Thursday, June 13, 2024
Homeजानकारियाँमातृ दिवस पर निबंध मदर्स डे भाषण , इतिहास,अनमोल वचन माँ गिफ्ट...

मातृ दिवस पर निबंध मदर्स डे भाषण , इतिहास,अनमोल वचन माँ गिफ्ट आइडिया | Mothers Day Bhashan, history, Quotes and Gifts ideas In Hindi

मातृ दिवस पर निबंध – मदर्स डे एक उत्सव है जो माताओं के लिए मनाया जाता है। यह उत्सव हर साल मई के दूसरे रविवार को मनाया जाता है, जो कि देशों के आधार पर भिन्न हो सकता है। इस दिन के अवसर पर बच्चे अपनी माताओं को उपहार देते हैं, विशेष रुप से फूल, चॉकलेट या दस्तावेज़।

सेलिब्रेशन डे मदर्स डे
कब मनाया जाता है मई के दूसरे रविवार में
कहां से हुई इसकी शुरूआत रोमन से हुई इसकी शुरूआत
मदर्स डे का महत्व मां के लिए कुछ अच्छा करना
कितने देशों में मनाया जाता है 46 देशों में मनाया जाता है
मदर्स डे सॉन्ग मां मेरी मां, उंगली पकड़कर

 

मदर्स डे भाषण , इतिहास, अनमोल वचन और माँ के लिए गिफ्ट आइडिया – Mothers Day Bhashan, history, Quotes and Gifts ideas In Hindi (Mothers day Kyu Manaya Jata hai) मातृदिवस पर निबंध

मदर्स डे का आरंभ संयुक्त राज्य अमेरिका में हुआ था, जब अन्ना जार्विस ने 1908 में अपनी माँ के स्मृति में पहला मदर्स डे का आयोजन किया था। इसके बाद, यह उत्सव अमेरिका और अन्य देशों में फैल गया था। आज, यह एक वैश्विक उत्सव है जो विभिन्न देशों में मनाया जाता है।
मातृ दिवस भारत में हर साल दूसरे रविवार को मनाया जाता है। यह उत्सव मातृत्व को सम्मानित करता है और माँ बनने के साथ-साथ माँ का दायित्व भी दर्शाता है। इस दिन को श्रद्धापूर्वक मनाया जाता है और लोग अपनी माँ के साथ वक्त बिताते हैं।

इस उत्सव का आयोजन पहली बार 1913 में किया गया था, जब महात्मा गांधी ने इस दिन को भारत और दुनिया के अन्य हिस्सों में मान्यता दी थी। इस दिन के अवसर पर बच्चे अपनी माँ को उपहार देते हैं और उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं। इस उत्सव का मुख्य उद्देश्य मातृत्व को सम्मानित करना होता है और माँ के साथ अपनी अटूट बंधन को मजबूत करना होता है।




Mother Ka Full Form in Hindi & English

Mother Of The Human Excellent Relationship होता है

क्या होती है माँ – Kya Hoti Hai Maa

माँ एक बहुत ही महत्वपूर्ण और स्पेशल व्यक्ति होती है जो हमारी ज़िन्दगी में सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण होती है। वह हमारे जन्म से पहले से हमें अपने गर्भ में रखती है और हमारी ज़िन्दगी के प्रत्येक मोड़ पर हमें समर्थन और प्रेरणा देती है।

माँ हमेशा हमारे साथ होती है और हमेशा हमारी रक्षा करती है। वह हमेशा हमारी ज़रूरतों को समझती है और हमेशा हमें अपने प्यार और समर्थन से भरपूर करती है। वह हमारी खुशियों और दुखों में हमारे साथ होती है और हमेशा हमें सही राह दिखाती है।

माँ हमेशा हमारे लिए अपनी ज़िन्दगी का सबसे बड़ा समर्पण करती है। वह हमेशा हमारी सफलता के लिए प्रयास करती है और हमेशा हमारी समस्याओं का हल निकालने में मदद करती है।

संक्षेप में कहा जाए, माँ एक ऐसी व्यक्ति होती है जो हमारी ज़िन्दगी में सबसे महत्वपूर्ण होती है और हमारे लिए एक वरदान के समान होती है।

मां की भूमिका क्या है?

माँ की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है जो एक परिवार के लिए असाधारण होती है। वह घर की समृद्धि के लिए अहम होती है और अपनी परिवार की समस्याओं के समाधान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

एक माँ का पहला कर्तव्य अपने बच्चे की देखभाल करना होता है। वह अपने बच्चों को स्वस्थ और सुरक्षित रखने के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार होती है। वह अपने बच्चों के लिए अनेक प्रकार के खाने-पीने, सामाजिक, मनोरंजन और शैक्षिक संबंधों का ध्यान रखती है।

एक माँ अपने बच्चों के साथ नहीं सिर्फ उनके शारीरिक स्वास्थ्य का ध्यान रखती है, बल्कि उनकी मानसिक तथा आत्मिक विकास में भी मदद करती है। वह अपने बच्चों के लिए मानसिक स्वस्थता और सामाजिक जीवन का आधार रखती है।

इसके अलावा, एक माँ घर के सभी सदस्यों के साथ उनकी ज़रूरतों के अनुसार ध्यान रखती है और उन्हें अपनी ज़िन्दगी का रोचक हिस्सा बनाती है।

मदर्स डे इतिहास क्या है

मातृ दिवस का इतिहास विभिन्न देशों में अलग-अलग होता है। यह एक ऐसा दिन है जो माँ के सम्मान में मनाया जाता है।

अमेरिका में मातृ दिवस का प्रथम उल्लेख 1908 में हुआ था जब अन्ना जारविस अपनी माँ की याद में वर्जिना के एक चर्च में शहीद स्मारक बनवाती है.उन्होंने इस दिन को एक दिन के रूप में मान्यता दी जिसमें माँ के सम्मान में सभी महिलाओं को शामिल किया जाता है। इसके बाद, 1914 में अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने इस दिन को आधिकारिक तौर पर मातृ दिवस के रूप में मनाने के लिए फैसला लिया।

भारत में मातृ दिवस का शुभारंभ 1913 में बंगाल की एक समाजसेवी अनाथ बंगाली माँ अनुराधा सा की शुरुआत से हुआ था। इसे 1923 में भारतीय संसद ने आधिकारिक तौर पर मान्यता दी थी।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, मातृ दिवस का पहला संयुक्त रूप संयुक्त राष्ट्र द्वारा 1993 में मनाया गया था। यह दिन उन सभी माँ के सम्मान में मनाया जाता है

अनमोल वचन और माँ के लिए

  1. “माँ हमेशा हमारे साथ होती है, हमेशा हमारी रक्षा करती है और हमेशा हमें सही राह दिखाती है।”
  2. “माँ एक ऐसी वरदान होती है जिसे हम नहीं खोना चाहते।”
  3. “माँ के बिना हम अकेले होते हैं, लेकिन माँ के साथ हम सब कुछ संभव होता है।”
  4. “माँ जीवन का सबसे बड़ा उपहार होती है जो हमें दिया गया है।”
  5. “माँ न होती तो हम जीवन में कुछ भी नहीं होता।”
  6. “माँ हमारी पहली अध्यात्मिक गुरु होती हैं जो हमें सही और गलत के बीच अंतर समझाती हैं।”
  7. “माँ हमेशा अपने बच्चों के सफलता के लिए प्रयास करती हैं और कभी नहीं हारती।”
  8. “माँ के प्यार और दुलार का कोई मोल नहीं होता।”
  9. “माँ हमेशा हमें प्यार करती है, हमें समझती है और हमें स्वीकार करती है।”
  10. “माँ हमारी ज़िन्दगी का सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति होती है जो हमें हमेशा सही दिशा में ले जाती है।”

मदर्स डे सेलिब्रेशन इन इंडिया (Mothers Day Celebration in India)–

मदर्स डे मई के दुसरे रविवार को मनाया जाता है. सोशल नेटवर्किंग साईट के चलते ये दिन आजकल काफी प्रचलित हो गया है

इस दिन लोग अपनी माँ को उपहार देते हैं, उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं और उनका सम्मान करते हैं।

इस दिन लोग अपनी माँ के लिए खास उपहार खरीदते हैं जैसे कि फूल, सुगंधित चीजें, ज्वेलरी आदि। कुछ लोग इस दिन को अपनी माँ के साथ बिताते हैं और उन्हें एक अच्छा समय देते हैं।

विभिन्न संस्थान और स्कूलों में भी मातृ दिवस के अवसर पर विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जिनमें बच्चों को अपनी माँ के सम्मान में कुछ न कुछ बनाकर दिखाया जाता है।

इस दिन कुछ लोग अपनी माँ के सम्मान में भक्तिगीत गाते हैं और उन्हें समर्पित करते हैं। इस दिन कुछ लोग अपनी माँ के सम्मान में सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करते हैं जिससे लोग इस उत्सव के महत्व को समझते हैं।

मदर्स डे गिफ्ट आइडियाज (Mothers Day Gift Ideas)–

फूल दे सकते है “ आप अपनी माँ को एक बुके फूल उपहार कर सकते हैं। उन्हें फूलों की खुशबू से बहुत खुशी मिलेगी।

ज्वेलरी दे सकते है “ आप एक अलग-अलग डिजाइन वाली ज्वेलरी उपहार कर सकते हैं जैसे कि एक नेकलेस, एक ब्रेसलेट या एक अंगूठी।

बुक दे सकते है “ अपनी माँ को एक अच्छी किताब उपहार कर सकते हैं। आप उन्हें उनकी पसंद की जानकारी से पता करके उसके अनुसार एक बुक उपहार कर सकते हैं।

फोटो फ्रेम दे सकते है “ आप अपनी माँ के लिए एक फोटो फ्रेम उपहार कर सकते हैं जिसमें उसकी एक यादगार फोटो हो।

कुकीज बॉक्स दे सकते है “ आप अपनी माँ के लिए एक डिजाइनर कुकीज बॉक्स उपहार कर सकते हैं जिसमें उसे उसकी पसंद के अनुसार कुकीज मिलें।

स्पा वाउचर दे सकते है “ आप अपनी माँ को स्पा वाउचर उपहार कर सकते हैं जिससे वह ठंडी और शांत माहौल में अच्छा महसूस कर सके

माँ की ममता असीम होती है और उसका प्यार अनमोल होता है। वह हमारी जिंदगी में सबसे महत्वपूर्ण और अनमोल वस्तु होती है। माँ हमेशा हमारे साथ होती है और हमें सबसे अच्छा देती है, जो हम उसे वापस कभी नहीं दे सकते। इसलिए माँ के लिए हमें हमेशा धन्यवाद देना चाहिए और माँ की ममता की कविताएं उसके प्यार और ध्यान के प्रति हमारी आभार प्रकट करती हैं।

Poems in Hindi on Mother | मदर डे पर कविता

माँ की ममता अनमोल होती है,
उसकी खुशियों की कोई मोल नहीं होती है।
वो सदा हमारे लिए दुआ करती है,
जब हमारे मुस्कुराने की वजह होती है।

माँ हमारी जान होती है,
हमेशा हमारे साथ अपनी मान होती है।
जब हम ऊब हो जाते हैं तब वो हमें थामती है,
अपनी गोद में हमें सुलाती है।

माँ हमारी आँखों की ताकत होती है,
जब रोते हम हैं तब वो हमारे साथ रोती है।
हमेशा हमारे लिए प्यार से हंसती है,
जिससे हमारी जिंदगी में सुख बरसता है।

माँ की दुआ से बनता है हर काम,
वो हमारी जिंदगी का सबसे बड़ा सहारा होती है।
जो भी हम करते हैं उसे वो सफल बनाती है,
हमें निरंतर बढ़ने के लिए प्रेरित करती है।

दुनिया की हर खुशी उसमे बसती है,
जो माँ का दिल में सदा रहती है।
उसकी ममता की कोई मोल नहीं होती है,
क्योंकि उसकी ममता सदा अनमोल होती है।

मदर डे क्या होता है?
मदर डे माँ के सम्मान में मनाया जाने वाला एक उत्सव है जो मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाता है।

FAQ

मदर डे कब मनाया जाता है?
मदर डे भारत में मई माह के दूसरे रविवार को मनाया जाता है।

माँ के सम्मान में मदर डे कैसे मनाया जाता है?
माँ के सम्मान में मदर डे को उत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस दिन बच्चे अपनी माँ के साथ समय बिताते हैं और उन्हें उपहार देते हैं।

मदर डे को किसने प्रस्तावित किया था?
मदर डे को एना जार्विस ने प्रस्तावित किया था।

मदर डे क्यों मनाया जाता है?
मदर डे माँ के सम्मान में मनाया जाने वाला एक उत्सव है जो माँ के प्यार और ममता के लिए एक सम्मान है। इस दिन बच्चे अपनी माँ के लिए विशेष उपहार और कार्ड बनाते हैं जिससे वे उन्हें उनके सम्मान में समर्पित करते हैं।

Other Link 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

RELATED ARTICLES
5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular