Tuesday, July 23, 2024
HomeComputer & TechnologyCD क्या है और DVD से कैसे अलग है?

CD क्या है और DVD से कैसे अलग है?

Compact Disk क्या है-आइये दोस्तों आज हम कद के बारें में बात करेंगे यह एक संग्रहण माध्यम होता है जिसमें डेटा, संगीत और अन्य दस्तावेजों को संग्रहित किया जाता है। CD का पूर्ण रूप “Compact Disc” है।

Compact Disk (CD) क्या है

Compact Disk क्या है-Compact Disk (CD) एक डिजिटल रूप में डेटा को स्टोर करने वाला एक ऑप्टिकल डिस्क है। इसमें डेटा एक सरणी के रूप में स्थायी रूप से संग्रहित होता है और यह उन्हें एक बार में पढ़ सकता है। CD में डेटा की उत्पत्ति एक लेजर बीम द्वारा होती है जो कि डिस्क पर संगीत, वीडियो, फोटो और अन्य डेटा को पढ़ने और लिखने के लिए उपयोग किया जाता है। CD आवाज़, वीडियो, तस्वीरें और अन्य डेटा के साथ संगत है। CD के साथ, डेटा को संग्रहीत और उपयोग करने के लिए एक CD ड्राइव की आवश्यकता होती है।



Compact Disk के प्रकार

Compact Disk क्या है-Compact Disk के अनेक प्रकार हैं, जिनमें से कुछ प्रमुख निम्नलिखित हैं:

  • CD-ROM (Compact Disk – रीड ओनली मेमोरी): CD-ROM एक ऐसा CD है जो केवल पढ़ा जा सकता है। इसमें संगीत, वीडियो, सॉफ्टवेयर और अन्य फ़ाइलों को संग्रहित किया जाता है।
  • CD-R (Compact Disk – रिकॉर्डेबल): CD-R एक ऐसा CD है जिसे आप एक बार ही लिख सकते हैं। इसके बाद आप उसमें कुछ भी नहीं लिख सकते।
  • CD-RW (Compact Disk – रिकॉर्डेबल रीवाइटेबल): CD-RW एक ऐसा CD है जिसे आप कई बार लिख सकते हैं। इसे रीवाइट किया जा सकता है, यानी इसमें डेटा को बार-बार लिखा जा सकता है।
  • CD-DA (Compact Disk – डिजिटल ऑडियो): CD-DA एक ऐसा CD होता है जिसमें अनुकूलित डिजिटल ऑडियो फ़ाइलों को संग्रहित किया जाता है। इसे साधारण भाषा में एक संगीत डिस्क के रूप में जाना जाता है।

CD-R और CD-RW दोनों रिकॉर्डेबल Compact Disk हैं, लेकिन उनमें कुछ महत्वपूर्ण अंतर हैं:

  • लेखन का तरीका: CD-R एक ऐसा डिस्क होता है जिसे आप एक बार ही लिख सकते हैं। इसके बाद, आप इसमें नए डेटा को लिख नहीं सकते। वहीं, CD-RW डिस्क को बार-बार लिखा जा सकता है।
  • लेखन की गति: CD-RW डिस्क को बार-बार लिखा जा सकता है, इसलिए इसकी लेखन की गति CD-R की तुलना में धीमी होती है। इसलिए, CD-RW डिस्क वहाँ अधिक उपयोग होते हैं, जहाँ लेखन की गति को न्यूनतम रखना आवश्यक होता है।
  • डेटा संचय: CD-RW डिस्क में ज्यादा डेटा संचय किया जा सकता है, क्योंकि इसे बार-बार लिखा जा सकता है। इसके विपरीत, CD-R डिस्क में केवल एक बार डेटा संचय किया जा सकता है।

CD-R और RW CD में क्या अंतर है?

CD-R और RW CD दोनों तरह के CD होते हैं, लेकिन उनमें अंतर होता है।

  • CD-R (CD-Recordable) एक डिस्क होता है जिसे एक बार ही रिकॉर्ड किया जा सकता है। इसका मतलब है कि एक बार जब आप इस पर डेटा या फाइलें रिकॉर्ड कर देते हैं, तो उन्हें बाद में मिटाया या ओवरराइट नहीं किया जा सकता।
  • वहीं, CD-RW (CD-ReWritable) डिस्क को कई बार ओवरराइट किया जा सकता है। इसका मतलब है कि जब आप इस पर डेटा या फाइलें रिकॉर्ड करते हैं, तो आप बाद में उन्हें मिटा सकते हैं या उन्हें ओवरराइट कर सकते हैं जब भी आवश्यकता हो।
  • इसलिए, CD-R अधिकतर डेटा या फाइलों को संग्रहित करने के लिए उपयुक्त होता है, जबकि CD-RW अधिकतर फाइलों को ओवरराइट करने के लिए उपयुक्त होता है।

Computer में CD का इस्तमाल क्यूँ किया जाता है?

कंप्यूटर में सीडी (CD) का इस्तेमाल अलग-अलग उद्देश्यों के लिए किया जाता है। नीचे कुछ मुख्य कारण दिए गए हैं:

डेटा संग्रहण: सीडी एक प्रकार का संग्रहण माध्यम है जो डेटा को संग्रहित करने के लिए उपयोग किया जाता है। सीडी पर डेटा जैसे कि फोटो, वीडियो, संगीत फ़ाइलें आदि को संग्रहित किया जाता है और उन्हें बाद में उपयोग के लिए पुन: लोड किया जा सकता है।

सॉफ्टवेयर इंस्टॉलेशन: कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने के लिए सीडी का इस्तेमाल किया जाता है। सॉफ्टवेयर के लिए सीडी आमतौर पर एक इंस्टॉलर फ़ाइल का उपयोग करता है जो कंप्यूटर पर सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करने के लिए सेटअप विजेट का उपयोग करता है।

डेटा संचार: सीडी का उपयोग डेटा संचार के लिए भी किया जाता है। कई सीडी ड्राइव कंप्यूटर के साथ आते हैं जो उन्हें उपयोग करने में मदद करते हैं।

DVD क्या है

DVD (Digital Versatile Disc) एक तरह का डिस्क होता है जिसमें बहुत से डेटा, जैसे वीडियो, ऑडियो, तस्वीरें, सॉफ्टवेयर आदि संग्रहित होते हैं। यह एक optical storage device होता है जो डेटा को लेजर की मदद से पढ़ता और लिखता है।

DVD की एक खास बात यह है कि इसमें बहुत ज्यादा डेटा संग्रहित किया जा सकता है, जिससे यह उत्कृष्ट वीडियो क्वालिटी के साथ बहुत से वीडियो और ऑडियो फाइलों को संग्रहित करने के लिए उपयुक्त होता है।

इसके अलावा, DVD उच्च गुणवत्ता वाले संगीत, फिल्म, और अन्य मल्टीमीडिया उद्योगों में उपयोग किया जाता है। DVD में डेटा संग्रहित करने के लिए अनेक विभिन्न फॉर्मेट, जैसे DVD-ROM, DVD-R, DVD+R, DVD-RW, DVD+RW, DVD-RAM आदि उपलब्ध होते हैं।

DVD Full Form

DVD का पूर्ण रूप “Digital Versatile Disc” होता है।

CD और DVD में क्या अंतर है

CD और DVD दोनों डिस्क आधारित संग्रहण माध्यम हैं, लेकिन इन दोनों में अंतर है। नीचे कुछ मुख्य अंतर बताए गए हैं:

  • क्षमता: सीडी आमतौर पर 700 मेगाबाइट (MB) तक का डेटा संग्रहित कर सकता है, जबकि एक डीवीडी (DVD) 4.7 जीबी (GB) से लेकर 17 जीबी तक का डेटा संग्रहित कर सकता है।
  • रचना: सीडी में एक ही स्पिन्डल स्थापित होता है, जो डिस्क के समग्र सतह पर डेटा को पढ़ने के लिए घूमता है। दूसरी ओर, एक डीवीडी में दो स्पिन्डल स्थापित होते हैं जो एक साथ काम करते हैं।
  • विन्यास: सीडी एकल विन्यास (single layer) वाला होता है जबकि एक डीवीडी दोहरी विन्यास (dual layer) वाला होता है, जिससे उसमें अधिक डेटा संग्रहित किया जा सकता है।
  • लेजर: सीडी का लेजर 780 नैनोमीटर (nm) का होता है जबकि एक डीवीडी का लेजर 650 नैनोमीटर तक होता है।
  • डेटा की दर: सीडी की दर 150 किलोबाइट (KB) प्रति सेकंड होती है जबकि एक डीवीडी की दर 600 किलोबाइट (KB) प्रति सेकंड होती है।

 

RELATED ARTICLES
5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular