What is VLAN in Hindi – Virtual LAN क्या है ?

What is VLAN in Hindi – Virtual LAN क्या है? आपको अलग हार्डवेयर की आवश्यकता के बिना एक नेटवर्क को विभाजित करने की अनुमति देता है
Gooafternoon , Good Morning and Good Evenineg दोस्तों आज हम आपको VLan के बारे में बताने जा रहे हैं, की Vlan क्या है, Vlan In Hindi इसका क्या uses होता है, और इसे उपयोग करने के क्या फायदे हैं। तो चलिए शुरू करते हैं।

VLan के बारे में समझने से पहले हमें LAN के बारे information होना आवश्यक है। LAN means के LAN  एक computer नेटवर्क है, जिसमे सभी computers आपस में केबल या वाई-फाई के माध्यम से जुड़े रहते हैं और एक दूसरे के साथ डाटा शेयर कर सकते हैं।

लोकल एरिया नेटवर्क का एक limited दायरा होता है, जिसे किसी ऑफिस, घर, स्कूल, बिल्डिंग या कह लीजिये computer लैब के लिए तैयार किया जाता है।  ऐसे में हमें What is VLAN in Hindi – Virtual LAN की जरूरत पड़ती है

इसमें सामान्यतः सभी computers को एक केंद्रीकृत नेटवर्क स्विच के साथ जोड़ दिया जाता है, जिसके कारण यदि अलग-अलग विभागों की बात की जाए जैसे एकाउंट्स, फाइनेंस, प्रोडक्शन, HR इत्यादि। यह सभी एक दूसरे से जुड़े होने के कारण आपस में एक दूसरे का डाटा एक्सेस कर सकते हैं, यानि इनके बीच किसी भी प्रकार की गोपनियता और सुरक्षा नहीं रह पाती।

या फिर इन विभागों के बीच में secret रखने और सुरक्षा बढ़ाने के लिए अलग-अलग LAN तैयार किए जाते हैं, जिसमे हर एक को अलग स्विच और नेटवर्क केबल के साथ जोड़ दिया जाता है।

अब यहाँ पर समझने वाली बात ये हैं की यदि किसी LAN नेटवर्क में विभागों के बीच एक सुरक्षा दिवार बनानी हो तो ऐसे में क्या हमें सभी के लिए अलग LAN तैयार करने की आवश्यकता है,जिसमे खर्चा काफी ज्यादा तो आता ही है,और
साथ ही एक नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर के लिए इनका प्रबंधन करना उतना ही मुश्किल हो जाता है।





Vlan क्या है | What Is Vlan In Hindi


एक वर्चुअल लोकल एरिया नेटवर्क (वीएलएएन) एक वर्चुअलाइज्ड कनेक्शन है जो विभिन्न लैन से कई उपकरणों और नेटवर्क नोड्स को एक लॉजिकल नेटवर्क में जोड़ता है ।
Vlan का Full Form है वर्चुअल लोकल एरिया नेटवर्क,यह एक network type है, जिसमे हम नेटवर्क स्विच का Logically विभाजन कर सकते हैं,यानि Vlan के द्वारा एक Physical लैन नेटवर्क को विभिन्न Logical नेटवर्क्स में बांटा जा सकता है।

आप यूँ समझिये की जिस तरह से परंपरागत LAN नेटवर्क को CAT6 केबल और नेटवर्क स्विच लगाकर तैयार किया जाता हैं, वही काम Vlan में सॉफ्टवेयर के द्वारा बिना किसी नए डिवाइस या केबल बिछाए किया जा सकता है।

अब यदि हम ऊपर दिए गए उदाहरण को यहाँ पर जोड़ते हैं तो आप यह समझिये की यदि मौजूदा LAN नेटवर्क में हमें विभागों को Separate करना है,यानि एक दूसरे से ना कोई जुड़ सके और ना ही डाटा शेयर कर सके तो ऐसी स्थिति के लिए हमें अलग से केबल या नेटवर्क स्विच लगाकर LAN तैयार करने की आवश्यकता नहीं है।

Example of VLAN

 

 

Types of VLANs

Here are the important types of VLANs

 

 

 

Advantage Of Vlan In Hindi


वर्चुअल लैन तैयार करने के कुछ निम्नलिखित फायदे हैं।

प्रदर्शन:- वर्चुअल लैन का सबसे पहला और मुख्य फायदा इसका अच्छा प्रदर्शन है। किसी भी नेटवर्क में ब्राडकास्टिंग एक बहुत ही मेहतपूर्ण प्रक्रिया है, लेकिन उसके साथ ही अनावश्यक ब्राडकास्टिंग भी उतनी ही नुकसानदेह है,तो Vpn के द्वारा इस अनावश्यक ब्राडकास्टिंग को रोका जा सकता है।

सुरक्षा:- एक बार जब Vlan तैयार कर लिया जाता है,और वर्कस्टेशन्स को विभागों के अनुसार बाँट दिया जाता है तो ऐसे में हर विभाग की अपनी एक सुरक्षा दिवार खड़ी हो जाती है,जिसमे डाटा को किसी भी बाहरी व्यक्ति द्वारा एक्सेस किए जाने की संभावना नहीं रहती। यानि Vlan के द्वारा ब्रॉडकास्ट डोमेन को कण्ट्रोल किया जा सकता है।

लचीलापन:- Vlan में हमें अपने अनुसार Users की संख्या को Add थता Remove करने का लचीलापन उपलब्ध रहता है।

कम लागत:- Vlan के द्वारा किसी भी प्रकार से नए हार्डवेयर उपकरणों जैसे की राऊटर,केबल,इत्यादि के बिना ही ब्रॉडकास्ट डोमेन तैयार किए जा सकते हैं, जिससे इन उपकरणो में होने वाले खर्च से बचा जा सकता है।

Related Links :

 


वीएलएएन नेटवर्क प्रशासकों को वर्कस्टेशन को अलग-अलग अलग-अलग लैन सेगमेंट में विभाजित करके उपयोगकर्ताओं के एक निर्दिष्ट समूह तक पहुंच को स्वचालित रूप से सीमित करने की अनुमति देते हैं । जब उपयोगकर्ता अपने कार्यस्थानों को स्थानांतरित करते हैं, तो व्यवस्थापकों को नेटवर्क को फिर से कॉन्फ़िगर करने या VLAN समूहों को बदलने की आवश्यकता नहीं होती है।

VLAN Ranges

Here are the important ranges of VLAN:

Range Description
VLAN 0-4095 Reserved VLAN, which cannot be seen or used.
VLAN 1: This is a default VLAN of switches. You cannot delete or edit this VLAN, but it can be used.
VLAN 2-1001: It is a normal VLAN range. You can create, edit, and delete it.
VLAN 1002-1005: These ranges are CISCO defaults for token rings and FDDI. You cannot delete this VLAN.
VLAN 1006-4094: It is an extended range of VLANs.

 

Difference between LAN and VLAN in hindi (क्या फर्क है)

Here is an important difference between LAN and VLAN:

LAN VLAN
LAN can be defined as a group of computer and peripheral devices which are connected in a limited area. A VLAN can be defined as a custom network which is created from one or more local area networks.
The full form of LAN is Local Area Network The full form of VLAN is Virtual Local Area Network.
The latency of LAN is high. The latency of VLAN is less.
The cost of LAN is high. The cost of a VLAN is less.
In LAN, the network packet is advertised to each and every device. In VLAN, the network packet is sent to only a specific broadcast domain.
It uses a ring, and FDDI (Fiber Distributed Data Interface) is a protocol. It uses ISP and VTP as a protocol.

 

आपको जानकारी कैसी लग रही है आप मुझे जरूर बताएं और आगे अपने दोस्तों को भी शेयर करें इसी तरह की और भी जानकारी भरे पोस्ट को पढ़ने के लिए आप हमारे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब कर सकते हैं प्लीज इस आर्टिकल की रेटिंग जरूर दें रेटिंग देने के लिए आप नीचे स्टार दबा सकते हैं जितने भी आपको देने हैं







4.5 2 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments