‘एलियंस’ की तलाश में समुद्र खोदेंगे साइंटिस्‍ट! जानें क्‍या करने वाले हैं

‘एलियंस’ की तलाश में समुद्र खोदेंगे साइंटिस्‍ट! जानें क्‍या करने वाले हैं आइए दोस्तों आज मैं आपको एक ऐसी खबर बताने वाली हूं आप लोगों को भी जानी चाहिए तो आज मैं आपको एलियंस के बारे में एक बड़े प्रोफेसर का मानना यह है कि पहले ऑस्ट्रेलिया के पास दक्षिण पश्चिम प्रशांत महासागर में एक दुर्घटना घटी और और उस घटना के पीछे एलियन को ठहराया जा रहा है तो आज मैं आपको एलियंस का पता लगाने के लिए साइंटिस्ट समुद्र खोदेगे आइए जानते हैं इस विषय मे





2023 में भारत के सबसे बड़े प्रोजेक्ट Upcoming Mega Project In India 2023

एलियंस एक ऐसा विषय है जिसका नाम सुनके लोगों के मन में अधिक सवाल उठ जाते हैं और उसी तरह साइंटिस्ट और सरकारों को भी एलियंस की बात से बहुत परेशान कर रखा है अमेरिका से लेकर ऑस्ट्रेलिया तक के सभी साइंटिस्ट एलियन के बारे में जानकारी इकट्ठा करने में लगे हैं

प्रोफेसर एवी लोएब (Avi Loeb) इस रहस्यमयी चीज को दोबारा हासिल करने के लिए 2.2 मिलियन डॉलर (करीब 17 करोड़ 99 लाख 31 हजार 400 रुपये) का मिशन प्‍लान कर रहे हैं। ह साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया के पड़ोसी पापुआ न्यू गिनी (Papua New Guinea) के तट से लगभग 160 किलोमीटर दूर प्रशांत महासागर में दुर्घटना घटी थी

2023 में लॉन्च होगा इसरो-नासा का संयुक्त मिशन NISER उपग्रह

लोएब उल्‍कापिंड को ढूंढकर और उसे परखकर यह समझना चाहते हैं कि क्‍या वह सिर्फ एक अंतरिक्ष चट्टान है या किसी दूसरी सभ्‍यता का स्‍पेसक्राफ्ट। ऐसा लगता है कि लोएब ने अपने अभियान के लिए फंड जुटा लिया है। उनकी टीम समुद्र के तल में खोज करेगी

और उल्‍कापिंड की संरचना का पता लगाएगी। एलियंस के बारे में  यह अंतरिक्ष चट्टान पृथ्‍वी पर आई ऐसी तीसरी चीज है, जिसके बारे में जानकारी है। पता नहीं और कितनी अंतरिक्ष चट्टानें पृथ्‍वी पर गिरी हैं। लोएब को लगता है कि एलियंस होते हैं, लेकिन इस बात को साबित करने के लिए उनके पास कोई सबूत नहीं है। उन्‍हें लगता है कि  उनका अभियान एलियंस के बारे में जरूरी जानकारी सामने ला सकता है।







 

3 2 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments