Thursday, April 25, 2024
Homeजानकारियाँअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 निबंध, थीम, भाषण, महत्व (International Yoga Day, Theme...

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 निबंध, थीम, भाषण, महत्व (International Yoga Day, Theme in Hindi)

अंतराष्ट्रीय योग दिवस 2023 निबंध International Yoga Day Essay In Hindi, International Yoga Day भाषण, महत्व, स्लोगन,कविता, शायरी, लेख, Logo, Theme, Protocol, Quotes





अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023- अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस हर साल 21 जून को मनाया जाता है। यह पहली बार भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 27 सितंबर, 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण के दौरान प्रस्तावित किया गया था। प्रस्ताव को 175 सदस्य देशों द्वारा समर्थन दिया गया था, और 11 दिसंबर, 2014 को संयुक्त राष्ट्र ने जून की घोषणा की। 21वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में।

अंतराष्ट्रीय योग दिवस 2023 International Yoga Day

अंतराष्ट्रीय योग दिवस 2023 निबंध – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य योग के अभ्यास के लाभों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और वैश्विक सद्भाव, स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देना है। योग एक प्राचीन शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास है जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई थी। इसमें शारीरिक मुद्राएं, सांस लेने के व्यायाम और ध्यान तकनीक का संयोजन शामिल है जो समग्र स्वास्थ्य और आंतरिक शांति को बढ़ावा देता है।

नाम अंतराष्ट्रीय योग दिवस
कब है 21 जून
कहां मनाया जाता है पूरी दुनिया में मनाया जाता है
शुरू कब से हुआ था  साल 2015 से
कैसे मनाते है योग और लोगों को इसके बारे में जागरूक करते हुए
देखरेख आयुष मंत्रालय

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर, दुनिया भर के लोग योग से संबंधित विभिन्न गतिविधियों में भाग लेते हैं, जिनमें योग सत्र, कार्यशालाएं, व्याख्यान और प्रदर्शन शामिल हैं। सरकारें, गैर-सरकारी संगठन और योग के प्रति उत्साही इस दिन को मनाने के लिए कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं और शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर योग के सकारात्मक प्रभाव को उजागर करते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस ने विश्व स्तर पर महत्वपूर्ण लोकप्रियता हासिल की है, और यह एक स्वस्थ और अधिक संतुलित जीवन शैली के लिए हमारे दैनिक जीवन में योग को शामिल करने के महत्व की याद दिलाता है।a

अंतराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत History

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 निबंध, थीम, भाषण, महत्व – अंतराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत 21 जून 2015 को हुई। यह दिन प्रथम अंतराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया गया था। यह निर्णय 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा लिया गया था, जब उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।





अंतराष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य उद्देश्य योग के लाभों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और वैश्विक समानता, स्वास्थ्य और आत्मिक शांति को प्रमोट करना है। योग एक प्राचीन शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास है जो भारत से उत्पन्न हुआ है। इसमें शारीरिक आसन, श्वास प्राणायाम और ध्यान तकनीकों का संयोजन होता है जो समग्र स्वास्थ्य और आंतरिक शांति को बढ़ाने में सहायता करता है।

अंतराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर, दुनिया भर के लोग विभिन्न योग संबंधित गतिविधियों में भाग लेते हैं, जिनमें योग सत्र, कार्यशाला, व्याख्यान और प्रदर्शन शामिल होते हैं। सरकारें, गैर-सरकारी संगठन और योग प्रेमियों द्वारा इस दिन की धूमधाम से मनाई जाती है और योग के सकारात्मक प्रभाव को हाइलाइट किया जाता है।

अंतराष्ट्रीय योग दिवस ने वैश्विक स्तर पर महत्वपूर्ण प्रसिद्धि प्राप्त की है, और यह हमें हर दिन के जीवन में योग को शामिल करने की महत्वाकांक्षा को याद दिलाता है, ताकि हम स्वस्थ और संतुलित जीवन जी सकें।

अंतराष्ट्रीय योग दिवस 2023 कब है International yoga 2023 day Date

अब बात आती है की आखिरकार योग दिवस कब है हर साल की इस साल भी अंतराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को मनाया जायेगा.

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का लोगो International Yoga Day Logo

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लोगो में एक व्यक्ति को दोनों हाथ जोड़ते हुए दिखाया जाता है इस लोगो को बनाने में हरे, भूरे, पीले और नीले रंग का इस्तेमाल किया गया है हरे रंग की पत्तियां प्रकृति का प्रतीक हैं,नीला रंग पानी का प्रतीक है, पीला रंग आग तत्व का प्रतीक है और सूरज ऊर्जा और प्रेरणा के स्रोत का प्रतीक माना जाता है और साथ ही ‘योग फॉर हारमनी एंड पीस’ लिखा गया है

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कहां किया जाएगा आयोजन (Celebrated on Dehradun 2023)

अंतराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन विभिन्न देशों में किये जाते हैं। आयोजन की जगह वर्ष भर में बदलती रहती है। प्रमुखतः, यह आयोजन भारत में विशेष रूप से आयोजित होता है, क्योंकि योग का उद्गमस्थान भारत ही है। भारत सरकार अध्यात्मिक और योगिक परंपरा के महत्व को बढ़ावा देने के लिए इसे विशेष महत्व देती है। इसके अलावा, अन्य देशों में भी योग दिवस की धूमधाम से बड़ी संख्या में आयोजन किए जाते हैं, जहां लोग योग के लाभों का आनंद लेते हैं और योग की प्रक्रियाओं को समझने और सीखने का मौका प्राप्त करते हैं।





अंतराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन विभिन्न स्थानों पर हो सकते हैं, जैसे आश्रम, योग संस्थान, पार्क, सार्वजनिक स्थान, शैक्षिक संस्थान, क्लब, और अन्य स्वास्थ्य संबंधित संस्थान। यहां पर्यावरण के अनुकूल होने और लोगों को समूह में योगाभ्यास करने के लिए अवसर मिलता है।

covid के समय में देहरादून में इस दिवस का आयोजन किया गया था. इस दिवस के दिन देहरादून में भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई सारे लोगों ने योगा किया

महत्वपूर्ण योगासन के नाम Yoga asanas with names and information Protocol

ताड़ासन 

पेड़ की तरह खड़े होने का आसन

वृक्षासन

पेड़ की तरह बाले खड़े होने का आसन

त्रिकोणासन 

त्रिकोण की आकृति बनाने का आसन

भुजंगासन

सांप की तरह सर्प की भूमि से ऊपर उठने का आसन

पश्चिमोत्तानासन

पूर्व की ओर मुड़कर बैठने का आसन

वज्रासन 

घुटने के बल बैठने का आसन

शवासन 

शव की तरह सोने का आसन

पद्मासन

पंक्ति की आकृति बनाने का आसन

उष्ट्रासन

ऊंट की तरह गर्दन को पीछे करने का आसन

शीर्षासन 

सिर का खंभी मांसपेशियों पर खड़ा होने का आसन

अंतरर्राष्ट्रीय योग दिवस क्यों मनाया जाता है

अंतरर्राष्ट्रीय योग दिवस क्यों मनाया जाता है- योग शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्तर पर स्वास्थ्य और आत्मा का संतुलन स्थापित करने में मदद करता है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के माध्यम से, लोगों को योग के महत्व की जागरूकता होती है और वे अपने स्वास्थ्य को सुधारने के लिए योग को अपना सकते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को विभिन्न देशों में सामरिक और सामरिकी संगठन द्वारा समर्थन मिलता है। यह एक माध्यम है जिसके माध्यम से लोग योग में साझा भागीदारी कर सकते हैं और योग के लाभों को समझ सकते हैं। योग एक प्राचीन भारतीय परंपरा है और विश्वभर में महत्वपूर्ण मान्यता प्राप्त है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस इस परंपरा को समर्पित है और उसकी महत्वता को मान्यता देता है। यह दिन भारतीय संस्कृति की गरिमा को बढ़ावा देता है और विश्व भर के लोगों को योग की महत्ता के प्रति जागरूक करता है।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस उद्देश्य

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य उद्देश्य योग की महत्ता और योग के विभिन्न आयामों को जागृत करना है। इसके माध्यम से लोगों को योग के शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक लाभों के बारे में जागरूक करने का प्रयास किया जाता है। योग एक संपूर्ण स्वास्थ्य और वेलनेस प्रणाली है। योग अभ्यास के माध्यम से, शारीरिक तंदुरुस्ती, मानसिक चमत्कार, स्थिरता और आंतरिक शांति प्राप्त की जा सकती है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य लोगों को स्वस्थ जीवनशैली के माध्यम से स्वस्थ बनाने और उन्नत वेलनेस को प्रमोट करने का है।

स्वामी राम देव का योग के लिए विशेष योगदान Ramdev baba yoga





स्वामी रामदेव भारतीय योग गुरु हैं और योग के क्षेत्र में उनका महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने योग को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए एक मार्गदर्शन प्रदान किया है और अपने योगासनों की सरलता और प्रभावकारिता के लिए मशहूर हैं।

स्वामी रामदेव ने पतंजलि योग की प्राचीन प्रणाली को व्यापक रूप से प्रमोट किया है। उन्होंने आध्यात्मिकता और योग के अभिप्राय के साथ पतंजलि योग के अध्ययन को लोगों के बीच लाने का प्रयास किया है। स्वामी रामदेव ने श्वास नियंत्रण और दुर्गंध के लिए विशेष रूप से प्राणायाम को महत्त्व दिया है। उन्होंने अनुलोम-विलोम, कपालभाति, भस्त्रिका, भ्रामरी जैसे प्राणायाम तकनीकों को आम लोगों तक पहुंचाने का प्रयास किया है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस अनमोल वचन Yoga Quotes in Hindi

  1. “योग शरीर, मन और आत्मा को एकीकृत करने का साधन है
  2. “योग शांति की बात सुनने के लिए बैठे रहने से अधिक है, यह एक जीवनशैली है।
  3. “योग उन्नति के द्वार खोलता है, जो शरीर, मन और आत्मा को समर्पित होता है
  4. “योग के माध्यम से हम अपने शरीर की देखभाल करते हैं, मन को नियंत्रित करते हैं और आत्मा के गहरे अंतर को जानते हैं।
  5. “योग करने से हम अपनी सीमाओं को पार करते हैं और अपनी सत्ता को जागृत करते हैं।
  6. “योग शरीर को स्थिरता, मन को चित्तशुद्धि, और आत्मा को मुक्ति देता है।
  7. “योग का उद्देश्य अपने आप से मिलन है, जो हमारे शरीर, मन और आत्मा की एकता को प्रकट करता है।

Also Read:

RELATED ARTICLES
5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular