इंटरनेट क्या है निबंध, लाभ, उपयोग Internet Essay In Hindi

नमस्कार दोस्तों आज में आपको इंटरनेट क्या है और इंटरनेट पर निबंध और इसके बारे में पूरी जानकारी जोकि आपलोगो को नहीं पता आज आप सरल भाषा में जानने वाले है इंटरनेट क्या है और उससे जुडी जानकारी तो आइए जानते है क्या आख़िरकार – इंटरनेट क्या है 

Also Read :  

इंटरनेट का फुल फॉर्म

Inter Connected Network है। इसका शुरुआत संयुक्त राज्य अमेरिका से हुआ था, जहां के सरकारी अधिकारी और वैज्ञानिक इसे बनाने के लिए काम कर रहे थे। Internet Essay In Hindi

इंटरनेट का इतिहास

इंटरनेट का इतिहास 1969 के दशक में शुरू हुआ था, जब संयुक्त राज्य अमेरिका के सरकारी अधिकारी और वैज्ञानिक ने एक सुनहरे और स्थान निर्धारित नेटवर्क का निर्माण किया था, जिसका नाम स्वतंत्र संचार नेटवर्क (ARPANET) था। इसने कंप्यूटर से कंप्यूटर के बीच संचार को संभव बना दिया। इसके बाद, कई अन्य नेटवर्क इससे जुड़ गए, जो कि आज इंटरनेट को बनाते हैं। इंटरनेट के विकास के साथ साथ, कंप्यूटर संचार के क्षेत्र में बहुत सारी बदलाव हुए हैं, जिससे इंटरनेट को संचार, शोध, शिक्षा, व्यवसाय, मनोरंजन, और अधिक कुछ के रूप में उपयोग किय
भारत में इंटरनेट का इतिहास
भारत में इंटरनेट का इतिहास 15 अगस्त 1995 के समय शुरू हुआ था, जब भारत सरकार ने स्थानीय कंपनियों को इंटरनेट के सुविधाओं की पहुंच को सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय इंटरनेट सेवा प्रदान करने की अनुमति दी। पहले से ही कुछ संस्थानों और वैज्ञानिकों ने इंटरनेट का उपयोग करने का प्रयास किया था, लेकिन सबसे अधिक आबादी को इससे संबंधित सुविधाओं की पहुंच नहीं थी. इसके बाद, इंटरनेट का उपयोग कई क्षेत्रों में बढ़ते ही जा रहा था
इंटरनेट का मालिक कौन है
इंटरनेट का कोई एकमात्र मालिक नहीं है, क्योंकि इंटरनेट एक वैश्विक नेटवर्क है, जो कई कंपनियों, संगठनों, सरकारों, और वैज्ञानिकों द्वारा रखरखाव किया जाता है। इंटरनेट के परिचालन के लिए कई संगठनों को काम करने को मिलता है, जैसे कि संयुक्त राज्य अमेरिका की सरकार द्वारा संचालित कंप्यूटर नेटवर्क प्रोजेक्ट (ICANN) और विश्व इंटरनेट का संस्था (W3C), जो स्थानीय संगठनों को संचालित करते हैं।
इंटरनेट की खोज किसने की

इंटरनेट की खोज को सबसे पहले स्वतंत्र संचार नेटवर्क (ARPANET) के काम करते हुए किया गया था, जिसका निर्माण संयुक्त राज्य अमेरिका के सरकारी अधिकारी और वैज्ञानिक द्वारा किया गया था। इसका उद्देश्य संयुक्त राज्य अमेरिका की सरकारी संस्थानों के कंप्यूटर के बीच संचार को संभव बनाना था. Internet Essay In Hindi 

कई वैज्ञानिकों और संगठनों के काम के साथ इंटरनेट का उन्नयन हुआ, जो कि आज के इंटरनेट को बनाते हैं। इंटरनेट की खोज के साथ साथ, संचार क्षेत्र में कई बदलाव हुए हैं,

इंटरनेट कैसे बनाया जाता है

इंटरनेट को बनाने के लिए कई कामों का सम्मिलन किया जाता है, जैसे कि:

  1. नेटवर्क संरचना:
  2. प्रोटोकॉल संरचना:

इंटरनेट को बनाने के लिए सबसे पहले डेटाबेस सर्वर स्थापित किये जाते हैं और इसके बाद इन सर्वर को IP और TCP टेक्नोलॉजी के द्वारा फाइबर केबल की मदद से आपस में जोड़ दिया जाता है

इंटरनेट के प्रकार 

  • Intranet (इंट्रानेट)
  • Extranet (एक्सट्रानेट)

1- Intranet क्या है

यह नेटवर्क प्राइवेट होता है. इंट्रानेट का इस्तेमाल अधिकतर कम्पनी अपने कंप्यूटर को सुरक्षित तरीके से कनेक्ट करने के लिए करती है

2- Extranet क्या है

Extranet भी एक प्रकार का प्राइवेट नेटवर्क होता है जो कि पब्लिक इंटरनेट की मदद से एक ब्रांच से दुसरे ब्रांच में कनेक्ट रहता है.

इंटरनेट के उपयोग

इंटरनेट को कई क्षेत्रों में उपयोग किया जा सकता है, जैसे कि:
  1. शिक्षा: स्कूलों, कॉलेज, और यूनिवर्सिटीज़ में शिक्षा के लिए इंटरनेट का उपयोग किया जा सकता है.
  2. समाचार: इंटरनेट के माध्यम से समाचार पढ़ा जा सकता है.
  3. व्यापार: इंटरनेट के माध्यम से व्यापार करना और कुछ की खरीद-बिक्री करनी के लिए प्रयोग किया जा सकता है.
  4. संपर्क: इंटरनेट के माध्यम से संपर्क करना और किसी से चैट करना के लिए प्रयोग किया जा सकता है.
  5. मनोरंजन: इंटरनेट के माध्यम से संगीत, वीडियो, फिल्में

इंटरनेट के फायदे

इंटरनेट के कई फायदे हैं:
  1. शिक्षा: इंटरनेट से शिक्षा संबंधी सूचना और साधन उपलब्ध होते हैं, जो कि शिक्षकों और छात्रों को सीखने में सहायता प्रदान करते हैं.
  2. समाचार: इंटरनेट से समाचार पढ़ने के लिए संविधा उपलब्ध होती है, जिससे कि लोगों को दुनिया की घटनाओं के बारे में सूचित रहने की संभवता होती है
  3. व्यापार: इंटरनेट के माध्यम से व्यापार करने के लिए संविधा 
इंटरनेट के नुकसान
इंटरनेट के कुछ नुकसान हैं:
  1. सुरक्षा: इंटरनेट का उपयोग करते समय सुरक्षा समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं, जैसे कि कैप्टन होकर अपनी कुछ प्रोफाइल को गैर-कानूनी तरीके से पहुँच पाने की सम्भावना।
  2. परेशानी: इंटरनेट के कुछ साइटों से सम्बंधित परेशानी हो सकती है, जैसे कि अशुद्ध सामग्री, स्पैम ईमेल, या कुछ अश्लील सामग्री.
  3. समय का बरबाद: इंटरनेट के कुछ साइटों से सम्बंधित समय का बरबाद हो सकता है, जैसे कि खेलों और सोशल मीडिया साइटों से.

तो यह तक यह पोस्ट फिनिश हो चूका है उम्मीद है आपको यह आपको यह पोस्ट अच्छा लगा होतो और ऐसे ही पोस्ट पढ़ने के लिए सबसे पहले आप Jugadme को सब्सक्राइब करे जिससे जब भी में आपके लिए नया ब्लॉग पोस्ट बनाऊ आप तक पहुंच सके , और मेरे इस पोस्ट को आगे जरूर शेयर करे क्योकि मुझे आपके सहयोग की आवश्यकता है।

5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments