Artificial Intelligence Se Human Ko Khatra – कृत्रिम बुद्धिमत्ता के नकारात्मक पक्ष

Artificial Intelligence  Se Human Ko Khatra –

कृत्रिम बुद्धिमत्ता के नकारात्मक पक्ष

Artificial Intelligence Se Human Ko Khatra अपनी सराउंडिंग्स को याद कर रहे हैं दोस्तों जितना आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस हमारे लिए फायदेमंद है उतना ही नुकसानदायक इसे स्टीफन हॉकिंस एलोन मस्क और गूगल रिसर्च पेपर ने बताया है क्या गूगल की ओर से पब्लिश्ड रिसर्च पेपर में कहा गया है किस बात की बहुत ज्यादा आशंका है की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के एडवांस फॉर्म धरती से पूरी इंसानियत खत्म कर देंगे अभी साइन के सबसे बड़े साए तले स्टीफन हॉकिंग में सबसे वॉइस थे इस बात पर डिबेट शुरू की थी किस तरह से इंसानियत को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस खतरा हो सकता है

Advantages and Disadvantages of Artificial Intelligence





1 दिन यही मशीन से सबको अपने कब्जे में ले लेंगे और अपनी मनमानियां करने लगेंगे वह तो यहां तक बोल चुके थे की यही यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ह्यूमन का खात्मा कर देगा सबसे ज्यादा चिंता एआई को लेकर ही था

Artificial Intelligence Se Human Ko Khatra

यह मानते थे कि अगर सबसे दीप करण सर हमेशा सुपरहिट में नहीं आए को लेकर था यह मानते थे कि कैसा पॉइंट है एआई इंटेलिजेंस सिस्टम में इंसान को बदल देगा बल्कि बिना हमारे सपोर्ट के खुद को बड़ा कर सकता है हॉकिंग ने साफ चेतावनी दी थी यह थिंकिंग मशीन ना केवल खुद की जिम्मेदारी उठा लेंगे बल्कि खुद को मॉडिफाई करने में भी सक्षम होंगी इसके अलावा इंडिपेंडेंट सिस्टम खुद डिजाइन एवं मैन्युफैक्चरिंग कर लेंगे ऐसे में बायोलॉजिकली ह्यूमन स्कोर अपने ही द्वारा बनाई गई मशीन से हार का सामना करना पड़ेगा Artificial Intelligence Se Human Ko Khatra

Black Hole And Big Bang Theory

Black hole and big bang theory को समझने वाले स्टीफन हॉकिंस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बढ़ते प्रभाव को लेकर हमेशा ही चिंता में रहे एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि धरती बहुत छोटी होती जा रही है और हिमानी खुद का विनाश करने को मजबूर है क्योंकि इस ग्रह पर अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तेजी से अपनी जगह लेता जा रहा है

2016 में कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के सेंटर के उद्घाटन पर हॉकिंग ने कहा था कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इंसानों की या तो सबसे अच्छी या तो सबसे खराब अविष्कार साबित हो सकता है भले ही सुपर वुमन टेक्नोलॉजी दूर की कौड़ी लगे परंतु आज भी एआई के कई करे बंद खतरनाक यूजर्स हमारे सामने ही हैं यहां स्कॉलर्स को हमेशा यह चिंता सताती रहती है की आज के अर्ली स्टेज पर ही एआई ने कई दूसरी एथिकल एवं प्रैक्टिकल प्रॉब्लम्स भी खड़ी कर दी हैं एआई सिस्टम ज्यादातर ऐसे एल्गोरिदम पर भेज दो होते हैं और ऐसे डिसीजंस लेते हैं जिनके बारे में खुद इन सिस्टम्स के डिजाइनर समझ नहीं पाते

अभी यहां पर स्टीफन हॉकिंग की चिंता से एलोन मस्क भी सहमत होते हुए दिखते हैं जो कि स्पेसएक्स के मालिक हैं एलोन मस्क भी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के खतरे को लेकर वार्निंग दे चुके हैं का कहना है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पिछले कुछ दशकों में हुए न्यूक्लियर वर यानी नाभिकीय उपकरणों के इस्तेमाल से भी ज्यादा डेंजरस है इसके साथ ही उन्होंने उन्होंने यह मांग भी रखी थी कि सुपर कंप्यूटर्स में हो रहे इन बदलावों और आने वाले नए-नए आर्टिफिशियल सिस्टम्स को लेकर एक रेगुलेटरी बॉडी होनी चाहिए ऐसा पहली बार नहीं है कि एलॉन मुस्क ने कोई बात कही है खुद अपनी कार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल करने वाले मस्त ने यह भी कहा था आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तो नॉर्थ कोरिया से भी ज्यादा डेंजरस है

लोमस का यह कहना है कि लोगों को यह पता ही नहीं है कि वह जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर रहे हैं वह मशीन को वह खुद कंट्रोल नहीं कर सकते या नहीं यह उनके कंट्रोल से बाहर है फिलहाल के दौर में यह एक तरह का सलूशन नजर आ रहा है लेकिन 1 दिन ऐसा आएगा जब यह लोगों को कंट्रोल करेगी और तब जो लोग इसे डिजाइन या डिवेलप करते हैं वह खुद समझ नहीं पाएंगे कि इस पर काबू कैसे पाया जाए







 

मशीन इंटेलिजेंस एवं इसकी नॉलेज के बल पर एलोन मस्क का यह मानना है चिंता करने की जरूरत है उनका यह कहना है कि जितना ज्यादा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कैपेबल है उससे कहीं ज्यादा वह हानिकारक है Artificial Intelligence Se Human Ko Khatra

Artificial Intelligence और Machine learning में क्यां अंतर है।

       ARTIFICIAL INTELLIGENCE               MACHINE LEARNING
  • इसका aim होता है success के chance को बढ़ाना न की उसकी accuracy को  AI का full form होता है Artificial intelligence जहाँ पर intelligence को define किया जाता है एक ऐसी ability जहाँ पर knowledge को acquire और apply किया जाता है
  • और  ये computer program के जैसे workl करते हैं जो की smart work करता हो
  • AI खुद ही decision making होता है ये एक ऐसा system develop करता है जो  इंसानों को mimic कर सके जिससे ये किसी circumstances में ठीक तरीके से respond कर सके AI हमेशा किसी problem का optimal solution ढूंढने में भरोसा करते है और AI Last में intelligence और wisdom की और lead करता है
 

 

  • इसका main goal है किसी certain task से data learn करना जिससे ये machine के performance को maximize कर सके उसी specific task के लिए वहीँ इसका aim होता है और  accuracy को increase करने का और ये success को ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं
  • ML का Full form होता है Machine Learning जिसे define किया जाता है एक प्रकार का feature जिससे experience से knowledge और skill को acquire किया जाता है.
  • ML allows करता है system को जिससे वो data से नयी चीज़ें learn कर सके वहीँ ML (Machine Learning) knowledge की और lead करता है वहीँ ML किसी problem का कोई भी solution चाहे वो optimal हो या न हो ढूंढने में भरोसा करते है इसमें ये ज्यादा involve रहता है self learning algorithms create करने में वहीँ ये एक simple concept machine होती है जो की data ग्रहण करती हैं और उसी से learn करती हैं

 

 

5 2 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments