Thursday, June 13, 2024
HomeEventराजस्थान में होली के प्रकार

राजस्थान में होली के प्रकार

राजस्थान में होली के प्रकार

राजस्थान में होली के प्रकार-राजस्थान में होली, “रंगों का त्योहार” के उत्सव के रूप में मनाया जाता है। क्या दिन लोग होली के रंगों से खेलते हैं और एक दूसरे को गुलाल लगाते हैं। राजस्थान में कुछ प्रमुख होली के प्रकार हैं:

  • दुलंडी होली: दुलंडी होली को “फगवा” के नाम से भी जाना जाता है। इसमें लोग गुलाल, पिचकारी और रंगो से एक दूसरे को रंगते हैं। रंगपंचमी: होली के पंचम दिनों को रंगपंचमी के नाम से मनया जाता है। क्या दिन लोग एक दूसरे को गुलाल और रंगो से रंगते हैं।
  • काम पंडिगई: राजस्थान के कुछ इलाकों में कमान पंडिगई भी मनया जाता है। इसमें लोग लकडी के तीर चलते हैं और एक दूसरे को टाक पहुंचते हैं। फूलों की होली: इस प्रकार के होली में फूलों से खेला जाता है। इसमें लोग एक दूसरे को फूलों से मालिश करते हैं और उन्हें फूलों से भारी टोकनियां भी देते हैं।
  • अलवर में गैर: अलवर में गैर होली का प्रचार है, एक बड़े समूह में लोग होली के रंगों से खेलते हैं और धमाल नाचते हैं। ये होली के कुछ प्रमुख प्रकार हैं, जो राजस्थान में मनाए जाते हैं। राजस्थान में होली का त्योहार बहुत उत्साह से मनया जाता है। इसमें लोग खुशी के साथ दोस्त और परिवार के साथ समय बिटते हैं और एक दूसरे को होली के रंगों से रंगते हैं। राजस्थान में होली, “रंगों का त्योहार” के रूप में मनया जाता है। यहां पर होली का त्योहार 2-3 दिन तक चलता है और लोग खुशी से इसका आनंद लेते हैं।

 




राजस्थान में होली कैसे मानते है

राजस्थान में होली बहुत धूमधाम से मनाई जाती है। यहाँ पर होली के दिन लोग अपने परिवार और दोस्तों के साथ मस्ती और उल्लास का आनंद लेते हैं। इसके लिए इन तरीकों का पालन किया जाता है:

  • होली का पूजन: होली के दिन सभी लोग अपने घर में होलिका दहन के बाद पूजा करते हैं। इसके लिए, एक छोटी लकड़ी की चट्टी बनाई जाती है जो पूजा के लिए उपयुक्त होती है। इसमें रंगों की थाली, बूरा, दूध आदि भोग रखे जाते हैं। पूजा में, लोग होली के देवता श्री कृष्ण और उनकी राधा का पूजन करते हैं।
  • रंगों से खेलना: होली के दिन रंगों से खेलना सबसे बड़ा रस्म है। लोग एक दूसरे को अभिनंदन करते हैं और खुशी का एहसास देने के लिए रंगों का इस्तेमाल करते हैं। राजस्थान में, लोग गुलाल, अभिर और अन्य रंगों का इस्तेमाल करते हैं।
  • मिठाई बाँटना: होली के दिन, लोग अपने पड़ोसियों, दोस्तों और रिश्तेदारों के घर जाकर मिठाई दी जाती है।



 

RELATED ARTICLES
5 3 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular