You are currently viewing Pillar Post Kya Hai

Pillar Post Kya Hai

Pillar Post Kya Hai : नमस्कार दोस्तों आज हम आपको महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले है  Pillar Post Kya Hai।और यह पिलर पोस्ट  कैसे करते है।  आज हम आपको बतायेगे और दोस्तों आप अपना Blogging चालू करने वाले है या ब्लॉग्गिंग कर रहे है तो आपके लिए यह जानकारी अति आवश्यक है।और इसकी पूर्ण जानकारी आपको हम इस आर्टिकल में देंगे आप आर्टिकल को अंत तक पढ़े।  तो दोस्तों बिना वक़्त गुजारे शरू करते है। Pillar Post Kya Hai





Pillar Post क्या है

Pillar Post, जब आप किसी ऐसे Topic पर Post तैयार करते हो जिसके कई Parts होते हैं और उन Parts के भी कई Parts होते जिन सभी पर Post तैयार की जाती हैं तो उस Topic के Main Post को ही Pillar Post कहा जाता है ।इस Pillar Post में उसकी सभी Related Posts को Internal Linking के द्वारा Connect किया जाता है जिससे Traffic को अन्य Posts पर Divert और Increase किया जा सके तथा Visitors को पूरी जानकारी मिल सके। Pillar Post एक पेड़ के समान होती है स प्रकार एक पेड़ होता है उसकी कई शाखाएँ होती हैं और फिर बहुत सारी पत्तियाँ ठीक उसी प्रकार Pillar Post होता है जो अपने अन्य Parts से जुड़ा रहता है। दोस्तों आपको उदाहरण सहित समझाते है। Pillar Post Kya Hai

जैसे SEO का Topic ही ले लीजिये इसके कई Parts हैं ; On Page SEO, Off Page SEO, Technical SEO तथा Local SEO आदि और इन Parts को भी अन्य Parts में Divide किया जाता है। यहाँ SEO एक Pillar Post है।

Software कैसे बनाये और Software को कैसे developed करे

मार्शल लॉ क्या है (Martial Definition In Hindi)

Pillar Post कैसे करें

अपनी Audience के Interest को समझें अगर आप Pillar Post तैयार करना चाहते हो तो आपको सबसे पहले ये पता करना होगा कि Audience क्या जानना चाहती है उसका Interest किस चीज में है। सर्च Engine पर लोगों द्वारा सबसे ज्यादा क्या Search किया जा रहा है, Audience के Members किस जगह से हैं, वह Audience Male है या Female, आपकी Audience के Members की Average Age क्या है, Audience के Members की सामाजिक स्थिति क्या है।

पिलर पोस्ट के फायदे क्या क्या है?

  • जब आप अपनी वेबसाइट में Pillar Post का प्रयोग करते है इससे आपकी वेबसाइट में विजिटर ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत करता है क्युकी उसको अपने मतलब का ज्यादा कंटेंट पढने को मिल पाता है |
  • इससे आपकी वेबसाइट का बाउंस रेट कम होता है क्युकी आपके पोस्ट में विजिटर समय ज्यादा देता है और आपकी वेबसाइट का CTR यानि Click Through Rate बढ़ने लगता है | और इसका सीधा असर वेबसाइट की रैंकिंग में देखने को मिलता है |
  • Pillar Post अधिकांश Search Engine Result Page पे ऊपर रैंक करती है क्योकि इसमें ज्यादा जानकारी होने के कारण Backlinks की भी संख्या ज्यादा होती है और रैंकिंग ऊपर मिलने के कारण इसमें Traffic Increase हो जाता है
  • जब कोई भी विजिटर आर्टिकल पढने के बाद उसे अपने Social Media Platform में शेयर करता है तो Pillar Post होने के कारण वह एक बैकलिंक बन जाती है और इससे भी भी Traffic Increase होता है |
  • Pillar Post को सर्च इंजन भी साधारण पोस्ट के अपेक्षा ज्यादा तवज्जो देता है जिससे इस तरह की पोस्ट में हमेशा कुछ न कुछ Traffic आता ही रहता है और इसके सहारे आपके अन्य पोस्ट जो इससे जुडी पोस्ट है उसमे भी ट्रैफिक जाने लगता है |

इन सभी बातों को जानने के लिए आपको Research करनी होती है इसके लिए आप Google Analytics की सहायता से यह पता कर सकते हो कि Audience Internet पर सबसे ज्यादा क्या Search कर रही है। उसी प्रकार आप Social Media Analytics Tools से Social Media Platforms पर आ रहे Visitors के बारे में पता कर सकते हो कि आपके Visitors Social Media पर क्या बात कर रहे हैं, कैसी Post कर रहे हैं, तथा किस प्रकार के Questions पूछ रहे हैं।

इन सभी बातों से आप Audience के Interest को आसानी से समझ सकते हो आप Linked in, Quora तथा Twitter आदि Social Media का प्रयोग कर सकते हो। इस तरह से आपको Audience के Interest को जानने में बहुत मदद मिलती है।

सबसे बेहतरीन Niche का चुनाव करें

जब आप Internet पर अच्छे से Research करके Audience के Interest को सही प्रकार से समझ जाते हो तो आपको अपनी Website के लिए एक ऐसे Niche का चुनाव करना चाहिए जिसके बारे में Audience सबसे ज्यादा जानना चाहती है।इसलिए आपको एक बेहतरीन Niche का चुनाव करने के लिए Keyword Research करनी पड़ती है। यहाँ हम  आपको Keyword Research करने के 2 तरीके बताते है  पहला Neil Patel SEO Tool तथा दूसरा Google Trends है। चलिए मैं आपको एक एक करके इन दोनों की Process आपको समझाते है। Pillar Post Kya Hai

Step1 . Neil Patel SEO Tool (Ubersuggest)

आप Ubersuggest Tool से Keyword Research कैसे कर सकते हो यह Neil Patel का ही एक Tool है। चलिए मैं आपको Keyword Research की Process बताता हूँ। सबसे पहले आप Google पर जाइये और Search कीजिये Ubersuggest तथा Search Result में पहली Site पर Click करके Visit कीजिये। Click करने के बाद आप Ubersuggest Tool पर आ जाओगे यहाँ आपको Search bar मिल जाएगी जिसमें आपको Country Select करनी है और Keyword Searchकरना है।

जैसे ही आप Keyword Search करते हो वैसे ही आपको Keyword Research का Result मिल जाता है। इसमें आपको Search किये गए Keyword का Overview देखने को मिल जाता है। जिसमे Keyword का Search Volume, SEO Difficulty, Paid Difficulty तथा Cost Par Click (CPC) आदि की जानकारी मिल जाती है। इसके साथ ही आपको Keyword Ideas तथा Content ideas भी मिल जाते हैं। Keyword ideas में आपको बहुत सारे Keyword Suggest किये जाते हैं तथा सभी Keywords के Search Volume, CPC, SEO Difficulty, Paid Difficulty आदि के बारे में पूरी Detail भी दे रखी होती है। Pillar Post Kya Hai

Step2 . Google Trends

Google Trends भी एक बहुत अच्छा Tool है जिसकी मदद से आप Keyword Research कर सकते हो इसके लिए सबसे पहले आपको Search Engine पर Google Trends को Search करना होगा। Search करने पर आपके सामने Result Page आ जायेगा उसमें सबसे पहली site पर Click करके Google Trends Tool पर Visit कीजिये। फिर आपको Google Trends का Search Bar दिख जायेगा यहाँ आप पहले country Select कीजिये और फिर अपने Topic या keyword को Search कीजिये फिर आपको Result मिल जायेगा। यहाँ आप Interest Over Time का ग्राफ देख सकते हो तथा Country के अन्य स्थानों की Audience का Interest जान सकते हो।इसके अलावा Google Trends में आपको Related Keywords तथा Related Queries भी मिल जाती हैं जिनकी मदद से आप Best Keyword का चुनाव कर सकते हो। Google Trends में Trending Searches का भी Option होता है जिससे आपको Daily Search Trends तथा Real Time Search Trends Topic मिलते हैं इनसे भी आपको बहुत मदद मिल सकती है।आपको ऐसे Niche का चुनाव करना चाहिए जो एक Keyword भी हो तथा उस पर Competition भी ज्यादा न हो और जिसके बारे में Audience जानने  को बेताब हो इस प्रकार आप सबसे बेहतर Niche का चुनाव आसानी से कर सकते हो।Pillar Post Kya Hai

Step 3. बेहतरीन Content लिखें

एक बेहतरीन Content में Quality का होना बहुत जरूरी है आपको Quality Content लिखना चाहिए जिनका Visitors पर Direct Effect पड़े। Content ऐसा होना चाहिए जिसे पढ़ने के बाद उसमें दिए गए Steps को Visitors तुरंत Follow भी करे। आपको एक Quality Content लिखते समय कुछ बातो को ध्यान में रखना चाहिए। जो की  इस प्रकार हैं

  1. Headline

Post को लिखते समय उसकी Headline को भी ध्यान में रखना चाहिए क्योंकि अगर Headline अच्छी नहीं हुई तो Visitor आपकी Post पर नहीं आएंगे क्योंकि 80% Visitors Headline को देख कर ही Website पर Visit करते हैं।

इसलिए आपको Post की Headline को Attractive बनाने के साथ साथ बहुत Important भी बनाना चाहिए जिससे Visitors को Headline देखकर पता चल सके की आपकी Post में क्या है और अगर नहीं पढ़ा तो Important Information को Miss कर देंगे। कुछ ऐसी Headline Create करनी चाहिए। Pillar Post Kya Hai

  1. Hook

आपकी Post पर जितने भी Visitors आते हैं उनमें से कुछ Visitors ही आपकी Post को पूरा पढ़ते हैं आपको अन्य Visitors को भी अपनी Post पर रोकने के लिए कुछ Hooks का प्रयोग कर सकते हो जो उन्होंने पहले न सुने हों। जैसे ; आप एक Story Add कर सकते हो, कोई Example दे सकते हो, एक Direct Question आप Reader से पूछ सकते हो और उसका Answer अपने Post में दे सकते हो जिससे Visitor आपकी Post को पूरा पढ़ता है और Post भी Interesting बन जाती है।

  1. Structure

आप जो Blog Post लिख रहे हो उसका Structure भी अच्छा होना चाहिए क्योंकि Structure के बिना हमारी Blog Post अधूरी होती है और Visitors ऐसी Blog Post को पढ़ना पसंद नहीं करते हैं तथा Search Engine Result Pages पर भी ऐसी Post Rank नहीं हो पाती हैं इसलिए आपको Blog Post तैयार करते Time Structure को भी ध्यान में रखना चाहिए।

  1. Research

आपको हमेशा Research करके ही Post तैयार करनी चाहिए क्योंकि बहुत बार ऐसा होता है की जब आप बिना Research के Post को अपनी Information के हिसाब से लिखते हो और अगर कोई Point Update हो गया हो तो Visitor को सही Information नहीं मिल पाती इसलिए आपको Post तैयार करने से पहले Research जरूर कर लेना चाहिए जिससे आप अपने Visitors को सही Information दे सको।

  1. Images का Alt Tag करें

Images को Search Engine समझ नहीं सकते हैं कि उस Image में क्या है, उस Image में क्या लिखा है वह Image किस से Related है? इसलिए आपको Images का Alt Tag करना पड़ता है। Alt Tag एक Alternative Description होता है जो Search Engine को यह जानने में मदद करता है कि वह Image क्या है और किस से Related है। इस तरह आप आसानी से एक Quality Content लिखकर अपने Visitors को Provide कर सकते हो जिससे आपकी Post पर Traffic भी अच्छा आता है और Search Engine Result Pages (SERPs) पर Website की Ranking के Chances भी बढ़ते हैं। तो अब चलते हैं अपने Next Step की ओर। ।

Step 4. ज्यादा Internal Linking करें

जब आप सबसे बेहतरीन Content लिख लेते हो तो इसके बाद आपको अपनी सभी Posts को Internal Linking के द्वारा एक दूसरे से Connect करना चाहिए तथा सभी Related Post में Internal Linking करके Main Post को जो आपकी Pillar Post है उसे Backlink देनी चाहिए।

आपको ज्यादा Internal Linking  करनी चाहिए जिससे Visitors आपकी Website पर ज्यादा Time Spend कर सकें तथा Bounce Rate भी कम हो जाये। Internal Linking करके आप Traffic को अपनी अन्य Posts पर Divert कर सकते हो ऐसा करने से Search Engine पर Ranking के Chances बढ़ जाते हैं।

Step 5. समय समय पर Update करें

जब आप Pillar Post को तैयार कर लेते हो और उसमें Internal Linking कर लेते हो तो इसका मतलब ये नहीं कि आपका काम उस Post पर Complete हो गया। जब आपकी Post तैयार हो जाती है तो आपको समय समय पर अपनी सभी Posts को Check करते रहना चाहिए कि आपकी Post में कोई कमी तो नहीं है कोई Broken link तो नहीं है अगर इस प्रकार की कोई कमी हो तो इन सभी को Fix करके Update कर सकते हो। जिससे आपके Visitors को सही Information मिल सके।अगर आप इन सभी Steps को Follow करते हो तो आप आसानी से Pillar Post को तैयार कर सकते हो।आज हमने आपको बताया की पिलर पोस्ट क्या है और इसके लाभ और भी इससे जुडी नयी जानकारी आपको दी है उम्मीद है आपको अच्छे समझ आ चूका होगा।  और दोस्तों आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो आप अपने दोस्तों तक जरूर शेयर करे।

धन्यवाद

Q.वेबसाइट में Pillar Post में क्या नया कर सकते है?

बहुत ही बेहतरीन सवाल है की Pillar Post में क्या नया किया जा सकता है –
जो भी आपके मन में आ रहा हो, आपके हिसाब से न्य हो वो सब आप Pillar Post में कर सकते है लेकिन ध्यान रखे आपके कुछ नया करने से आपका SEO स्कोर ख़राब नही होना चाहिए |
आप चाहे तो अपने Pillar Post का एक अलग से पेज बना सकते है और उसको बेहतरीन तरीके से डिजाईन कर सकते है उस पेज में आप सिर्फ उन्ही पोस्टो को रखे जो पोस्ट आपके Pillar Post की Sub Posts है |

Q.Pillar Post कितने Words की होनी चाहिए?

आपकी पिलर पोस्ट 3000-3500 Words की तो होनी ही चाहिए लेकिन यदि आपसे इतना बड़ा कंटेंट नही लिखा जा रहा है तो 2100 Words से कम यदि आप पिलर पोस्ट लिखते है तो बेकार है |
आपका कंटेंट 3500 Words से ऊपर हो रहा है तो कोई दिक्कत नही है लेकिन आपके पोस्ट में टॉपिक कवर होने चाहिए और कुछ भी फ़ालतू या टॉपिक से बाहर का नही लिखा होना चाहिए |







 

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments