Thursday, April 25, 2024
HomeजानकारियाँE-KYC कैसे करें?

E-KYC कैसे करें?

E-KYC कैसे करें-हेलो दोस्तों आज हम आपको E-KYC क्या है और E-KYC कैसे करें? इसके बारें में बताएँगे और आपको इससे सम्बंधित पूरी जानकारी हिंदी में और आसान शब्दो में मिलेगी अगर आपको ये पोस्ट पसंद आता है तो आप इस jugadme website को ज़रूर subscribe भी करें जिससे आपको और अच्छे-अच्छे टॉपिक्स पैर जानकारी मिलेगी और इसके बाद आपको किसी और website पर नहीं जाना पड़ेगा।आपको ये पोस्ट पसंद आएं तो आप इसे अपने दोस्तों तो भी Send करें-

KYC क्या है?

KYC (Know Your Customer) एक प्रक्रिया है जिसका उद्देश्य उपभोक्ताओं की पहचान और जानकारियों को भरना शामिल होता है जैसे पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, बैंक खाते का विवरण, पता आदि शामिल होता है । यह financial और अन्य सेवाओं के लिए जरुरी होता है जहाँ लोगों को उनकी आवश्यकताओं के अनुसार सेवाएं प्रदान की जाती हैं।




E-KYC क्या है?

E-KYC कैसे करें-KYC एक फॉर्म होता है जिसमे उपभोक्ताओं की पहचान से सम्बंधित जानकारियां भरी जाती है जैसे अपने आधार नंबर, नाम, जन्म तिथि और आदि। जब KYC की इस प्रक्रिया को ऑनलाइन माध्यम से भरा जाता है तो इसे E-KYC कहाँ जाता है।

इस प्रक्रिया में, उपभोक्ता अपनी पहचान के संबंध में जनकरियो को ऑनलाइन एक विशिष्ट वेबसाइट या मोबाइल ऐप के माध्यम से जमा करते हैं। उपभोक्ता अपने आधार नंबर, नाम, जन्म तिथि और अन्य संबंधित जानकारियों का उपयोग करते हुए अपनी पहचान के संबंध में जानकारी देते हैं। इसके बाद, आधार कार्ड के जानकारी ऑनलाइन को ऑनलइन ले द्वारा भरे जाते हैं और उपभोक्ता की पहचान की जानकारियां भरी जाती है।

E-KYC प्रक्रिया उपभोक्ताओं को भी आसानी से ऑनलाइन सेवाओं के लिए भरने करने देती है। इस प्रक्रिया का उपयोग विभिन्न वित्तीय संस्थाओं, बैंकों, बीमा कंपनियों और अन्य सेवा प्रदाताओं द्वारा किया जाता है।

E-KYC की परिभाषा क्या है?

E-KYC का पूर्ण रूप “इलेक्ट्रॉनिक नोलेज कार्ड” होता है। जिसमे ऑनलाइन websites या apps के माध्यम से एक उपभोक्ता से संबधित जानकारियों और आधार जैसे दस्तावेज़ों को भरा जाता है । यह इंटरनेट के माध्यम से किया जाता है और इसका उद्देश्य व्यक्ति की पहचान सत्यापित करना होता है। E-KYC से उपभोक्ता का समय भी बचता है और उसके साथ उसे कहीं बहार जाकर अपने Documents को जमा करने की जरुरत पड़ती और यह बहुत सुरक्षित भी होता है ।

E-KYC की full form क्या है?

E-KYC की फुल फॉर्म “electronic Know Your Customer” है।

E-KYC कब शुरू की गयी?

E-KYC कैसे करें-E-KYC की 2016 शुरु की गयी थी, जब सरकार ने अपने आधार परियोजना के तहत इसे शुरू किया । आधार परियोजना ने भारत में बड़े पैमाने पर ई-गवर्नेंस को आधार देने में मदद की। सिंचाई योजना के तहत, E-KYC की सुविधा को भी शुरू किया गया था जो कि भारत के कृषि विकास में समर्थन को प्रदान करती है।

E-KYC के प्रकार 

E-KYC के दो प्रकार होते हैं:

  1. OTP-Based E-KYC: इस प्रकार के E-KYC में, उपयोगकर्ता को अपनी पहचान स्तापित करने के लिए एक OTP (One-Time Password) भेजा जाता है, जो वे अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त करते हैं। उपयोगकर्ता को इस OTP को दर्ज करने के लिए एक Digital Form की प्राप्ति होती है। जब वे OTP को सफलतापूर्वक दर्ज करते हैं, तो उनकी पहचान सत्यापित होती है।
  2. Biometric-Based E-KYC: इस प्रकार के E-KYC में, उपयोगकर्ता को अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए उनके बायोमेट्रिक डेटा वह होता है जिसमे उंगली या आंख की स्कैनिंग की जाती है। उपयोगकर्ता को अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए Digital Form पर जाना होता है और वहाँ उन्हें अपने बायोमेट्रिक डेटा को दर्ज करना होता है। जब यह सफलतापूर्वक पूरा होता है, तो उनकी पहचान सत्यापित हो जाती है।

E-KYC कोन सी योजना के अंतर्गत आती है?

E-KYC विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत आता है। इसमें निम्नलिखित योजनाएं शामिल होती हैं:

  • डिजिटल इंडिया: डिजिटल इंडिया योजना में, E-KYC उपलब्धता बढ़ाने के लिए शामिल है।
  • जन धन योजना: जन धन योजना में, E-KYC उपलब्धता को बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाता है। यह गरीबों और वंचित लोगों को बैंकिंग सेवाओं के लिए भरने  के लिए उपयोगी होता है।
  • आधार: आधार योजना में, E-KYC आधार सत्यापन के लिए उपयोगी होता है।
  • डिजिटल इलाके: डिजिटल इलाके योजना में, E-KYC से लाभ उठाया जाता है जिससे नागरिकों को सरकारी वेबसाइटों पर भरने में आसानी होती है।

E-KYC कैसे करें?

ई-केवाईसी (E-KYC) करना बहुत आसान हो गया है और इसके लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  • आधार नंबर और अन्य आवश्यक जानकारी जैसे नाम, पता, जन्म तिथि, आदि उपलब्ध होने की जांच करें।
  • बैंक, इंश्योरेंस कंपनी या मोबाइल ऑपरेटर की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं जहां आप E-KYC करना चाहते हैं।
  • अपने आधार नंबर को भरें और सत्यापित करें।
  • आपके द्वारा दी गई जानकारी की सत्यापन करने के लिए आपको एक OTP (एक बार का पासवर्ड) भेजा जाएगा।
  • OTP को भरें और जारी रखें।
  • आपके आधार विवरणों को सत्यापित करने के बाद, आपको अपनी फोटो और आधार कार्ड की स्कैन कॉपी अपलोड करने के लिए कहा जाएगा।
  • अपनी फोटो और आधार कार्ड की स्कैन कॉपी अपलोड करें और सबमिट करें।

अंत में, एक सत्यापन पृष्ठ आपको दिखाया जाएगा जिसमें आपकी विवरण सही होने की जांच की जाएगी।




E-KYC के लिए आवश्यक दस्तावेज़ कौन से है?

E-KYC के लिए आवश्यक दस्तावेज़ निम्नलिखित हो सकते हैं:

  • आधार कार्ड: आधार कार्ड E-KYC की आधारभूत दस्तावेज है। इसे सत्यापित करने के लिए आपको अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • फोटो: आपकी फोटो भी E-KYC के लिए आवश्यक हो सकती है। इसमें आपका चेहरा स्पष्ट रूप से दिखाई देना चाहिए।
  • पता प्रमाण-पत्र: आपका पता प्रमाण-पत्र आपकी पते की सत्यापित करने के लिए उपयोगी हो सकता है। इसमें आपका नाम, पता, और जारी करने की तिथि शामिल होना चाहिए।
  • बैंक खाता विवरण: यदि आप बैंक खाता की जानकारी अपलोड कर रहे हैं तो आपको अपने बैंक खाते की जानकारी जैसे खाता नंबर, बैंक का नाम, ब्रांच का नाम आदि प्रदान करना होगा।

आपको E-KYC क्यों करना चाहिए?

E-KYC के अनेक लाभ हैं। निम्नलिखित कुछ कारणों से आपको E-KYC करना चाहिए:

  • सबसे महत्वपूर्ण कारण है कि यह आपकी पहचान को सत्यापित करता है। इससे आपके द्वारा जमा की गई जानकारी की सत्यता विश्वसनीयता से पुष्टि की जाती है।
  • E-KYC आपको भविष्य में होने वाली लेन-देन को सुरक्षित रखता है। इसे बैंक खाते खोलने, Credit Card लेने, insurance policy खरीदने, और इंटरनेट बैंकिंग के लिए उपयोग किया जा सकता है।
  • E-KYC काफी सरल और त्वरित होता है। इससे आपको किसी भी संस्था या सेवा प्रदाता के लिए जमा करने के लिए अपनी पहचान सत्यापित करने की आवश्यकता नहीं होती।
  • E-KYC ऑनलाइन पहचान सत्यापन प्रक्रिया होती है, जो आपको लंबी लाइनों में खड़े होकर इंतजार करने से बचाती है।
  • E-KYC आपकी जानकारी को सुरक्षित रखता है। आपकी पहचान और अन्य संबंधित जानकारी को सुरक्षित तरीके से संग्रहित करने के लिए कई सुरक्षा उपाय अपनाए जाते है।

E-KYC कब आवश्यक है?

E-KYC कई जगहों पर आवश्यक हो सकता है। कुछ मुख्य कारण निम्नलिखित हैं:

  • बैंक खाता खोलने के लिए: नए बैंक खाते खोलने के लिए आपको आमतौर पर E-KYC प्रक्रिया का उपयोग करना होता है।
  • Insurance policy खरीदने के लिए: कुछ इंश्योरेंस कंपनियों के लिए भी E-KYC आवश्यक होता है जब आप एक insurance policy खरीदते हैं।
  • Credit Card लेने के लिए: कुछ बैंकों द्वारा जारी की जाने वाली Credit Card के लिए भी E-KYC प्रक्रिया अनिवार्य होती है।
  • Mobile Sim Card खरीदने के लिए: Mobile Sim Card खरीदने के लिए भी आपको E-KYC प्रक्रिया का उपयोग करना होता है।
  • Digital Services का उपयोग करने के लिए: कुछ डिजिटल सेवाएं, जैसे ऑनलाइन खरीदारी और इंटरनेट बैंकिंग आदि, उन्हें उपयोग करने के लिए भी E-KYC प्रक्रिया की आवश्यकता होती है।

E-KYC करने के क्या फायदे है?

E-KYC करने के कई फायदे होते हैं। इनमें से कुछ मुख्य फायदे निम्नलिखित हैं:

  • सुरक्षा: E-KYC प्रक्रिया सुरक्षित होती है और उन लोगों की निजी जानकारी को सुरक्षित रखती है जो इस प्रक्रिया के माध्यम से अपनी पहचान सत्यापित करते हैं।
  • समय बचाती है : इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए कम समय लगता है और अन्य विकल्पों की तुलना में बहुत तेज होता है।
  • Documents की आवश्यकता नहीं होती: इस प्रक्रिया में, व्यक्ति को किसी भी तरह के फिजिकल Documents की आवश्यकता नहीं होती है। इससे वे अपने Documents को खोने या नुकसान से बच सकते हैं।
  • पेपर फ्री: E-KYC प्रक्रिया के माध्यम से, व्यक्ति को Digital Form में ही उनकी पहचान सत्यापित करने की सुविधा मिलती है। इससे पेपर फ्री प्रक्रिया होती है जो पर्यावरण के लिए भी अधिक उपयोगी होती है।
  • Banking transactions को सुविधाजनक बनाता है: E-KYC के माध्यम से, व्यक्ति को Banking transactions को सुविधाजनक बनाता है।

निष्कर्ष

यह तक दोस्तों आपने सीखा की E-KYC कैसे करें? उम्मीद है आपको मेरा बताया गया तरीका अच्छा लगा होगा यदि आप ऐसे ही और हिंदी ब्लॉग पढ़ना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही वेबसाइट पर आये है में अपने ऑडियंस को हिंदी में और फ्री में जानकारी देती हूँ यदि आप मेरी इस वेबसाइट के साथ ऐसे बने रहते है तो आपको टेक्नोलॉजी से जुड़े या अन्य जानकारिया ऐसे हिंदी हिंदी में जानने को मिलेगी इसके लिए आपको सबसे पहले JUGADME को सब्सक्राइब करना होगा जिससे आप तक मेरे बनाये गए पोस्ट आप तक आसानी से पहुंच जाये। और अपने रिश्तेदारों को जरूर शेयर करे। मुझे आपलोगो को सहयोग की अति आवश्यकता है।

FAQ’s:-

Q. E-KYC की full form क्या है?

Ans. E-KYC की फुल फॉर्म “electronic Know Your Customer” है।

Q. E-KYC कब शुरू की गयी?

Ans. E-KYC की 2016 शुरु की गयी थी।

Also Read:-

भाग्य लक्ष्मी योजना | Bhagya Lakshmi yojana Benefit & ऑनलाइन आवेदन

किसान सम्मान निधि योजना क्या है योजना की प्रमुख विशेषताएं

भाग्य लक्ष्मी योजना का फॉर्म कैसे भरें

RELATED ARTICLES
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular