Wednesday, May 29, 2024
Homeदार्शनिक स्थलराजस्थान के दर्शनीय स्थलों की List | Rajasthan Tourist Places To Visit...

राजस्थान के दर्शनीय स्थलों की List | Rajasthan Tourist Places To Visit In Hindi

राजस्थान के दर्शनीय स्थल- राजस्थान उत्तर-पश्चिमी भारत में एक राज्य है। यह क्षेत्रफल के हिसाब से भारत का सबसे बड़ा राज्य है और अपने रेगिस्तानी परिदृश्य, किलों और महलों के लिए जाना जाता है। 





राजस्थान के दर्शनीय स्थलों की List | Rajasthan Tourist Places To Visit In Hindi- इसे ‘राजपूताना’ के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि यहां राजपूत शासकों का बड़ा संस्थान था। राजस्थान प्रदेश अपनी भौगोलिक और सांस्कृतिक विविधताओं, प्राचीन नगरों, किलों, महलों, गाँवों, रेगिस्तानी उद्यानों और प्रशिद्ध मंदिरों के लिए विख्यात है। राजस्थान का प्रमुख शहर जयपुर है, जिसे ‘गुलाबी नगर’ के नाम से भी जाना जाता है। यह शहर अपने पिंक-संगमरमर के महलों, जल महल के लिए प्रसिद्ध है और एक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल है।

राजस्थान में अन्य प्रमुख शहरों में जोधपुर, उदयपुर, जैसलमेर, बीकानेर, अजमेर, बूंदी, चित्तौड़गढ़, और जैसलमेर शामिल हैं। यहां आप प्राचीन किले, उम्मीदवार महल, रेगिस्तानी उद्यान, पुष्कर का मेला, भट्टी चोगान के गांव, और खासकर राजपूत संस्कृति, रंगीनी और मिठाईयों का आनंद ले सकते हैं।


राजस्थान जाने का सही समय (Best time to places to visit in Rajasthan ) –

राजस्थान के दर्शनीय स्थलों की List- राजस्थान की यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय सर्दियों (अक्टूबर से मार्च) का है, जब मौसम सुहावना होता है। गर्मी (अप्रैल से जून) बहुत गर्म और आर्द्र हो सकती है, और मानसून का मौसम (जुलाई से सितंबर) बारिश वाला हो सकता है।

TEMPERATURE & RAINFALL AROUND THE YEAR [पूरे वर्ष तापमान एवं वर्षा]

  • January to March

    50F – 80F
    10°C – 27°C
    4MM – 7MM

  • April to June

    75F – 105F
    24°C – 45°C
    11MM – 30MM

  • July to September

    70F – 95F
    21°C – 35°C
    100MM – 165MM

  • October to December

    55F – 85F
    13°C – 30°C
    3MM – 8MM

राजस्थान के दर्शनीय स्थलों की List | Rajasthan Tourist Places To Visit In Hindi

जयपुर

राजस्थान के दर्शनीय स्थलों की List राजस्थान की राजधानी जयपुर अपनी गुलाबी बलुआ पत्थर की वास्तुकला के लिए जानी जाती है। यह शहर हवा महल (हवाओं का महल), जंतर मंतर (खगोलीय वेधशाला) और सिटी पैलेस का घर है।

भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है। इसे ‘गुलाबी नगर’ के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि यहां के पुरातात्विक और सामाजिक इतिहास में अपनी गुलाबी-रंगीन इमारतों के लिए प्रसिद्ध है।

जयपुर एक वास्तुकला, साहित्य, और प्राकृतिक सौंदर्य का संगम है। यहां आपको हवेलियाँ, महल, किले, बाजारों, गार्डन्स, और मंदिर मिलेंगे। प्रमुख पर्यटन स्थलों में अंबेर किला, हवा महल, जंतर मंतर, अल्बर्ट हॉल म्यूजियम, नहरगढ़ फ़ोर्ट, बीरला मंदिर, और जयपुर के अन्य महल और मंदिर शामिल हैं।

जयपुर का खास चार्म मार्केट प्रसिद्ध है, जहां आप राजस्थानी संगठित बाजार, स्थानीय कला-हस्तशिल्प उत्पाद, गहने, गुलाबी-रंगीन पोशाक, मिठाई और राजस्थानी खाद्य पदार्थ प्राप्त कर सकते हैं।

उदयपुर

पिछोला झील के किनारे बसा शहर उदयपुर अपनी खूबसूरती और महलों के लिए जाना जाता है। यह शहर सिटी पैलेस, लेक पैलेस और जग मंदिर पैलेस का घर है।

यह शहर अपनी आकर्षक झीलों, प्राचीन महलों, पालेसों, बागों, और विशाल संगमरमर कार्विंग के लिए प्रसिद्ध है। उदयपुर को ‘झीलों की नगरी’ के नाम से भी जाना जाता है।


उदयपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल लेक पलेस है, जो पिछले मेवाड़ के महाराणा के निवास के रूप में था। यह इमारत लेक पिचोला के किनारे स्थित है और इसकी महान वास्तुकला, मिश्रित संगमरमर और झरोखों के अलावा इसके चारमण्डल और बागों में भी ध्यान आकर्षित करती है।

उदयपुर में साहेलियों की बाड़ी, जग मंदिर, फतेह सागर, जगदीश मंदिर, शिल्प ग्राम, और उदयविलास पैलेस जैसे प्रमुख पर्यटन स्थल शामिल हैं। यहां आपको राजपूताना कला, साहित्य, संगीत, नृत्य, और स्थानीय वस्त्र और गहनों का भी अद्यतन मिलेगा।

जैसलमेर

थार रेगिस्तान का एक शहर, जैसलमेर अपने किलों और पीले बलुआ पत्थर की इमारतों के लिए जाना जाता है। यह शहर जैसलमेर किले, पटवों-की-हवेली (एक व्यापारी की हवेली) और सलीम सिंह की हवेली (एक रईस की हवेली) का घर है।

यह शहर अपनी महान थार मरूस्थली में स्थित है और ‘रेगिस्तान की रानी’ के नाम से प्रसिद्ध है। जैसलमेर अपने पालेस, हवेलियाँ, महलों, और सुरंगों के लिए विख्यात है, जो तत्कालीन जैसलमेर राजवंश के आदान-प्रदान कर्त्ताओं के द्वारा निर्मित किए गए थे।

जैसलमेर का प्रमुख पर्यटन स्थल जैसलमेर किला है, जिसे सोनार किला भी कहा जाता है। यह एक महान खिलौना है जो तात्कालिक राजपूताना संस्कृति, कला और विरासत को प्रदर्शित करता है। किले की ऊचाई से आप शहर के पूरे दृश्य का आनंद ले सकते हैं।

जैसलमेर में प्रमुख पर्यटन स्थलों में पटवों की हावेली, जैन मंदिर, गढ़ी सागर झील, पाटवों का नाथ, बादल महल, बरमल का महल और सम धाम मंदिर शामिल हैं। यहां आप जैसलमेर की संस्कृति, फोल्क संगीत, रेगिस्तानी रसोईघर, और स्थानीय वस्त्र और गहनों का आनंद ले सकते हैं।

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान

अरावली पहाड़ियों में एक वन्यजीव पार्क, रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान बाघों, तेंदुओं और अन्य जंगली जानवरों का घर है। यह पार्क सफ़ारी के लिए एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

यह उद्यान सागवान वनों, झाड़ियों, और वन्यजीवों के लिए प्रसिद्ध है। इसे तत्कालीन जैसलमेर राजवंश के राजाओं ने अपनी शिकार और आदर्श वन्यजीव संरक्षण क्षेत्र के रूप में स्थापित किया था।

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में विभिन्न प्रकार के पशु-पक्षी जैसे बाघ, चीतल, सांभर, नीलगाय, गैंडा, बाज, और भारतीय चील जैसे वन्यजीव देखे जा सकते हैं। यहां के जंगल में घुसपैठियों को भी देखा जा सकता है।



पुष्कर

पुष्कर राजस्थान प्रदेश के अजमेर जिले में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह पवित्रतम तीर्थ स्थलों में से एक माना जाता है और हिंदू और जैन धर्म के श्रद्धालुओं के बीच बहुत प्रसिद्ध है। पुष्कर दुनिया भर के लोगों को अपनी पुण्यवान झीलों, तीर्थ स्थलों, और विभिन्न धार्मिक और सांस्कृतिक आयोजनों के लिए आकर्षित करता है।

पुष्कर में सबसे प्रमुख धार्मिक स्थल ब्रह्मा मंदिर है, जिसे पुष्कर का राजमंदिर भी कहा जाता है। यह भगवान ब्रह्मा को समर्पित है और यह एकमात्र ब्रह्मा मंदिर है जो भारत में स्थित है। पुष्कर झील भी प्रमुख धार्मिक महत्व रखती है और इसे स्नान का स्थान माना जाता है।

पुष्कर का कार्तिक मेला, जो हर साल नवंबर या दिसंबर में आयोजित होता है, विश्वस्तरीय रुप से प्रसिद्ध है। इस मेले में लाखों पर्यटक और श्रद्धालु एकत्रित होते हैं और गोवंश प्रदर्शन, मेले की बाजारें, पशु-पक्षियों की नीलामी, कुश्ती प्रतियोगिताएं और धार्मिक पूजाएं आयोजित की जाती हैं।

राजस्थान के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल कौन कौन से हैं?

RELATED ARTICLES
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular