों में कहा जाये तो एक ऑपरेटर ऑपरेंड का संचालन करता है. जावास्क्रिप्ट संचालकों में वैल्यू की तुलना के लिए उपयोग किया जाता है अंकगणित संचालन आदि करते हैं Operators को जिन Variables पर लागु किया जाता है या जिन Variables के साथ उपयोग करते है उन सभी Variables को Operands कहा जाता है javascript kya hai


किसी दिए गए नंबर के फैक्टोरियल को खोजने के लिए जावास्क्रिप्ट कोड लिखिए

किसी दिए गए नम्बर के फैक्टोरियल को खोजने के लिए जावास्क्रिप्ट कोड लिखिए।

Answer:
<html>
<head>
</head>
<body>

<h1> Welcome to the Java Script Factorial Program </h1>
Enter a number: <input id = “no1”>
<br><br>
<button onclick = “factorial()”> Factorial </button>
<p id = “res”></p>
<script>
function factorial(){
var i, number, f;
f = 1;
number = document.getElementById(“no1”).value;
for(i = 1; i <= number; i++)
{
ff = f * i;
}
ii = i – 1;
document.getElementById(“res”).innerHTML = “The factorial of the number ” + i + ” is: ” + f ;
}
</script>
</body>
</html>


Server-Side JavaScript क्या है

ऐसी Script और  Programming जो Browser पर नहीं Server पर Run होता है उसे Server Side Scripting कहते हैं. यह Server के Files, Detabase को Access कर सकता है. Server Side Scripting के कोड को यूजर ब्राउज़र पर नहीं देख सकते हैं क्योकि यह Server में ही रहते हैं और वहीँ Execute होते हैं.

जावास्क्रिप्ट का इतिहास

जावास्क्रिप्ट का आविष्कार 1995 में Netscape Communication Corporation के Programmer Brendon Eich ने किया था. JavaScript बनाने में 10 दिन का समय लगा था.इसका आरम्भ में जावास्क्रिप्ट का नाम Mocha रखा गया था, बाद में बदलकर Livescript रखा गया. और अंत में इस Programming Language का नाम JavaScript रख दिया गया.JavaScript का अधिकारिक नाम ECMAscript दिया गया था पर लोग इसे JavaScript के नाम से ही जानते थे.

सबसे पहले दिसम्बर 1995 में Netscape Browser Version 2.0B3 में JavaScript का इस्तेमाल हुवा था आज लगभग दुनिया की बड़ी – बड़ी वेबसाइट Facebook, Google भी JavaScript का उपयोग करते हैं.

जावास्क्रिप्ट की विशेषताएं

  1. जावास्क्रिप्ट के कुछ महत्वपूर्ण Feature इसे जरूर बनाते हैं.
  2. जावास्क्रिप्ट को बिना Compile किये किसी भी Web Browser में चलाया जा सकता है.
  3. यह एक Object Oreinted Language है, लेकिन इसमें Object को हैंडल करने का तरीका जावा, C++ जैसी शुद्ध Object Oreinted Language से अलग है.
  4. JavaScript की सहायता से Dynamic Web Page बना सकते हैं.
  5. जावास्क्रिप्ट एक Case Senstive Programming Language है.
  6. यह एक Lightweight Scripting Language है.
  7. जावास्क्रिप्ट लगभग सभी Web Browser और Operating System को Support करता है.
  8. JavaScript में Event Occurence के बाद Text, Image, Table, Link आदि को Add किया जा सकता है.
  9. अन्य Programming भाषओं के अलग जावास्क्रिप्ट में Date और Time को निर्धारित करने के लिए Function हैं.
  10. जावास्क्रिप्ट का Excution काफी तेजी से होता है क्यों की यह Client Side पर Excute करता है.
  11. जावास्क्रिप्ट को ClientSide के साथ – साथ Server Side में भी उपयोग किया जाता है.
  12. तो यह थी जावास्क्रिप्ट की कुछ विशेषताएं इसके अलावा भी Javascript में बहुत सारे Feature हैं जिसके कारण यह भाषा इतनी मशहूर है.

Types of Operators

जावास्क्रिप्ट जरिये  समर्थित विभिन्न ऑपरेटर होते हैं. JavaScript मे Operators को कई भागो मे बाँटा गया है –

  • Arithmetic Operators
  • Comparison (Relational) Operators
  • Logical Operators
  • Bitwise Operators

Arithmetic Operators एक Value या Variable के रूप मे Single Value को वापस कर देते है.

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>JavaScript Arithmetic Operators</title>

</head>

<body>

<script type=”text/javascript”>

<!–

var a = 43;

var b = 20;

var c = “Test”;

var linebreak = “<br />”;

document.write(“a + b = “);

result = a + b;

document.write(result);

document.write(linebreak);

document.write(“a – b = “);

result = a – b;

document.write(result);

document.write(linebreak);

document.write(“a / b = “);

result = a / b;

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“a % b = “);

result = a % b;

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“a + b + c = “);

result = a + b + c;

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

a = ++a;

document.write(“++a = “);

result = ++a;

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

b = –b;

document.write(“–b = “);

result = –b;

document.write(result);

document.write(linebreak);

//–>

</script>

</body>

</html>


Assignment Operators

Assignment Operators का इस्तेमाल  Left Operand Value को Right Operand Value के बराबर करने के लिये किया जाता है.

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>JavaScript Assignment Operators</title>

</head>

<body>

<script type=”text/javascript”>

<!–

var a = 43;

var b = 20;

var linebreak = “<br />”;

 

document.write(“Value of a => (a = b) => “);

result = (a = b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“Value of a => (a += b) => “);

result = (a += b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“Value of a => (a -= b) => “);

result = (a -= b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“Value of a => (a *= b) => “);

result = (a *= b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“Value of a => (a /= b) => “);

result = (a /= b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“Value of a => (a %= b) => “);

result = (a %= b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

//–>

</script>

</body>

</html>


Logical Operators

Logical Operators का इस्तेमाल  दो या अधिक Conditions को Combine करने के लिये किया जाता है.

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>JavaScript Logical Operators</title>

</head>

<body>

<script type=”text/javascript”>

<!–

var a = true;

var b = false;

var linebreak = “<br />”;

 

document.write(“(a && b) => “);

result = (a && b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“(a || b) => “);

result = (a || b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“!(a && b) => “);

result = (!(a && b));

document.write(result);

document.write(linebreak);

//–>

</script>

</body>

</html>


Bitwise Operators

बिटवाइज़ ऑपरेटर ऑपरेंड पर बिटवाइज़ ऑपरेशन करते हैं. बिटवाइज़ ऑपरेटर भी Control Statements मे इस्तेमाल  किये जाते है.

<!DOCTYPE html>

<html>

<head>

<title>JavaScript Bitwise Operators</title>

</head>

<body>

<script type=”text/javascript”>

<!–

var a = 3; // Bit presentation 11

var b = 3; // Bit presentation 12

var linebreak = “<br />”;

 

document.write(“(a & b) => “);

result = (a & b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“(a | b) => “);

result = (a | b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“(a ^ b) => “);

result = (a ^ b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“(~b) => “);

result = (~b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“(a << b) => “);

result = (a << b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

 

document.write(“(a >> b) => “);

result = (a >> b);

document.write(result);

document.write(linebreak);

//–>

</script>

</body>

</html>


Related Link :    

 

People also search for

 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments