Thursday, April 25, 2024
HomeComputer & Technologyऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल में क्या अंतर है?

ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल में क्या अंतर है?

CABLE क्या है।

ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल में क्या अंतर है-केबल एक तार का बंधल होता है जो विभिन्न प्रकार के सिग्नल, डेटा या ऊर्जा को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह तार सीमित या बहुत बड़े दूरी को कवर कर सकता है और इसके माध्यम से विभिन्न उपकरणों को अन्य उपकरणों से कनेक्ट करना मुश्किल होने से बचाता है।

केबल कई तरह के होते हैं जैसे कि कोएक्सियल केबल, ऑप्टिकल फाइबर केबल, उत्पादन केबल, नियंत्रण केबल और विद्युत केबल आदि। कोई भी उपयोग के अनुसार चुना जा सकता है।

इसके अलावा, बहुत सारे उपकरणों जैसे कंप्यूटर, मोबाइल फोन, टीवी, रेडियो आदि के बीच संचार के लिए भी केबल का इस्तेमाल किया जाता है।

Fiber क्या है।

फाइबर एक मजबूत, पारदर्शी या अपारदर्शी धातु या प्लास्टिक का बना हुआ धातु जिसके बहुत सारे पतले धागे होते हैं, होता है। इन पतले धागों को एक साथ मिलाकर फाइबर बनाया जाता है।

फाइबर की विशेषता यह है कि इससे ऊर्जा या डेटा को बेहतरीन तरीके से भेजा जा सकता है। फाइबर आवश्यकता के अनुसार विभिन्न आकारों में आता है जैसे कि छोटी फाइबर आवश्यकताओं के लिए होती है जबकि बड़ी फाइबर दूरी तक डेटा भेजने के लिए इस्तेमाल की जाती है।

फाइबर का उपयोग इंटरनेट, टेलीफोन, टेलीविजन और व्यापार के कई क्षेत्रों में किया जाता है। इसके अलावा, फाइबर एक सुरक्षित तरीके से डेटा ट्रांसमिशन के लिए उपयोग किया जाता है क्योंकि इसे बाहरी असरों से नुकसान नहीं होता है जैसे कि कोई इलेक्ट्रोमैग्नेटिक असर, इंटरफेरेंस या रेडियो फ्रीक्वेंसी इंटर्फेरेंस आदि।



Coaxial Cable क्या है।

ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल में क्या अंतर है-कोएक्सियल केबल (Coaxial cable) एक प्रकार का इलेक्ट्रिकल केबल है जो रेडियो फ्रीक्वेंसी (RF) सिग्नल को ट्रांसमिट करने के लिए उपयोग में लाया जाता है। इसमें एक केंद्रीय कंडक्टर होता है, जिसे एक इन्सुलेटेड कवर से आवरित किया जाता है। इस इन्सुलेशन लेयर के ऊपर एक मेटल शील्ड होता है, जो कि एक आउटर इन्सुलेटिंग कवर से ढका होता है। इस तरह के डिजाइन के कारण, कोएक्सियल केबल सिग्नल इंटरफ़ेरेंस को कम करने में मदद करता है और इसके माध्यम से भेजे गए सिग्नल की गुणवत्ता भी बेहतर बनाई जाती है। कोएक्सियल केबल का उपयोग टेलीविजन नेटवर्क, इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर, दूरसंचार कंपनियों और एयरोस्पेस इंडस्ट्री में होता है।

 

Optical fiber क्या है।

Optical fiber, या ऑप्टिकल फाइबर, एक प्रकार का केबल है जो दो या उससे अधिक शीशों के माध्यम से प्रकाश को ट्रांसमिट करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसमें प्रत्येक शीशा उत्तम गुणवत्ता वाले कांच का बना होता है जो प्रकाश को आगे बढ़ाने के लिए उत्तम तरीके से तैयार किया गया होता है। यह फाइबर ऑप्टिक इलेक्ट्रॉनिक्स की एक विशेषता है जिसमें प्रकाश नेत्रों का उपयोग करके जानकारी को लंबी दूरी तक बेजा जा सकता है।

Optical fiber का इस्तेमाल टेलीकम्यूनिकेशन और इंटरनेट से संबंधित क्षेत्रों में किया जाता है जहाँ अधिक दूरी के बीच डेटा को तेजी से ट्रांसमिट करने की जरूरत होती है। Optical fiber का इस्तेमाल कम विक्रेता एवं उपयोगकर्ता मूल्य (cost) वाले क्षेत्रों में भी होता है, जहाँ इसकी जरूरत उठती है जैसे कि मेडिकल उपकरण, सेंसर इंस्टॉलेशन और लाइटिंग इत्यादि में।

Optical Fibre vs Coaxial केबल में अंतर बताएं

ऑप्टिकल फाइबर केबल और कोएक्सियल केबल दोनों ही डेटा ट्रांसमिशन के लिए उपयोग किए जाने वाले केबल हैं, हालांकि ये दोनों में अंतर होता है।
  • तकनीकी अंतर – ऑप्टिकल फाइबर केबल उच्च गति वाली ऊर्जा को पारदर्शी फाइबर के माध्यम से भेजता है, जबकि कोएक्सियल केबल इलेक्ट्रॉनिक ऊर्जा का उपयोग करता है। यह ऑप्टिकल फाइबर केबल को अधिक गति और बंद चैनल प्रदान करने में सक्षम बनाता है, जबकि कोएक्सियल केबल इसमें सीमित होता है।
  • दूरी का अंतर – zयह ऑप्टिकल फाइबर केबल को विशाल संचार नेटवर्क्स में उपयोगी बनाता है जबकि कोएक्सियल केबल लॉकल नेटवर्क के लिए अधिक उपयोगी होता है।
  • सुरक्षा अंतर – ऑप्टिकल फाइबर केबल अधिक सुरक्षित होता है क्योंकि इसमें कोई इलेक्ट्रिकल ऊर्जा नहीं है।




 

RELATED ARTICLES
5 5 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular