Friday, June 21, 2024
HomeComputer & Technologyहार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क में क्या अंतर है

हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क में क्या अंतर है

हार्ड डिस्क क्या है

हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क में क्या अंतर है-हार्ड डिस्क (Hard Disk) कंप्यूटर डेटा को संग्रहित करने के लिए एक विशेष तकनीक है। यह कंप्यूटर में स्थायी रूप से डेटा संग्रहित करता है जो आमतौर पर कंप्यूटर की हार्डवेयर में शामिल होता है।

एक हार्ड डिस्क में डेटा को एक निश्चित क्षेत्र में वर्गीकृत किया जाता है जो ट्रैक, सेक्टर और ब्लॉक के रूप में ज्ञात होता है। यह डेटा बेहद संगठित तरीके से संग्रहीत होता है जिससे उपयोगकर्ता किसी भी समय इसे आसानी से खोज सकता है।

Reference From Jugadme
Website Development Services, Article Writing
WhatsApp +91 92892 62048

हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क में क्या अंतर है-हार्ड डिस्क में डेटा संग्रहित करने का एक बड़ा फायदा यह है कि यह सुरक्षित रूप से संग्रहित होता है और जब तक कि कोई वायरस या मलवेयर आपके सिस्टम में नहीं होता है, तब तक डेटा खोने का कोई खतरा नहीं होता है। यह भी सुनिश्चित करता है कि कंप्यूटर के अन्य भागों को डेटा तक पहुंचने में कोई कमी नहीं होती है।

फ्लॉपी डिस्क क्या है

हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क में क्या अंतर है-फ्लॉपी डिस्क (Floppy Disk) एक पुरानी जेनेरेशन की पोर्टेबल संग्रह यंत्र है जिसे कंप्यूटर में डेटा संग्रह करने के लिए उपयोग किया जाता था। यह कंप्यूटर में डेटा संग्रहित करने के लिए एक चिकित्सकीय गतिशील तकनीक है जिसमें डेटा एक मैगनेटिक सतह पर संग्रहित किया जाता है।

फ्लॉपी डिस्क आमतौर पर 3.5 इंच आकार के होते थे और केवल कुछ मेगाबाइट का डेटा संग्रह करने की क्षमता थी। ये आमतौर पर प्लास्टिक से बने होते थे और कंप्यूटर में फ्लॉपी ड्राइव में स्लॉट में डाले जाते थे। फ्लॉपी डिस्क को डिस्केट भी कहा जाता है।

फ्लॉपी डिस्क का उपयोग संग्रहित डेटा को किसी भी कंप्यूटर पर स्थानांतरित करने के लिए किया जाता था। इसके अलावा, इन्हें उपयोगकर्ता के व्यक्तिगत फ़ाइलों को संग्रहित करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता था। फ्लॉपी डिस्क अब अप्रचलित हो गए हैं और अधिकांश कंप्यूटर सिस्टम फ्लॉपी ड्राइव का समर्थन नहीं करते है ।




हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क में क्या अंतर है

  • हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क दोनों कंप्यूटर डेटा स्टोर करने के लिए उपयोग किए जाने वाले संचार माध्यम हैं, लेकिन ये दोनों में थोड़ा अंतर होता है:
  • क्षमता: हार्ड डिस्क फ्लॉपी डिस्क की तुलना में बहुत अधिक क्षमता रखते हैं। आजकल के हार्ड डिस्क की क्षमता तीर की तरह बढ़ती जा रही है, जबकि फ्लॉपी डिस्क की क्षमता केवल 1.44 मेगाबाइट होती है।
  • गति: हार्ड डिस्क फ्लॉपी डिस्क से अधिक गति से काम करते हैं। फ्लॉपी डिस्क की गति 360 RPM होती है, जबकि हार्ड डिस्क आमतौर पर 7200 RPM या इससे अधिक की गति से काम करते हैं।
  • डेटा संरचना: हार्ड डिस्क में डेटा संरचना आकार के अनुसार किया जाता है, जबकि फ्लॉपी डिस्क में डेटा संरचना तार के आधार पर की जाती है।
  • भंडारण की जगह: हार्ड डिस्क बड़े आकार के लिए बनाए गए होते हैं जो एक कंप्यूटर में स्थापित किए जाने के लिए उपयुक्त होते हैं।





FAQ:

Q. हार्ड डिस्क फ्लॉपी डिस्क से कैसे बेहतर है?

ANS. हार्ड डिस्क प्रति वर्ग इंच रिकॉर्डिंग सतह पर बहुत अधिक डेटा संग्रहीत करती है ।

Q. फ्लॉपी डिस्क कितने समय तक चलती है?

ANS. फ्लॉपी डिस्क चुंबकीय भंडारण का उपयोग करती है, इसलिए यह कहना सही है कि अंततः चुंबकत्व उसी समय के आसपास घिस जाएगा जब एक टेप होगा। ऐसा तब होता है जब डिस्क पर सस्ता, मटमैला आवरण लंबे समय तक जीवित रहता है।

RELATED ARTICLES
4.3 6 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular