Thursday, April 25, 2024
HomeComputer & TechnologyAssembly Language क्या है ?

Assembly Language क्या है ?

Assembly Language क्या है –हेलो दोस्तों आप लोगो से उम्मीद करते है की आप को हमारा ये Assembly Language क्या है पोस्ट पसंद आये इस पोस्ट में हमने आप को इसकी पूरी जानकारी दी है इस पोस्ट को पड़ने के बाद आप को इसके बारे में सभी प्रकार की जानकारी  हो जाएगी तो कजलिय शुरू करती है

Assembly Language क्या है ?

Assembly Language क्या है –Assembly Language कंप्यूटर की संवाद भाषा होती है जो कंप्यूटर विज्ञान में प्रयुक्त होती है। यह एक उच्च-स्तर की मशीन भाषा होती है जिसे मशीन कोड के रूप में जाना जाता है। Assembly Language का उपयोग कंप्यूटर अपरेटिंग सिस्टम, ड्राइवर, एप्लीकेशन और अन्य सॉफ्टवेयर को विकसित और उन्हें संशोधित करने के लिए किया जाता है।

Assembly Language में, मशीन कोड के लिए बिना किसी एक्सट्रा अभिव्यक्ति के कमांड दिए जाते हैं जो मशीन के प्रोसेसर द्वारा सीधे समझे जा सकते हैं। इसलिए, यह उपयोगकर्ता द्वारा समझने योग्य नहीं होती है, लेकिन उनके द्वारा लिखे गए कोड को मशीन द्वारा समझा जा सकता है।




Assembly Language के उदाहरण

इस उदाहरण में,हम x86 प्लेटफ़ॉर्म के लिए एक असेंबली कोड देखेंगे, जो दो संख्याओं का जोड़ने की क्रिया करता है।

css Copy code

  • section .data      ; यह खंड डेटा सेक्शन होता है जहां आवश्यक डेटा घोषित किया जाता है
  •    num1 dd 10       ; num1 नाम का 32 बिट डबल वर्ड घोषित किया जाता है, जिसमें 10 भरा जाता है
  •    num2 dd 20       ; num2 नाम का 32 बिट डबल वर्ड घोषित किया जाता है, जिसमें 20 भरा जाता है
  •    sum  dd 0        ; sum नाम का 32 बिट डबल वर्ड घोषित किया जाता है, जिसमें शून्य भरा जाता है
  • section .text      ; यह खंड टेक्स्ट सेक्शन होता है जहां कोड लिखा जाता है
  •    global _start   ; _start लेबल को एक्सेक्यूटेबल फ़ाइल में प्रवेशद्वार के रूप में निर्दिष्ट किया जाता है
  • _start:            ; यहां से एक्सेक्यूटेबल कोड शुरू होता है
  •    mov eax, [num1]  ; num1 वर्ड को eax रजिस्टर में लोड किया जाता है
  •    add eax, [num2]  ; num2 वर्ड को eax में जोड़ा जाता है
  •    mov [sum], eax   ; eax को sum वर्ड में स्टोर किया जाता है
  •    mov eax, 1       ; eax को 1 के समान सेट किया जाता है

Assembly Language की विशेषताएं

Assembly Language के कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं निम्नलिखित हैं:

  • निर्विवाद व्याख्या: Assembly Language में निर्देशों की सीधी व्याख्या होती है और यह कंप्यूटर के लिए आसान होती है। इसे कंप्यूटर द्वारा समझा जाने वाला सबसे निष्कर्षणों में से एक होता है।
  • पोर्टेबिलिटी: Assembly Language का उपयोग विभिन्न प्लेटफॉर्म्स के लिए किया जा सकता है।
  • प्रोग्राम की गति: Assembly Language द्वारा लिखे गए प्रोग्रामों की गति अधिक होती है जो इन्हें अन्य उच्च स्तरीय भाषाओं से अलग बनाती है।
  • निष्पक्षता: Assembly Language की गिनती निष्पक्ष होती है और यह विभिन्न संस्करणों और प्लेटफॉर्मों के लिए संगत होती है।
  • मशीन भाषा के समीप: Assembly Language मशीन भाषा के बहुत करीब होती है जो इसे कंप्यूटर के लिए बेहद असाधारण बनाता है।

Assemble क्या होता है

Assemble (Assembler) एक सॉफ्टवेयर होता है जो Assembly Language में लिखे गए प्रोग्राम को मशीन कोड में बदलता है। इसका उपयोग कंप्यूटर प्रोसेसर द्वारा समझी जाने वाली मशीन भाषा में लिखे गए प्रोग्रामों के निर्देशों को आसान और तीव्र तरीके से लिखने के लिए किया जाता है।

Assemble को आमतौर पर एक इंटरप्रेटर या कंपाइलर के रूप में वर्णित किया जाता है। इसके उपयोग से Assembly Language में लिखे गए प्रोग्राम को मशीन कोड में बदला जाता है जो कि कंप्यूटर प्रोसेसर द्वारा समझे जाने वाले निर्देशों का सेट होता है।

Assemble आमतौर पर आपके कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम के एक हिस्से के रूप में आता है, या फिर एक स्टैंडअलोन सॉफ्टवेयर के रूप में भी उपलब्ध होता है जो Assembly Language में लिखे गए प्रोग्रामों को मशीन कोड में बदलता है।

असेम्बली भाषा के फायदे

असेम्बली भाषा के कुछ महत्वपूर्ण फायदे हैं:

  • तेजी: असेम्बली भाषा, मशीन भाषा से काफी उच्च स्तर की तेजी में प्रोग्रामिंग करने की सुविधा प्रदान करती है। इसे अधिक ज्ञानवान और तकनीकी लोग उपयोग करते हैं जो कम समय में एक उच्च स्तर के निर्देशों का उपयोग करते हुए काम कर सकते हैं।
  • संपादन करने में आसानी: असेम्बली भाषा में लिखा हुआ कोड आसानी से संपादित और सम्पादित किया जा सकता है। इसलिए, यह कोड में संशोधन करने के लिए एक बहुत ही सुविधाजनक विकल्प होता है।
  • अलग-अलग प्लेटफॉर्मों पर काम करता है: असेम्बली भाषा को किसी भी प्लेटफॉर्म पर उपयोग किया जा सकता है। इसलिए, इसे पोर्टेबल बनाने के लिए एक बहुत ही उपयोगी विकल्प होता है।
  • डेबगिंग की सुविधा: असेम्बली भाषा का उपयोग करके डेबगिंग करने में भी बहुत सुविधा होती है। कोड को आसानी से संशोधित किया जा सकता है और डेबगिंग समस्याओं को तुरंत समाधान किया

असेम्बली भाषा के नुकसान

असेम्बली भाषा के कुछ महत्वपूर्ण नुकसान हैं:

  • मशीन भाषा से भी कठिन: असेम्बली भाषा मशीन भाषा से कठिन होती है, जो उच्च स्तर के भाषाओं की तुलना में कम उच्च स्तरीय होती है।
  • बड़े प्रोग्रामों के लिए नहीं उपयोगी: असेम्बली भाषा बड़े प्रोग्रामों के लिए उपयोगी नहीं होती है, क्योंकि बड़े प्रोग्रामों को लिखने में बहुत समय लगता है और यह संभव नहीं होता है कि वे सही ढंग से लिखे जाएं।
  • संशोधन और परिवर्तनों के लिए समय लगता है: असेम्बली भाषा में लिखा हुआ कोड संपादित करना बहुत मुश्किल होता है और परिवर्तनों को अनुकूलित करने के लिए बहुत समय लगता है।
  • विस्तारित कीमत: असेम्बली भाषा के विकास और इसे उपयोग करने की चीजों की कीमत बहुत अधिक हो सकती है, जो छोटे व्यवसायों या विद्यार्थियों के लिए संभव नहीं होती है।

मशीनी भाषा और Assembly Language में अंतर

मशीन भाषा और असेम्बली भाषा दोनों कंप्यूटर भाषाएं होती हैं, लेकिन इनमें बहुत सारे अंतर होते हैं।

  • मशीन भाषा एक बाइनरी भाषा होती है जिसे कंप्यूटर समझता है, और इसे हमारे द्वारा समझना बहुत मुश्किल होता है। इसके विपरीत, असेम्बली भाषा कोडिंग का एक उच्च स्तर होता है जिसे कंप्यूटर समझ सकता है।
  • मशीन भाषा को सीधे मशीन कोड में लिखा जाता है जो कंप्यूटर द्वारा समझा जा सकता है। वहीं, असेम्बली भाषा में कोडिंग को संक्षिप्त रूप में लिखा जाता है जिसे इंटरप्रिटर द्वारा उसे मशीन कोड में ट्रांसलेट कर दिया जाता है।
  • मशीन भाषा बहुत अस्थाई होती है क्योंकि यह उन संख्याओं और अक्षरों से बनी होती है जो सीधे कंप्यूटर के अंतर्गत होते हैं। इसके विपरीत, असेम्बली भाषा उच्च स्तर की होती है जिससे प्रोग्रामिंग अधिक आसान होता है।

RELATED ARTICLES
5 2 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular