You are currently viewing NFT Kaise Kam Karta hai  – NFT क्या है ?

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ?

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ?  , NFT कैसे काम करता है इन दिनो NFT पर ज़ोर शोर से conversation हो रही है। लोग का इसमें interest बढ़ रहा है और ले भी क्यूँ न जब कुछ दिन पहले ही Twitter के पूर्व CEO Jack Dorsey ने अपने पहले Tweet का NFT टोकन बनाकर उसको $2.9 million dollars में बेंच सकते है , इसके बाद तो जैसे एनएफ़टी टोकन्स की होड़ लग गयी कई सारे लोग अपनी creativity दिखा कर अलग अलग चीजों के NFT टोकन बनाकर लाखो करोड़ो रूपये कमा रहे है।

 

क्‍या है NFT का इतिहास?

नॉन-फंजिबल टोकन अर्थात एनएफटी को पहली बार मई 2014 में केविन मैककॉय (Kevin McCoy) OR अनिल दास (Anil Dash) द्वारा बनाया गया था। यह इथेरियम (Ethereum) ब्लॉकचेन तकनीक के principles पर काम करता है। कोई ऐसी तकनीकी आर्ट, जिसके बारे में यह promisse किया जाता है कि वह यूनिक है OR उसका मालिकाना हक यानी ऑनर्स राइट किसी एक खास व्‍यक्‍ति के पास ही है। इसी मालिकाना हक को नॉन-फंजिबल टोकन या एनएफटी कहा जाता है।


NFT Meaning in Hindi- NFT एक डिजिटल ऑब्जेक्ट है, जो ब्लॉकचैन तकनीक (Blockchain Technology) के साथ बनाई गई प्रामाणिकता के प्रमाण पत्र के साथ एनीमेशन, मेम, ट्वीट, आर्ट्स, ड्राइंग, फोटो, वीडियो या संगीत के तौर पर हो सकता है


 

NFT kya hai 

NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है देखिये हम आपको इस ब्लॉग के जरिये ये बताने वाले है की NFT का इस्तेमाल कैसे होता है , NFT एक क्रिप्टोग्राफिक टोकन है जिओकी  किसी यूनिक चीज को दीखता  है। NFT क्या है , NFT Kya hai , NFT Kya hota hai, NFT ka full form kya hai, NFT Meaning in Hindi, What is NFT in Hindi इसे नॉन-फंजिबल टोकन भी  कहते हैं। जब किसी व्यक्ति के पास NFT का होना इसे दिखता है  कि उसके पास कोई यूनिक या एंटीक डिजिटल आर्ट वर्क है जो दुनिया में OR किसी के भी पास नहीं है। NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है  NFT यूनिक टोकन्स होते हैं या यूं कहा जाए कि ये डिजिटल असेट्स होते हैं जो वैल्यू को जनरेट करते हैं।

एक 2000 rs का नोट है OR 2000 rs का ही एक दूसरा नोट आपके किसी मित्र के पास भी है। इन दोनों नोटो की वैल्यू सेम है यानि की चाहे आप अपनी नोट से कोई लेनदेन करें या आपके मित्र के पास जो नोट है वो कोई लेनदेन करें तो दोनों की कंडीसन में लेनदेन 2000 rs का ही होगा OR अगर आप चाहे तो अपनी 2000 rs की नोट को अपने मित्र की 2000 rs की नोट से बदल ले,उससे कोई भी फर्क नहीं पड़ेगा। कहने का मतलब ये की इस 2000 rs नोट की वैल्यू फिक्स ही रहेगी यानि की 2000 rs ही रहेगी।

अब होता ये है NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है की आप इंडिया OR पाकिस्तान का क्रिकेट मैच देखने जाते है, आप एमएस धोनी जी के फैन है OR आप मैच के दौरान अपनी 2000 rs की नोट पर धोनी जी का ऑटोग्राफ ले लेते है। तो अब आगे ध्यान से समझिएगा- देखिये 2000 rs की नोट तो भारत में बहुत सारी होंगी जैसे कि एक आपके मित्र के पास ही है OR ऐसी ही कई 2000 rs की नोटे दूसरे लोगो के पास भी होंगी, लेकिन जिस 2000 rs की नोट पर आपने धोनी जी का ऑटोग्राफ लिया है उस पर्टीक्लुयर मैच में,उस paarticular स्टेडियम में OR उस डेट में इस वजह से वो आपकी 2000 rs की नोट पूरी दुनिया में यूनिक या इकलौती है, कहने का मतलब कि आपकी autograph वाली 2000 rs की नोट पूरी दुनिया में सिर्फ एक ही है OR वो आपके पास है। अब इस दशा में अगर आपका मित्र आपके पास आकार कहता है की तुम मेरी 2000 rs की नोट ले लो OR बदले में अपनी ऑटोग्राफ वाली 2000 rs की नोट मुझे दे दो तो आप ऐसा नहीं करेंगे क्यूंकी अब उसकी कीमत सिर्फ 2000 rs नहीं है OR वो इकलौती ऐसी 2000 rs की नोट है जिसपर एमएस धोनी जी ने उस मैच के दौरान उस स्टेडियम में उस टाइम पर अपने ऑटोग्राफ दिये थे। अब आप उस नोट के असली ओनर है OR आप चाहे तो आप करोड़ो रुपयो में उसको बेंच सकते है।

NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है  तो इस तरह से वो 2000 rs की नोट सभी दूसरी नोटो की तरह ही आम नोट थी लेकिन अपनी धोनी की का ऑटोग्राफलेकर उसे यूनिक बना दिया अब उस नोट की जैसी ही दुनिया में कोई दूसरी नोट नहीं हो सकती है, वो यूनिक है।

इसी तरह से लोग अपनी खुद की creativity दिखा कर या किसी खास आदमी की हेल्प से अपने किसी भी फ़िज़िकल प्रॉपर्टी या खुद से कोई डिजिटल कंटैंट जैसे इमेज , जीआईएफ(इमेज का एक टाइप),औडियो , विडियो क्लिप की एनएफ़टी बना कर उसे बेचते है OR लाखो करोड़ो रूपये कमाते है।

NFT Full Form in Hindi- नॉन-फंजिबल टोकन

NFT Full Form in English- Non Fungible टोकन

 

NFT Kaise Kam Karta hai ?

फिरहाल NFT एक ही blockchain पर मौजूद हैं जोकी एथेरियम ब्लॉकचैन है। एथेरियम एक क्रिप्टोकरेंसी प्लेटफॉर्म है जो स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट्स का उपयोग करता है OR इस प्रकार, प्रत्येक NFT अविनाशी है OR इसे दोहराया नहीं जा सकता है.

भारतीय आर्टिस्ट OR निर्माता स्वदेशी क्रिप्टोकरेंसी प्लेटफॉर्म CoinSwitch या WazirX से benefit  हो सकते हैं, यह Apps/ प्लेटफ्रॉम NFT उपयोगकर्ताओं के लिए देश का पहला बाज़ार स्थल वीडियो बना सकता है, जो ऑडियो फ़ाइलें, आर्ट पीसेस बना सकता है या उनके बौद्धिक संपत्तियों जैसेकि, ट्वीट्स की सूची बना सकता है OR उन्हें नीलामी के लिए मंच पर listing  कर सकता है।

 

NFT का future  क्या है?

NFT का future  क्या है  NFT रिपोर्ट 2020 के अनुसार, वर्ष, 2020 में महामारी के दौरान NFT की बिक्री 100 मिलियन अमेरिकन डॉलर को पार कर गई। भारत में, सरकार OR RBI cryptocurrency  के लिए एक रूपरेखा तैयार करने पर thinking कर रहे हैं।

NFT के उत्साही लोगों को इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि, NFT पारिस्थितिकी तंत्र क्रिप्टोकरेंसी का एक अनियमित बाजार है क्योंकि यह भारत में एक नई अवधारणा है।

बाजार के प्रति उत्साही लोगों के अनुसार, NFT अगली बड़ी चीज हो सकती है जो एक दिन उस तरह से क्रांति ला सकती है जिस तरह से हम पैसे, संपत्ति या किसी आभासी संपत्ति से संबंधित लेनदेन को संचालित करते हैं।

 

NFT कैसे बनता है?

NFT ब्लॉकचेन पर काम करता है OR इससे जुड़े ट्रांजैक्शन भी क्रिप्टोकरेंसी में किए जाते हैं. ब्लॉकचेन एक तरह का डिजिटल लेजर है जैसे बैंकों में होता है, लेकिन ये बैंक से अलग है, क्योंकि ये decentralised है।

NFT एक तरह से आर्ट OR डिजिटल वर्ल्ड का मिश्रण है. जब आपका आर्ट डिजिटल दुनिया में स्थापित हो जाए, लोगों को उसमें कुछ विचित्र दिख जाए तो वह एनएफटी के रूप में घोषित हो जाता है। बिटकॉइन से इसकी तुलना करें तो यह उसी क्रिप्टोकरंसी की तरह किसी टोकन के रूप में होता है. लेकिन यह टोकन दिखता नहीं है। बिना देखे इसे खरीद OR बेच सकते हैं, भारी मुनाफा कमा सकते हैं।

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ? इस डिजिटल टोकन को ओनरशिप का वैलिड सर्टिफिकेट प्राप्त होता है. जिस भी व्यक्ति का आर्ट इस कैटगरी में आता है, उसके आर्ट को ओनरशिप का certificate मिल जाता है। इसी के साथ उस art से जुड़े सभी mostly उसके मालिक के पास चला जाता है। डिजिटल सर्टिफिकेट यह तय करता है कि उसका डुप्लीकेट नहीं बनाया जा सकता। एक तरह से यह copy write  का अधिकार देता है।

 

NFT कहाँ से खरीदें

NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है अगर आपको भी NFT Buy करना है तो आप नीचे दी गई किसी भी कंपनी के द्वारा आप खरीद सकते है। NFT खरीदने के लिए आपके आपके जो भी धन हो वह केवल OR केवल Ethereum मे ही होना चाहिए। क्योंकि NFT को आप केवल इसी के द्वारा खरीद सकते है। वर्तमान समय मे Opensea.io के द्वारा सबसे ज्यादा NFT Tokens खरीदे व बेचे जाते है। बाकी की लिस्ट नीचे दी गई है।

Opensea.io

Rarible

Axie Infinity

Decentraland

Foundation

GROW.HOUSE

MakersPlace

Mintable

Sorare

SuperRare

The Sandbox

Valuables

Venly

Zeptagram

Zora

NBA Top Shot

Nifty गेटवे

अन्य फेमस NFT Tokens

  • Mutant Ape Yacht Club
  • CryptoPunks
  • Bored Ape Yacht Club
  • VOX Collectibles: Mirandus
  • CLONE X – X TAKASHI MURAKAMI
  • The Sandbox
  • Town Star
  • Art Blocks Curated
  • Psychedelics Anonymous Genesis
  • More Than Gamers | MTG
  • adidas Originals Into the Metaverse
  • Bored Ape Kennel Club
  • Shiba Social Club Official Collection
  • Cool Cats नफ्त

कैसे NFT बनाकर बेचे? (How to Create NFT in Hindi)

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ?  जरुरी नहीं की NFT के लिए आपको किसी तरह की कला की जरुरत हो तभी आप उसको बेच पायेंगे NFT कुछ भी हो सकती है परन्तु वो बाकियों से अलग होनी चाहिए अगर आप इन्टरनेट से कोई तस्वीर या विडियो या कुछ भी उठाकर उसको बेचने जायेंगे तो वो नहीं बिकने वाली.

NFT का मतलब ही अनोखा यानी unique है आप अपनी खुद की एक अलग से पेंटिंग बनाकर बेच सकते है या फिर आप अपनी तस्वीर, गाने या किसी विडियो को भी NFT की तरह बेच सकते है. NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है.

इसके बाद आपको यह तय करना है की आप किस Blockchain पर उस NFT को रखना चाहते हो आप चाहे तो उसको Ethereum की ब्लॉकचेन पर रख सकते हो जो की सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है NFT को खरीदने बेचने के लिए या फिर आप Binance Smart Chain, Polkadot, EOS जैसी अन्य ब्लाकचैन को चुन सकते हो NFT को स्टोर करने के लिए. NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ? एक बार अपनी डिजिटल आर्ट को चुनने के बाद आपको कुछ Ether खरीदने पड़ेंगे जो की Ethereum नेटवर्क का टोकन है क्योंकी ज्यादातर NFT Ethereum के नेटवर्क पर बिकती है तो हम यहाँ Rarible NFT Marketplace को मान कर चल रहे है जो की Ethereum की ब्लाकचैन को सपोर्ट करता है.

OR आपको Ethereum के नेटवर्क को इस्तेमाल करने के लिए फीस देनी पड़ती है जिसको Ether में दिया जाता है इसलिए आपको सबसे पहले कुछ Ether खरीदने पड़ेंगे OR जब भी आप अपने उस Digital Art को लिस्ट करोगे तो आपको उसके लिए कुछ gas fees देनी पड़ती जिसको साधारण भाषा में कहे तो आपको अपनी आर्ट लिस्ट करने के लिए फीस देनी पड़ेगी.

NFT क्या है? NFT कैसे काम करता है  इसलिए जिस भी आर्ट को आप चुने बहुत सोच समझ के चुने आपको खुद पर यह भरोसा हो की आपकी उस Art को कोई न कोई तो खरीद ही लेगा, क्योंकी Ethereum के नेटवर्क पर काफी ज्यादा फीस लगती है हालाँकि यह फीस Ethereum 2.0 के आने के बाद बहुत ही ज्यादा कम हो जायेगी.

आप जिस भी नेटवर्क का इस्तेमाल कर रहे हो उसका इस्तेमाल करने से पहले यह जरुर जांच ले की वो किस ब्लॉकचेन को सपोर्ट करती है जैसे Rarible, Super Rare जो Ethereum की ब्लॉकचेन को सपोर्ट करती है.

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ?  साथ ही साथ आपको एक Digital Wallet की जरुरत भी पड़ेगी “Metamask” जो की एक डिजिटल वॉलेट है आप इसका इस्तेमाल कर सकते है यह इस्तेमाल करने में भी काफी आसान है OR इसका काफी ज्यादा उपयोग भी किया जाता है. एक बार अपनी NFT लिस्ट करने के बाद जितना ज्यादा आपके आर्ट की डिमांड होगी उतना ज्यादा आपके आर्ट की बोली लगाई जायेगी OR उतने महंगे में उसके बिकने की सम्भावना होगी, आप चाहे तो खुद से भी अपने NFT की कीमत को Set कर सकते है.

 

NFT and Cryptocurrency में क्या अंतर है?

Because  NFT भी Cryptocurrency की तरह ब्लॉकचेन पर चलती है परन्तु Cryptocurrency Fungible है यानि क्रिप्टोकरेंसी को आपस में बदला जा सकता है आप चाहे तो 1 Bitcoin के बदले में 1 Bitcoin को आपस में बदल सकते है जिनकी कीमत एक सामान ही रहेगी.

या फिर आप चाहे तो उसी बिटकॉइन से Ethereum या फिर कोई दूसरी क्रिप्टोकरेंसी को खरीद सकते है, पर वही NFT Non Fungible है आप इसमें ऐसा नहीं कर सकते आप एक NFT के बदले दूसरी NFT नहीं खरीद सकते क्योंकी दोनों की अलग पहचान है OR दोनों एक दुसरे से पूरी तरह से अलग है.

 

क्‍या है NFT का ‘मार्केट’?

एक शोध कंपनी DappRadar के अनुसार Ethereum ब्लॉकचेन में जारी NFT का कुल मूल्य 14.3 बिलियन डॉलर है, जो पिछले साल लगभग 340 मिलियन डॉलर था। मार्केट रिसर्च फर्म हैरिस द्वारा मार्च में की गई एक स्टडी के अनुसार, 11% अमेरिकी का कहना है कि उन्होंने एनएफटी खरीदा है। जो कमोडिटी मार्केट में खरीदारी करने वाले लोगों से कुछ प्रतिशत (यानी 1 फीसदी) ही कम है।

एक अन्य एनालिस्ट जेफ़रीज़ के मुताबिक एनएफटी का मूल्य अगले साल में दोगुना हो जाएगा OR साल 2025 तक 80 बिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगा। इसके अलावा टोकन का इस्‍तेमाल भी बहुत तेजी से बढ़ जाएगा।

 

एनएफ़टी में रिस्क ( Risk in NFTs )

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ? NFT के कुछ नुकसान भी है जैसे कि –

एनएफ़टी में आप scam का शिकार भी हो सकते है जैसे कि फेक मार्केट्प्लेस, फेक सेलर या अनवेरिफाइड सेलर की वजह से ।

क्रिप्टोकुरेंसी ने हमारी दुनिया में बहुत कुछ बदल दिया है, लेकिन क्रिप्टोकुरेंसी माइनिंग पर्यावरण पर नकारात्मक प्रभाव डालता है। इस ब्लॉकचेन टेक्नालजी पर काम करने वाले कंप्यूटर लगातार OR बहुत उच्च क्षमता वाली इलेक्ट्रिसिटी इस्तेमाल करते हैं।

निवेशकों को NFT पर कमाई के लिए लंबे वक्‍त तक इंतजार करना भी पड़ सकता है। ऐसा भी हो सकता है कि मार्केट में किसी खास एनएफ़टी टोकन की डि‍मांड हो, लेकिन बेचने वाला तैयार न हो।

 

एनएफ़टी और क्रिप्टोकरेंसी में अंतर( Difference between NFT and Cryptocurrency )

हालांकि एनएफ़टी टोकन भी क्रिप्टोकुरेंसी की तरह ही ब्लॉकचेन पर काम करता है लेकिन इसमे कुछ अंतर भी होते है –

एनएफ़टी- नॉन फंजिबल टोकन (NFT) क्रिप्टोकुरेंसी(Cryptocurrency)
ये Digital Assets होते है। ये Digital currency है।
इस तरह की Currency किसी  Product Ownership के लिए बनाई जाती  है। इस तरह की Currency Payment करने के  Purpose से बनाई जाती  है।

भारत में एनएफ़टी ( NFT in India )

NFT Kaise Kam Karta hai – NFT क्या है ? दोस्तो आपको बता दें भारतीय एक्टर सलमान खान BollyCoin के साथ मिलकर अपना NFT कलेक्शन ला रहे हैं। Bollycoin में अतुल अग्निहोत्री, अरमांद पुनावाला और काइल लोपेज सहित कई दूसरे लोग भी शामिल हैं। सलमान खान ने सोशल मीडिया पर फॉलोअर्स को यह जानकारी दी थी कि वे एनएफटी लॉन्च करेंगे।

अमिताभ बच्चन जी भी NFT लॉन्च करने की तैयारी कर रहे हैं। NFT Kaise Kam Karta hai अमिताभ जी के एनएफटी में उनकी फि‍ल्‍मों के उनके ऑटोग्राफ वाले पोस्टर शामिल होंगे।

Read Also : JAMES WEBB SPACE TELESCOPE क्या है ? 

Read Also : BITCOIN MINING KYA HAI  , BITCOIN MINING कैसे करते हैं

Read Also : BLOCKCHAIN TECHNOLOGY KYA HAI कैसे काम करता है

Read Also : METAVERSE KYA HAI IN HINDI – कैसी होगी वर्चुअल दुनिया

5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments