Thursday, June 13, 2024
HomeEventईस्टर क्यों मनाया जाता है ,कब है

ईस्टर क्यों मनाया जाता है ,कब है




ईस्टर क्यों मनाया जाता है- ईस्टर संडे ईसाई धर्म के लोगों द्वारा पूरे विश्व में मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण त्योहार है। यह ईस्टर त्योहार का अंतिम दिन होता है जो यीशु मसीह की उठाई जाने की खुशी के साथ मनाया जाता है। यह दिन ईसाई धर्म के लोगों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

ईस्टर संडे क्या है

ईस्टर क्यों मनाया जाता है- ईस्टर संडे के अवसर पर, ईसाई धर्म के लोगों के लिए दिन की शुरुआत चर्च में प्रार्थना और स्तोत्र गायन से होती है। उन्हें लगातार संदेशों द्वारा यीशु के उठाई जाने के समय के बारे में याद दिलाया जाता है। उन्हें उस समय के बारे में याद दिलाया जाता है जब मरे हुए यीशु मसीह को मृतक से जीवित कर दिया गया था। यह दिन ईसाई धर्म के लोगों के लिए बहुत खुशी का दिन होता है जब वे एक दूसरे को ईस्टर की शुभकामनाएं देते हैं और उनके बीच उत्सव का आनंद लेते हैं।

ईस्टर डे का मतलब

ईस्टर डे ईस्टर के अंतिम दिन को दर्शाता है, जो ईसाई धर्म के लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है। यह दिन यीशु मसीह के उठने के दिन के रूप में मनाया जाता है, जिसे उनकी मृत्यु के तीसरे दिन के बाद माना जाता है। यह दिन खुशी के साथ मनाया जाता है और ईसाई समुदाय के लोगों द्वारा ईस्टर समूह और अन्य समारोहों के साथ मनाया जाता है।

ईस्टर संडे कब है

ईस्टर संडे का तारीख हर साल बदलती है। यह धार्मिक पंचांग के अनुसार फिसडी (Lunar) कैलेंडर के आधार पर मनाया जाता है। हालांकि, आमतौर पर ईस्टर संडे मार्च के आखिरी सप्ताह या अप्रैल के पहले सप्ताह में मनाया जाता है। इस वर्ष (2023), ईस्टर संडे 16 अप्रैल को मनाया जाएगा।

ईस्टर क्यों मनाया जाता है

ईस्टर क्यों मनाया जाता है- ईस्टर एक धार्मिक त्योहार है जो ईसाई धर्म के लोगों द्वारा पूरे विश्व में मनाया जाता है। यह त्योहार यीशु मसीह की उठाई जाने की खुशी के अवसर पर मनाया जाता है। यह त्योहार ईसाई धर्म के सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है और ईसाई धर्म के लोगों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

ईस्टर के अवसर पर, ईसाई धर्म के लोग यीशु मसीह के जीवन, बलिदान और उठाई जाने की खुशी के साथ उनका जन्म, शिक्षा और दीक्षा का भी स्मरण करते हैं। इस दिन को प्रभु यीशु के जीवन में सबसे बड़ा दिन माना जाता है, जब वे अपने मृत शरीर से जीवित हो गए थे।

इस त्योहार को मनाने के लिए, ईसाई धर्म के लोग अपने घरों को खूबसूरत ढंग से सजाते हैं, उत्साहपूर्वक प्रार्थना करते हैं और अपने प्रियजनों और मित्रों के साथ अनेक रंग-बिरंगे उत्सव का आनंद लेते हैं। इस दिन बाइबिल की श्लोकों का पाठ करने के साथ-साथ भोजन भी किया जाता है।



ईस्टर और गुड फ्राइडे क्यों मनाया जाता है?

ईस्टर और गुड फ्राइडे दो अलग-अलग धार्मिक उत्सव हैं, लेकिन दोनों ईसा मसीह के जीवन और उसके महत्वपूर्ण कामों से जुड़े हुए हैं।

ईस्टर या पास्क ईसा मसीह के उद्धार और पुनर्जीवन की खुशी के लिए मनाया जाता है। यह उत्सव चैत्र माह के पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है, जब ईसा मसीह को स्वर्ग से वापस लौटते हुए उसके मृतक शरीर का पुनर्जीवन हुआ था। यह उत्सव ईसाई धर्म के अनुयायियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और वे इस उत्सव को पूरे उत्साह के साथ मनाते हैं।

वहीं, गुड फ्राइडे ईसा मसीह के उद्धार के लिए अपने प्राणों की आहुति देने के लिए उसके क्रूस पर कटने के दिन के रूप में मनाया जाता है। इस दिन ईसाई धर्म के अनुयायी उसकी मृत्यु और उनके पापों को धोने के लिए ईसा मसीह के बलिदान को याद करते हैं। इस दिन ईसाई धर्म के अनुयायी ध्यान देने लायक अन्य आध्यात्मिक विषयों पर भी विचार करते हैं।

ईस्टर डे के साथ-साथ कौन से अन्य समारोह मनाए जाते हैं?

  • ईस्टर डे के साथ-साथ कुछ अन्य महत्वपूर्ण समारोह हैं जो दुनियाभर में मनाए जाते हैं, जैसे:
  • गुड फ्राइडे: यह ईस्टर से तीन दिन पहले मनाया जाता है और इस दिन ईसा मसीह की मृत्यु के बारे में सोचा जाता है।
  • हॉली सैटर्डे: यह ईस्टर के एक दिन पहले मनाया जाता है। इस दिन लोग ईसा मसीह के वापसी का इंतजार करते हैं।
  • पास्का: यह ईस्टर के पहले दिन से शुरू होकर आठ दिन तक चलता है। इसमें विभिन्न रूपों में उत्सव किए जाते हैं, जिसमें दिन-रात की पूजा, दान, प्रार्थना और पास्का के लिए तैयार किए गए विभिन्न प्रकार के भोजन शामिल होते हैं।
  • ईस्टर मंडे: यह ईस्टर के दूसरे दिन मनाया जाता है। यह एक सार्वजनिक छुट्टी होती है और कुछ लोग इस दिन पैकनिक या दूसरी विश्राम गतिविधियों के लिए जाते हैं।
  • ये समारोह ईस्टर से संबंधित होते हैं और इस मौके पर खुशी और उत्साह के साथ मनाए जाते हैं।

ईसा मसीह को क्यों सूली पर चढ़ाया गया?

ईसा मसीह को चढ़ायी गई सूली के मुद्दे पर बहुत से विवाद हैं और इसके पीछे कई कारण थे। चाहे ईसा मसीह को सूली पर चढ़ाया जाना सही था या गलत, इससे पहले कुछ विवादों के मुद्दे थे जो ईसा मसीह को सूली पर चढ़ाया जाने का कारण बने:

  • धर्म विरोधी गतिविधियां: ईसा मसीह द्वारा शिक्षा देने के दौरान, उन्होंने जुड़ों के साथ खान-पान करते हुए, पानी को वाइन में परिवर्तित करने जैसे कुछ ऐसी गतिविधियों को लेकर धर्म विरोधी विचारों के विरोध में कई लोग उन्हें दुष्ट घोषित कर दिया था।
  • राजनीतिक मुद्दे: एक दूसरा मुद्दा था ईसा मसीह के राजनीतिक विचारों का। उन्होंने स्वतंत्र रूप से सोतन के शासन से मुक्ति का उद्घाटन किया था जिससे बहुत से लोग उन्हें राजनीतिक विरोधी घोषित कर दिया था।
  • धर्मीय मुद्दे: तीसरा मुद्दा था ईसा मसीह के धर्मीय विचारों का। उन्होंने अपने उपदेशों में बताया कि भगवान एक होते हैं

FAQs

ईस्टर डे क्या है?
ईस्टर डे ईस्टर के अंतिम दिन को दर्शाता है, जो ईसाई धर्म के लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण दिन होता है। यह दिन यीशु मसीह के उठने के दिन के रूप में मनाया जाता है।

ईस्टर डे किस तिथि को मनाया जाता है?
ईस्टर डे हर साल अप्रैल के चौथे शनिवार को मनाया जाता है।

ईस्टर डे क्यों मनाया जाता है?
यह दिन यीशु मसीह के उठने के दिन के रूप में मनाया जाता है, जिसे उनकी मृत्यु के तीसरे दिन के बाद माना जाता है।

ईस्टर डे कैसे मनाया जाता है?
ईस्टर डे ईसाई समुदाय के लोगों द्वारा खुशी के साथ मनाया जाता है। वे अपने परिवार और मित्रों के साथ मिलकर भोजन करते हैं और विभिन्न रंग-बिरंगे खेल और गतिविधियों में भाग लेते हैं। धार्मिक तौर पर, कुछ लोग चर्च में जाते हैं और ईस्टर सेवाओं का आनंद लेते हैं।

 

RELATED ARTICLES
5 6 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Most Popular