Thursday, April 25, 2024
Homeजानकारियाँदिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी,...

दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी, दिल्‍ली में बिजली हुई महंगी

दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी, दिल्‍ली में बिजली हुई महंगी Delhi Electricity Rate Hike: दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (Delhi Electricity Regulatory Commission) ने बिजली के दरों में 9.2 प्रतिशत का इजाफा करने को दी मंजूरी यानी अब रेट पहले से बढ़ जायँगे और लोगो के घर बिजली का बिल पहले से बढ़कर आएगा दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी




दिल्ली में बिजली के दाम बढ़ने का असर आपके घर के बिजली बिल पर पड़ेगा। बीएसईएस यमुना पावर लिमिटेड (बीवाईपीएल) को मौजूदा दरों से 9.42% अतिरिक्त चार्ज करने की अनुमति होगी, जबकि बीएसईएस राजधानी पावर लिमिटेड (बीआरपीएल) को 6.39% अतिरिक्त चार्ज करने की अनुमति होगी, और नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) को अतिरिक्त 2% चार्ज करने की अनुमति दी जाए।

आपके घरेलू बिजली बिल पर प्रभाव को समझने के लिए, आपको अपनी बिजली की खपत और टैरिफ संरचना पर विचार करना होगा। यदि आप बड़ी मात्रा में बिजली का उपभोग करते हैं, तो बढ़ी हुई दरों के परिणामस्वरूप अधिक बिल आ सकता है। हालाँकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि दिल्ली सरकार ने कहा है कि दरों में वृद्धि का 200 यूनिट तक बिजली का use करने वाले consumers पर सीधा प्रभाव नहीं पड़ेगा। 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली देने वाली योजना इस फैसले से अप्रभावित जारी रहेगी. दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी

आपके बिजली बिल पर सटीक प्रभाव निर्धारित करने के लिए, आपको अपनी खपत और बिजली वितरण कंपनी द्वारा प्रदान की गई नई दरों के आधार पर संशोधित शुल्क की गणना करने की आवश्यकता होगी। नई टैरिफ संरचना और आपके बिल पर इसके प्रभाव के बारे में विशिष्ट विवरण के लिए अपने बिजली प्रदाता से परामर्श करने या उनके आधिकारिक संचार को देखने की अनुशंसा की जाती है।

क्‍या दिल्‍ली में बिजली महंगी हो गई है?

हां, दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (DERC) से राष्ट्रीय राजधानी में बिजली सप्लाई करने वाली कंपनियों को दरें बढ़ाने की अनुमति मिल गई है। दरों में कितनी बढ़ोतरी की गई है, देखिए

  • BSES यमुना पावर लिमिटेड (BYPL) की दरों में 9.42% का इजाफा
  • BSES राजधानी पावर लिमिटेड BRPL) की दरों में 6.39% की बढ़त
  • नई दिल्ली म्युनिसिपल काउंसिल (NDMC) की दरों में 2% का इजाफा
  • टाटा पावर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड (TPDDL) के उपभोक्ताओं पर असर नहीं

200 यूनिट के बाद इस तरह आता है बिल

2019 में जब केजरीवाल सरकार जब सत्ता पर काबिज हुई तो उसने फ्री बिजली की सब्सिडी को जारी रखने का फैसला किया. दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी, सब्सिडी कुछ इस तरह दी गई-

  • 200 यूनिट बिजली बिल्कुल फ्री और यदि कोई सब्सिडी नहीं लेता है तो उसे 200 यूनिट तक 3 रुपये प्रति यूनिट चार्ज देना होगा.
  •  201 से 400 यूनिट तक 4.5 रुपये प्रति यूनिट
  • 401 से 800 यूनिट तक 6.5 रुपये प्रति यूनिट
  • 801 से 1200 यूनिट तक 7 रुपये प्रति यूनिट
  • 1200 से ज्यादा यूनिट पर 8 रुपये प्रति यूनिट

अब दिल्‍ली में फ्री बिजली स्‍कीम का क्‍या होगा?

दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी, हर महीने 200 यून‍िट तक बिजली बिल फ्री ही रहेगा। आतिशी ने कहा कि 200 यूनिट से ऊपर बिजली खर्च करने पर बढ़ी दरों से भुगतान करना होगा। मंत्री ने कहा कि उसके ऊपर 8 प्रतिशत चार्ज लगेगा। मतलब अगर 201 यूनिट भी बिल आया तो एक्‍स्‍ट्रा चार्ज देना पड़ जाएगा।

बिजली का बिल (अभी, रुपये में) आगे कितना देना होगा (रुपये में)
200 यूनिट तक 0
100 108
500 540
1000 1080
2000 2160




आतिशी ने केंद्र पर फोड़ा ठीकरा

आतिशी ने कहा, ‘दिल्ली के उपभोक्ताओं को बताना चाहूंगी बिजली का बिल 0 आता रहेगा चाहे सरचार्ज बढ़े. दिल्ली में यह सरचार्ज  केंद्र सरकार की वजह से बढ़ा.देश में कोयले का दाम बढ़ गया है, कोयले की कमी है. कोयले खरीदने वाले को 10% महंगा इम्पोर्टेड कोयला ही खरीदना पड़ता है.

आज भारत के 75 साल के इतिहास में पहली बार आर्टिफिशियल कोयले की कमी हो गई है. Imported कोयले की कीमत भारत के कोयले से 10 फीसदी ज्यादा है. बिजली के दाम केंद्र सरकार के मिसमैनेजमेंट की वजह से बढ़े. केंद्र सरकार बताए कि कोयले की कमी कैसे हुई? अब टोटल बिल पर 8% ज़्यादा देना होगा.’  

 

दिल्‍ली में बिजली सब्सिडी का क्‍या नियम

अभी दिल्‍ली सरकार हर महीने 200 यूनिट बिजली तक के इस्तेमाल पर 100 प्रतिशत सब्सिडी देती है। 201 से लेकर 400 यूनिट महीना खर्च करने पर आधी दर से पेमेंट करना होता है। दिल्‍ली में करीब 58 लाख बिजली कंज्‍यूमर्स हैं जिनमें से 47 लाख को सब्सिडी मिलती है। इनमें से 30 लाख ऐसे हैं जिनका मंथली बिल जीरो आता है।

किन लोगो पर पड़ेगा असर

दक्षिणी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, दिल्ली के ट्रांस-यमुना क्षेत्र, पुरानी दिल्ली और नई दिल्ली में रहने वाले लोगों को इस बढ़ोतरी से झटका लगेगा. उन क्षेत्रों में रहने वाले customers को राहत मिलेगी जहां टीपीडीडीएल (टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड पहले एनडीपीएल) बिजली प्रदान करती है, उनके लिए कोई बढ़ोत्तरी नहीं होगी. इसमें उत्तरी और उत्तर पश्चिमी दिल्ली के क्षेत्र शामिल हैं. यानि यहां रहने वाले लोगों पर बढ़ी हुई दरों का कोई असर नहीं पड़ेगा. दिल्ली में बिजली के दाम फिर बढ़ेंगे 10 % तक की बढ़ोतरी




Read Also : Titan पनडुब्बी, डूबते ही इतने लोगों की गई जान और करोड़ों स्वाहा

RELATED ARTICLES
5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular