You are currently viewing प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है | What is Private Browsing in Hindi

प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है | What is Private Browsing in Hindi

प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है | What is Private Browsing in Hindi: हेलो Friends स्वागत है आपका आपकी website पर आज हम आपको बताने वाले है की प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है Friends काफी लोगो को इसके बारे में जानना होता है पर नहीं पता होता इसलिए यह post only आपके लिए लेकर आये है और आपको All Information आपको आपकी website jugadme से मिल जाएगी आपको किसी और website पर जाने की जरुरत नहीं पड़ेगी।  इंटरनेट पर हम कुछ ना कुछ सर्च करते रहते हैं  प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है तो ब्राउज़र पर हमारी सर्च की हुई जानकारियां  खुद ही सेव जाती है  अगर आप चाहते हैं कि आप की हिस्ट्री हाइड हो जाए और आपकी सर्च  की गई जानकारियां प्राइवेट ब्राउज़र के द्वारा अपनी सारी जानकारी को सेव होने से बचा सकते हैं तो दोस्तों मैं आपको बता दूं प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है कि एप्पल के द्वारा बनाए गए सफारी ब्राउजर में  प्राइवेट ब्राउज़र का एक फीचर का प्रयोग करके आप अपनी  हिस्ट्री को हाइड कर सकते हैं  और मैं आपको बता दूं कि बाकी और ब्राउज़र  ने भी  यह फीचर लॉन्च कर दिया गया है तो आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आपको मेरे इस आर्टिकल के माध्यम से आसानी से आप समझ सकते हैं





Quick Links

प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है

प्राइवेट ब्राउजिंग  सभी ब्राउज़र  मै  उपलब्ध किया गया एक फीचर है   जिसका काम  वेब एक्टिविटीज को सुरक्षित करने से रोक सकता है  और साथ में प्राइवेट ब्राउजिंग की फीचर का उपयोग  करके आप विभिन्न प्रकार के सर्च हिस्ट्री को  सेव होने से बचा सकते हैं  जैसे कि आप फेसबुक लॉगइन डिटेल  और सर्च इंफॉर्मेशन और साथ में ईमेल पासवर्ड इत्यादि सेव होने से बचा सकते हैं  प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है और दोस्तों मैं आपको बता दूं कि प्राइवेट ब्राउजिंग को के नामों से जाना जाता है जैसे कि इनकॉग्निटो  मोड ,  प्राइवेसी मोड  सेफ मोड,   पोर्न मोड  इत्यादि

Private browsing - Wikipedia

प्राइवेट ब्राउजिंग का प्रयोग क्यों किया जाता है

ट्रैक होने से बचाने के लिए

जब कोई यूजर वेब सर्फिंग करता है उस समय उसकी सारी इनफार्मेशन वेब ब्राउज़ लेकिन जब कोई भीर  ट्रैक करके कुछ समय तक सेव कर लेता है  लेकिन जब कोई यूजर सेफ मोड पर क्यों करता है जब सर्च हिस्ट्री  कुकीज फाइल की  इत्यादि  सेव नहीं हो पाती है  प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है इस प्रकार यूज़र  ट्रैक होने से बच जाता है

प्योर सर्च करना

जब कोई यूज़र ब्राउज़र का यूज करता है तब वह  यूज़र अपनी पसंद की के अनुसार  और नापसंद के अनुसार  सर्च परिणाम दिखाता है और जब यूज़र    सर्च हिस्ट्री को personalised or Costumiesd  कर लेता है  और इस कारण से यूजर  के सर्च हिस्ट्री अत्यधिक प्रभावित हो जाते हैं   और ऐसे में अगर किसी का  टॉपिक पर प्योर सर्च करना चाह रहे हैं तो आप उसमें आपको प्राइवेट ब्राउजिंग का इस्तेमाल करना है

मल्टीपल ईमेल अकाउंट का उपयोग करना

जब आप नॉर्मल बोर्ड पर इंटरनेट चलाते हैं प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है अब दूसरी की  ईमेल का उसका प्रयोग करना चाहते हैं इसके लिए सबसे पहले ईमेल अकाउंट से  लॉगआउट करना पड़ेगा लेकिन प्राइवेट ब्राउज़र से ऐसा नहीं होता क्योंकि आप एक साथ कई सारे  ईमेल अकाउंट का प्रयोग  प्राइ आसानी से कर सकते हैंवेट ब्राउजिंग के द्वारा कर सकते हैं

वेबसाइट टेस्ट करने के लिए

प्राइवेट ब्राउजिंग का फायदा और साथ में उसका डेवलपर के लिए भी बहुत ज्यादा है क्योंकि दोस्तों इस प्रकार प्राइवेट ब्राउजिंग के माध्यम से आप केवल पेज रिफ्रेश करने के बाद अपने द्वारा किए गए कार्य की जांच आसानी से कर सकते हैं प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है इसलिए प्राइवेट ब्राउजिंग वेब डेवलपर के लिए बहुत ज्यादा लाभदायक माना जाता है  क्योंकि द्वारा बाकी और वेबसाइट  होने वाले छोटे से छोटे बदलाव को बदल सकते हैं

सर्च हिस्ट्री  को छुपाना

प्राइवेट ब्राउजिंग आपके लिए कुछ समय के लिए फायदेमंद पर जब आप किसी सार्वजनिक स्थान पर कंप्यूटर का यूज करते हैं प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है तो इस समय मैं आपकी सारी सर्च हिस्ट्री को प्राइवेट ब्राउजिंग के माध्यम से दूसरे लोगों से छुपाया इसलिए जब आप कॉलेज गर्ल स्कूल या फिर साइबर कैफे सार्वजनिक स्थान पर कुछ भी सर्च करते हैं तो प्राइवेट ब्राउज़र का उपयोग करके ही करें

अपनी निजी जानकारियों को जो चोरी होने से बचाना

अगर आप अपनी ईमेल अकाउंट डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड जरूरी जानकारियों को साइटों पर भरने के लिए आप प्राइवेट  ब्राउज़र का इस्तेमाल  करते  है  तो आपकी यह जानकारियां सुरक्षित रहेगी  तो आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि आप ब्राउज़र की नार्मल मॉल फॉर्म की डिटेल वे सभी चीजों से  सेव हो जाती है  और ब्राउज़र में  कैप्चा कर लेता है प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है जिससे आपका  डाटा  चोरी होने की संभावना बढ़ जाती है

क्या प्राइवेट ब्राउजिंग 100% सुरक्षित है

तो मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि   प्राइवेट ब्राउजिंग 100% बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है

क्रोम ब्राउजर में प्राइवेट ब्राउजिंग का  इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं

सबसे पहले आपको क्रोब्राउजर  प्राइवेट विंडो का  इस्तेमाल करना है    इसे इनकॉग्निटो   विंडो कहा जाता है   यदि आप क्रोम ब्राउजर में प्राइवेट ब्राउजिंग  करना चाहते हैं तो आप इसके लिए आपको इनकॉग्निटो मॉड का उपयोग करना होगा   और आपको नीचे दिए गए   स्टेप  को आपको  फॉलो करना होगा

  • आपको सबसे पहले अपने लैपटॉप या कंप्यूटर  पर क्रोम ओपन करना होगा
  • ब्राउज़र को ओपन कर देते हैं तो आपकी  दाई तरफ क्रोम मैंन्यू  दिखाई देगा उस ऑप्शन पर आपको क्लिक करना है
  • इसके बाद आपको न्यू इनकॉग्निटो   विंडो पर क्लिक करना है

इसके बाद आपके आपके सामने एक प्राइवेट  विंडो का ऑप्शन नजर आएगा  आप उस पर  ओपन कीजिए  आपको 9 बिंदुओं से थोड़ी अलग लगेगी इसमें आपको बोर्ड से कंट्रोल स्विफ्ट प्लस  को दबाकर इनकॉग्निटो   विंडो को  आसानी के साथ ओपन कर सकते हैं

फायरफॉक्स ब्राउजर में प्राइवेट ब्राउजिंग का उपयोग कैसे करें

मोजिला फायरफॉक्स ब्राउजर में प्राइवेट ब्राउजिंग  करने का तरीका  निम्न में बताया गया है प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है इसीलिए सबसे पहले आपको अपने कंप्यूटर में मोज़िला फायरफॉक्स ब्राउजर को ओपन करना होगा और  आपकी दाई तरफ फायरफॉक्स मीनू   दिखाई देगा और इस पर आपको क्लिक करना है    इसके बाद आप न्यू प्राइवेट विंडो    पर क्लिक कर दे रहा है

न्यू प्राइवेट विंडो पर क्लिक  करते हैं तो आपके सामने प्राइवेट विंडो ओपन हो जाएगा  फिर आपको आपके कीबोर्ड में  कंट्रोल प्लस शिफ्ट प्लस पी   अगर आप आसानी से  ओपन कर सकते हैं

इंटरनेट एक्सप्लोरर प्राइवेट ब्राउजिंग का सवाल कैसे करें

इंटरनेट एक्सप्लोरर ब्राउज़र का इस्तेमाल करने का तरीका बहुत ज्यादा आसान है  और यह सबसे पुराना और पॉपुलर ब्राउज़र है   और इसे प्राइवेट ब्राउजिंग कहा जाता है प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है इसके लिए सबसे पहले आपको लैपटॉप पर और या कंप्यूटर के इंटरनेट पर  एक्स्प्लोरर ब्राउज़र को ओपन करना है

जब आप इंटरनेट ब्राउज़र ओपन कर लेते हैं तब आपको आपकी दाई तरफ गियर आइकन   का ऑप्शन दिखाई देगा  जिस परआपको क्लिक कर देना है प्राइवेट ब्राउजिंग क्या है फिर आपके सामने प्राइवेट विंडो ओपन हो जाएगी

इतनी बार आपको अपने कीबोर्ड पर  कंट्रोल प्लस शिफ्ट प्लस पी  को दबाकर  इंटरनेट एक्सप्लोर  ब्राउज़र  ने प्राइवेट  विंडो  आसानी से ओपन हो जाएगी

माइक्रोसॉफ्ट एज में प्राइवेट ब्राउज़र का प्रयोग कैसे करें

इसके लिए आपको माइक्रोसॉफ्ट एज   ब्राउज़र में अगर   प्राइवेट विंडो   का इस्तेमाल   करना चाहते हैं   आपको  नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करना होगा सबसे पहले आपको लैपटॉप या कंप्यूटर पर माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर को ओपन करना है

जब आप ब्राउज़र ओपन कर लेते हैं तब आपके सामने  दाई तरफ me menu का ऑप्शन  दिखाई देगा  इस पर आपको  क्लिक कर देना है

इसके बाद आप न्यू इन प्राइवेट विंडो पर

 क्लिक कर दे फिर आपके  सामने  प्राइवेट विंडो ओपन हो जाएगी प्राइवेट ब्राउजिंग क्या हैऔर फिर आपको अपने कीबोर्ड से कंट्रोल प्लस शिफ्ट प्लस पी दबाकर  भी  इंटरनेट   एक्सप्लोर ब्राउज़र  प्राइवेट विंडो  आसानी से ओपन हो जाएगी

निष्कर्ष

यह तक मेरा यह आर्टिकल पूरा हुआ और उम्मीद करती हूँ की आपको यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा और ऐसे ही और updates पाने के लिए आपको हमारी वेबसाइट को फॉलो करना होगा और मुझे अच्छा लगता है लोगो के लिए नयी नयी जानकारिया मेरी वेबसाइट से मिलती है।







 

3 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Rahul Sharma
20 days ago

Nice Information Aap ne bahut achhe se yeh artical likha hai . https://techtyping.in/cloud-kya-hai/