Wednesday, May 29, 2024
HomeजानकारियाँDNA Ka Full Form in Hindi | डीएनए (DNA) का मतलब क्या...

DNA Ka Full Form in Hindi | डीएनए (DNA) का मतलब क्या होता है

डीएनए (DNA) का मतलब क्या होता है- क्या आप जानते है DNA(डीएनए) का फुल फॉर्म और DNA(डीएनए) टेस्ट क्यों कराया जाता है यानी की इस ब्लॉग में आपको DNA(डीएनए) से जुडी पूरी जानकारी दी गयी है यदि आप जानना चाहते है इस पोस्ट को जरूर पढ़े क्योकि जो भी सवाल आपके मन में DNA(डीएनए) से जुड़े सभी सवाल के जवाब इस ब्लॉग के जरिये जान जायेगे तो आइए जानते है DNA(डीएनए) का फुल फॉर्म और अन्य जानकारियां




DNA(डीएनए) का फुल फॉर्म

DNA का पूरा नाम “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड” (Deoxyribonucleic Acid) है।

डीएनए का मतलब क्या होता है

DNA का मतलब “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड” (Deoxyribonucleic Acid) होता है।

डीएनए फुल फॉर्म इन मेडिकल

डीएनए की मेडिकल फुल फॉर्म “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड” (Deoxyribonucleic Acid) ही होती है। यह जीनोम का मूल धारक होता है और जीवों के अंदर उनकी विशिष्टताओं को नियंत्रित करने में मदद करता है।

RNA और DNA फुल फॉर्म क्या है

RNA का पूरा नाम “रिबो न्यूक्लिक एसिड” (Ribonucleic Acid) होता है जबकि DNA का पूरा नाम “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड” (Deoxyribonucleic Acid) होता है।

DNA(डीएनए) क्या है

डीएनए एक प्रकार का न्यूक्लिक एसिड है जो हमारे शरीर के कोशिकाओं (Cells) के अंदर पाया जाता है। यह जीवों के लिए अत्यंत Important  है, क्योंकि यह जीवों के अंदर उनकी specifications को control करने में help करता है। डीएनए दो लंबी धाराओं (strands) की एक दोहरी हेलिक्स (double helix) बनाता है जो आमतौर पर बहुत बड़ी संरचनाओं को observe करती हैं।

DNA(डीएनए) टेस्ट क्या है

DNA टेस्ट एक Test है जो डीएनए की structure और उसमें मौजूद विशिष्ट जीनों को पहचानने के लिए किया जाता है। यह test scientist तथा judicial मामलों में use होता है जैसे वंशानुक्रम (lineage) पता लगाना, अपराधी की पहचान करना या रोग के कारणों का पता लगाना। डीएनए(DNA) test  में डीएनए के फ़्रैगमेंट्स का सीधा अनुक्रमण (sequencing) किया जाता है, जिससे जीनों और अन्य विशेषताओं को पहचाना जा सकता है।

डीएनए कितने प्रकार के होते है?

हमारे शरीर में प्रतिदिन लगभग 1 हजार से लेकर तक़रीबन 10 लाख तक के डीएनए का निर्माण होते हैं और लगभग इतने ही डीएनए खत्म हो जाते हैं। और डीएनए 3 प्रकार के होते हैं:-

  • A-DNA: A- DNA यह ऐसा डीएनए है जो की दायीं तरफ (राइट साइड) कुंडलित होता है। A प्रकार का डीएनए opposite स्थितियों के दौरान डीएनए की रक्षा सुनिश्चित करता है।
  • B-DNA: यह डीएनए भी दायीं तरफ कुंडलित होता है। यह एक सामान्य डीएनए प्रकार है।
  • Z-DNA: जेड-डीएनए की खोज एंड्रेस वांग तथा अलेक्जेंडर रिच को जाता है। यह जेड-डीएनए ऐसा डीएनए है जो की बायीं ओर से कुंडलित होता है

Structure of DNA (डीएनए की संरचना)

DNA (Deoxyribonucleic acid) को जीवों की activities को control करने वाली रसायन होने के साथ-साथ उनकी वंशानुक्रम (lineage) तथा अन्य विशेषताओं को निर्धारित करने का जिम्मेदार भी माना जाता है। DNA में चार प्रकार के nucleotide यानि एडीनीन (Adenine), गुएनिन (Guanine), साइटोजाइन (Cytosine) और थाइमिन (Thymine) होते हैं जो एक स्थिर और निरंतर स्क्रू में बंटे हुए होते हैं।

DNA की मूल संरचना दो nucleotide श्रृंखलाओं से मिलकर बनी होती है। इन nucleotide श्रृंखलाओं में प्रत्येक nucleotide तीन Parts से मिलकर बना होता है – एक फूल्का, एक शुष्क वसा वाला आयरनी धातु (sugar) और एक नुक्लीक एसिड (nucleic acid) जो नुक्लीओटाइड का मुख्य भाग होता है।

दो न्यूक्लियोटाइड श्रृंखलाओं के बीच strand को बनाने वाले nucleotides की जोड़ी होती है। जोड़ी में adenine तथा thiamine एक दूसरे से जुड़ते हैं

डीएनए के कार्य

  • डीएनए एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक आनुवांशिक जानकारी का पता लगाता है
  • प्रतिलिपिकरण
  • उत्तराधिकार
  • DNA फिंगरप्रिंटिंग
  • कोशिका विभाजन के दौरान डीएनए का समान वितरण
  • कोशिकीय चयापचय

डीएनए के 4 मुख्य कार्य क्या हैं?

  • प्रतिकृति
  • एन्कोडिंग जानकारी
  • उत्परिवर्तन / पुनर्संयोजन और जीन अभिव्यक्ति हैं ।

DNA(डीएनए कैसे काम करता है

DNA (Deoxyribonucleic acid) जीवों में sequential रूप से विशिष्ट गुणों और विशेषताओं को निर्धारित करने में help करता है। यह बड़ी मात्रा में अवशोषित जीवाणु, प्राणियों और मानवों में पाया जाता है।

DNA का मूल काम जीवों की गतिविधियों को नियंत्रित करना होता है। इसके लिए यह उपजाऊ एन्जाइम्स का निर्माण करता है, जो Body के भिन्न-भिन्न हिस्सों में अलग-अलग काम करते हैं। DNA  में बने जोड़ों का पूरा श्रृंखला उन्हीं enzymes द्वारा पढ़ा जाता है।

DNA काम करते समय अपनी जोड़ी को खोलता है जिससे जोड़ी के अंतर्गत स्थित नुक्लीओटाइड को पढ़ा जा सके। इसके बाद, RNA (Ribonucleic acid) जोड़ी की बनावट को कॉपी करता है ताकि यह जीव द्वारा आवश्यक काम के लिए उपयोग किया जा सके।

DNA के कुछ विशिष्ट अंश जैसे कि जीन (Gene) अलग-अलग उपकरणों में पड़े होते हैं, जो उन्हें उनके निर्धारित कामों के लिए उपयोग करते हैं।

DNA कहाँ पाया जाता है?

DNA जीवों में पाया जाने वाला एक जीवन मानव जीवाश्म जैसे की blood, Hair, Nails, Stool आदि में मौजूद होता है। यह सभी संज्ञानात्मक विकिरण विधियों का उपयोग करके परखा जा सकता है। यह Life की Produce, Development और genealogy को संचित करता है और इसलिए जीव विज्ञान में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

DNA की खोज किसने और कब की थी?

जेम्स वॉटसन और फ्रांसिस क्रिक ने 1953 में डीएनए की खोज की थी

डीएनए (DNA) जांचने की विधि

  • डीएनए टेस्ट के लिए आपके शरीर से कुछ सैंपल की जरुरत होती है
  • इसमें आपके खून, उल्ब तरल, बाल या त्वचा आदि लिया जा सकता है।
  • उल्ब तरल या एम्नियोटिक फ्लूइड गर्भावस्था में भ्रूण के चारों ओर मौजूद तरल को कहा जाता हैं।
  • इसके अतिरिक्त आप डीएनए टेस्ट कराने वाले व्यक्ति के गालों के अंदरूनी भाग से भी सैंपल लिए जाता हैं।
  • इन नमूनों के जाँच के लिए जगह-जगह पर मान्यता प्राप्त प्रयोगशालाएँ बनाईं गईं हैं।
  • इन जांचने में पैसा 10 से 40 हजार के बीच लग जाता है जोकि आप चुका कर डीएनए टेस्ट करवा सकते हैं.
  • और इसकी रिपोर्ट आपको 15 दिनों के अंदर मिल सकती है।

डीएनए कौन कौन से केमिकल के आधार पर बना होता है ?

 एडेनिन (ए), गुआनिन (जी), साइटोसिन (सी), और थाइमिन (टी)

हमारे शरीर में डीएनए का क्या काम है?

हमारे शरीर में डीएनए (DNA) एक बहुत Important  Role निभाता है। डीएनए एक बहुत बड़ा बायोलॉजिकल मोलेक्यूल है, जो जीवों में जीवन के सभी पहलुओं, जैसे कि विकास, विकार, आहार प्रबंधन और विरोध तंत्र का निर्माण और विकास करती है।

डीएनए की एक महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि वह हमारे शरीर के सभी कोशिकाओं के जीनों का निर्माण करती है, जो अलग-अलग कार्यों के लिए जिम्मेदार होते हैं। ये जीन विभिन्न विशेषताओं को नियंत्रित करते हैं, जैसे कि शरीर के विभिन्न अंगों का निर्माण, कार्यों को संचालित करना और विभिन्न अवस्थाओं में शरीर को संतुलित रखना।

इसके अलावा, डीएनए का अन्य महत्वपूर्ण काम है जैसे कि शरीर में नए कोशिकों की उत्पत्ति का निर्माण, बीमारियों के लिए जिम्मेदार जीनों की पहचान और इन बीमारियों के उपचार के लिए औषधियों का निर्माण करना। इसलिए, डीएनए हमारे शरीर के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है

निष्कर्ष

यह तक दोस्तों आपने सीखा की DNA Ka Full Form in Hindi | डीएनए (DNA) का मतलब क्या होता है उम्मीद है आपको मेरा बताया गया तरीका अच्छा लगा होगा यदि आप ऐसे ही और हिंदी ब्लॉग पढ़ना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही वेबसाइट पर आये है में अपने ऑडियंस को हिंदी में और फ्री में जानकारी देती हूँ यदि आप मेरी इस वेबसाइट के साथ ऐसे बने रहते है तो आपको टेक्नोलॉजी से जुड़े या अन्य जानकारिया ऐसे हिंदी हिंदी में जानने को मिलेगी इसके लिए आपको सबसे पहले JUGADME को सब्सक्राइब करना होगा जिससे आप तक मेरे बनाये गए पोस्ट आप तक आसानी से पहुंच जाये। और अपने रिश्तेदारों को जरूर शेयर करे। मुझे आपलोगो को सहयोग की अति आवश्यकता है।
धन्यवाद

यह भी पढ़े :-

RELATED ARTICLES
5 2 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular